--Advertisement--

पुलिस एसोसिएशन के सचिव की कार जुआरियों ने फूंक दी

पुलिस लाइन के अर्द्धनिर्मित महिला बैरक शिवमंदिर के समीप बीती रात को जुए और शराब का दौर चला। इस दौरान विवाद के बाद...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 03:07 AM IST
Gaya - police jurors of the association of the secretary of the association blasted
पुलिस लाइन के अर्द्धनिर्मित महिला बैरक शिवमंदिर के समीप बीती रात को जुए और शराब का दौर चला। इस दौरान विवाद के बाद मारपीट शुरू हो गई। मारपीट के बाद यहां ठिकाना बनाए कुछ पुलिसकर्मियों के रिश्तेदारों ने बिहार पुलिस एसोसिएशन के गया जिला सचिव सत्यवीर सिंह की शेवर्ले स्पार्क कार फूंक दी।

मारपीट की घटना अहले सुबह तीन बजे हुई थी। पुलिस लाईन से किसी सिपाही ने इसकी जानकारी रामपुर पुलिस को दी तो थानाध्यक्ष ने इसकी खबर फायरब्रिगेड को किया। अग्निशमन पदाधिकारी सुनील कुमार गुप्ता ने बताया कि अहले सुबह में सूचना के बाद टीम को भेजा गया। थानाध्यक्ष सुजय विद्यार्थी ने कहा कार में आग लगने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद अग्निशामक दस्ते को पुलिस लाईन भेजा गया था। मामले को लेकर लिखित शिकायत मिलती है तो केस दर्ज कर आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई हो जाएगी। घटना का कारण देर संध्या तक पुलिस को ज्ञात नहीं हो सका है।

आरोप सब इंस्पेक्टर के पुत्र और महिला सिपाही के रिश्तेदार पर

पुलिस एसोसिएशन जिला सचिव ने कहा-सिपाही की कार समझ मेरी कार जलाई

बिहार पुलिस एसोसिएशन के जिला सचिव सत्यवीर सिंह ने बताया कि वे शुक्रवार को एसएसपी से मिलने आए थे। मुलाकात नहीं हो पाई, इसी बीच कार खराब हो गई। मैकेनिक को बुलाया तो उसने समय लगने की बात कही। इसके बाद वे अपनी शेवर्ले कार को पुलिस लाईन शिवमंदिर के समीप खड़ा करके चले गए। इसी बीच कार में आग लगा दिए जाने की खबर मिली। सत्यवीर सिंह ने बताया कि शनिवार की सुबह घटना की जानकारी के बाद पुलिस लाईन आए तो सिपाही सिपाही हरेन्द्र साह, कुन्दन सिंह ने मामले की जानकारी दी। सिपाही हरेन्द्र ने बताया है कि एक महिला सिपाही के रिश्तेदार गोलू कुमार तथा मुजफ्फरपुर में पोस्टेड सब इंस्पेक्टर का पुत्र सानू कुमार के साथ उसका विवाद हुआ था। विवाद का कारण यह था कि उक्त दोनों पर शराब पीने का शक जताया गया था। इसके बाद उक्त लोगों ने मारपीट शुरू कर दी। हरेन्द्र साह ने बताया है कि मेरी कार समझकर आग लगाई गई। सूत्रों के मुताबिक शराब के नशे में जुएबाजी के बीच मारपीट की घटना हुई।

समझौता नहीं हुआ तो केस के लिए दिया आवेदन

कार को फूंके जाने के मामले को लेकर दिन भर समझौते का प्रयास चलता रहा। 1.60 हजार रुपए राशि अनुमानित क्षति के तौर पर बताई गई। दोनों में से एक पक्ष आधी राशि देने को तो राजी हो गया, किंतु एक पक्ष साफ मुकर गया। इसके बाद सत्यवीर सिंह ने केस दर्ज करने के लिए रामपुर थाना में लिखित शिकायत की है। गोलू और सानू के खिलाफ शिकायत की गई है।

पुलिस लाइन डीएसपी व मेजर से एसएसपी ने किया शोकॉज

एसएसपी राजीव मिश्रा ने शनिवार शाम घटनास्थल पर पहुंचे। पुलिस लाईन डीएसपी और सार्जेन्ट मेजर की चुप्पी पर उन्होंने हैरत जताई। एसएसपी ने पुलिस लाइन डीएसपी मो. शब्बीर हसन और सार्जेंट मेजर महेश प्रसाद सिंह को शो कॉज किया है। साथ ही तुरंत शनिवार को ही इस घटनाक्रम को लेकर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया गया। अब इस पूरे प्रकरण की जांच एएसपी संजय कुमार भारती करेंगे। पुलिस लाइन के अर्द्धनिर्मित महिला बैरक शिवमंदिर के समीप अरसे से जुआरियों ने अपना अड्डा बना रखा है। इसमें पुलिस वाले भी अपना भाग्य आजमाते हैं। पूर्व में रामपुर थाना की पुलिस ने यहां छापेमारी कर चुकी है।

X
Gaya - police jurors of the association of the secretary of the association blasted
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..