पिंडदानियों ने तीर्थ पुरोहितों के पांव पूजन के साथ शुरू किया 17 दिनी कर्मकांड

Gaya News - पितृपक्ष महासंगम 2019। शुक्रवार को फल्गु तट पर भारत की संस्कृति देखने को मिली। अलग-अलग राज्यों से आए पिंडदानियों ने...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:47 AM IST
Gaya News - pindadanis begin 17 day rituals with foot worship of pilgrimage priests
पितृपक्ष महासंगम 2019। शुक्रवार को फल्गु तट पर भारत की संस्कृति देखने को मिली। अलग-अलग राज्यों से आए पिंडदानियों ने तीर्थ पुरोहितों के पांव पूजन कर 17 दिनी कर्मकांड को शुरू किया। विष्णुपद प्रबंधकारिणी समिति की माने तो गया श्राद्ध के प्रथम दिन करीब 20 हजार पिंडदानी गया पहुंचे, जिन्होंने विष्णुपद, देवघाट, गजाधर घाट व फल्गु तट पर पिंडदान किया। पिंडदान के बाद पिंड को मोक्षदायिनी फल्गु में विसर्जित किया और पितरों की मुक्ति की कामना की। इसके बाद विष्णुपद मंदिर के गर्भगृह में आकर भगवान विष्णु के चरण का दर्शन-पूजन किया। समिति की माने तो इस बार पिंडदानियों की संख्या उम्मीद से काफी कम है। बाढ़, सुखाड़ के कारण पिंडदानी गयाजी में कम आए हैं। आने वाले दिनों में अच्छी भीड़ की संभावना भी व्यक्त की। बता दें कि फल्गु तीर्थ के पवित्र जल में स्नान मार्जन करने से पितरों को विष्णुलोक प्राप्त होता है। इस पवित्र जल के स्पर्श मात्र से पितरों को मोक्ष प्राप्त होता है।

गया श्राद्ध के प्रथम दिन करीब 20 हजार पिंडदानियों ने किया श्राद्ध

देवघाट पर पिंडदान करते पिंडदानी।

772 सीढ़ी तय करने के बाद आज पिंडदानी प्रेतशिला में करेंगे पिंडदान: आचार्य नवीन चंद्र

गया श्राद्ध के दूसरे दिन शनिवार को शहर के पश्चिमोत्तर कोण पर स्थित प्रेतशिला के मूल भाग ब्रह्म कुण्ड में स्नान-तर्पण के बाद श्राद्ध का विधान है। आचार्य नवीन चंद्र मिश्र वैदिक ने बताया कि श्राद्ध के बाद पिण्ड को ब्रह्म कुण्ड में स्थान देकर प्रेत पर्वत पर जाए, जिसकी ऊंचाई लगभग 975 फीट है और 772 सीढ़ी तय कर इस स्थल पर पहुंचा जाता है। यहां श्राद्ध से पितरों को प्रेतयोनि से मुक्ति मिलती है।

स्वास्थ्य जांच शिविर में गया के नामी चिकित्सक देंगे सेवा, नि:शुल्क दवा भी कराई जाएगी उपलब्ध

श्रीमोहन लाल जीरादेई बरनवाल सेवा सदन द्वारा स्वराज्यपूरी रोड में नि:शुल्क होमियोपैथिक चिकित्सा शिविर लगाया गया। उद्घाटन सचिव डॉ. विनोद कुमार बरनवाल व जदयू के पूर्व महानगर अध्यक्ष राजकुमार प्रसाद उर्फ राजू बरनवाल ने किया। कोषाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने कहा कि इस शिविर में गया के नामी चिकित्सक अपनी सेवा देंगे। नि:शुल्क दवा भी उपलब्ध कराई जाएगी। मौके पर संरक्षक पी. सुरेन्द्र, सुरेश प्रसाद, कंचन कुमार, संगीता देवी, शील आर्य, डॉ. बच्चु लाल आदि मौजूद थे।

मथुरा प्रसाद दांगी मेमोरियल ट्रस्ट ने लगाया कैंप

पितृमुक्ति का महापर्व को लेकर मथुरा प्रसाद दांगी मेमोरियल ट्रस्ट द्वारा प्रेतशिला प्रांगण में नि:शुल्क चिकित्सा शिविर लगाया गया। शिविर का उद्घाटन कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार, संरक्षक अरविन्द कुमार वर्मा, जदयू नेता विनोद कुमार ने किया। इस मौके पर सचिव डॉ. दिनेश सिंह, डॉ. रविन्द्र कुमार, डॉ. उज्जवल नारायण, डॉ. विनय कुमार, डॉ. राजीव शुक्ला, डॉ. धीरज कुमार, पवन कुमार मिश्रा, डॉ. दिनेश प्रसाद आदि मौजूद थे।

X
Gaya News - pindadanis begin 17 day rituals with foot worship of pilgrimage priests
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना