स्कूल उड़ाने के दौरान नक्सली दस्ते ने रोकी थी ग्रामीणों की आवाजाही

Gaya News - बांकेबाजार प्रखंड के सोनदाहा गांव स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के दो मंजिले भवन को हथियारबंद नक्सलियों ने...

Feb 20, 2020, 07:41 AM IST
Gaya News - the naxalite squad stopped the movement of the villagers while flying the school

बांकेबाजार प्रखंड के सोनदाहा गांव स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के दो मंजिले भवन को हथियारबंद नक्सलियों ने मंगलवार की रात को डायनामाइट लगाकर उड़ा दिया था। इस तरह की घटना को नक्सली पूर्व में भी अंजाम दे चुके हैं। बताया जा रहा कि मंगलवार की रात को माओवादियों का हथियारबंद दस्ता चालीस से पचास की संख्या में पहुंचा था। गांव में पहुंचते ही नक्सलियों ने ग्रामीणों के आने-जाने पर रोक लगा दी थी। इसके बाद करीब नौ बजे माओवादियों ने डायनामाइट लगाकर विद्यालय को उड़ाया। विस्फोट से विद्यालय के आधे भवन गिर गए। धमाका काफी जोरदार था, जिससे पूरा इलाका दहल गया था। वहीं दक्षिण दिशा से आए नक्सली घटना को अंजाम देकर उसी दिशा में लौट गए। नक्सली घटना की जानकारी के बाद सीआरपीएफ 153 बटालियन के कैम्प के जवान पहुंचे, माओवादियों के खिलाफ अभियान चलाया गया है।

दो साल से इस स्कूल में था 153 बटालियन का कैम्प, पहले भी बनाया है निशाना: बता दें कि इस विद्यालय में दो साल से से सीआरपीएफ 153 बटालियन का कैम्प था। बाद में सीआरपीएफ का अपना कैम्प यहां से कुछ दूरी पर बना तो विद्यालय से अपने भवन में शिफ्ट कर दिया गया था। बीते 6 फरवरी को विद्यालय से कैम्प हटा और मौका देख नक्सलियों ने इस तरह की घटना कर दी। इस विद्यालय में 18 मार्च 2018 को नक्सलियों ने विद्यालय में रखे डेकोरेशन और बिछावन एवं जेनरेटर को आग के हवाले कर दिया था। ग्रामीणों ने बताया कि 28 नवम्बर 2009 की रात में माओवादियों ने पहली बार इस स्कूल को निशाना बनाया था और तब इसे डायनामाइट लगाकर उड़ा दिया गया था, लेकिन विस्फोट से स्कूल के भवनों में सिर्फ दरारें आई थी।

भाजपा नेताओं को जन अदालत में सजा देने की भी लिखी गई बात

बांकेबाजार| नक्सलियों ने स्थल पर पर्चा छोड़ा है। पर्चे में कई बातें लिखी हैं, जिसमें कहा गया है कि विद्यालय पढ़ने के लिए बनाए जाते हैं, न कि कैम्प के लिए। भाजपा-आरएसएस और राज्य सरकार के संबंध में विरोधी बातें लिखी गई है। साथ ही नक्सली पर्चे में सीएए-एनआरसी का भी विरोध जताया गया है। वहीं भाजपा नेताओं को जनअदालत में सजा देने की भी बात भी लिखी है। नक्सलियों की इस प्रकार की घटना से इलाके में दहशत का माहौल कायम हो गया है। वहीं सुरक्षाबलों की टीम नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन चला रही है। किसी नक्सली की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।


हार्डकोर महिला नक्सली की गिरफ्तारी के बाद बौखलाहट नक्सली

इस घटना के संबंध में माना जा रहा है कि बीते दिनों गया शहर से हार्डकोर महिला नक्सली कलावती देवी की गिरफ्तारी के बाद बौखलाहट में माओवादियों ने इस घटना को अंजाम दिया है। बता दें कि गया शहर से उक्त महिला नक्सली की गिरफ्तारी की गई थी। वह सीएए के खिलाफ जुलूस में शामिल होने के दौरान पकड़ी गई थी। इनामी माओवादी संदीप के कहने पर वह गया आई थी और साथ में 50 और लोगों को लाया गया था।

माओवादियों के छोड़े पोस्टर में सीसीए-एनआरसी का विरोध


बौखलाकर की गई इस तरह की घटना : सिटी एसपी


नक्सलियों द्वारा छोड़ा गया पर्चा।

नक्सलियों द्वारा डायनामाइट लगाकर उड़ाए गए स्कूल की जर्जर हालत।

Gaya News - the naxalite squad stopped the movement of the villagers while flying the school
X
Gaya News - the naxalite squad stopped the movement of the villagers while flying the school
Gaya News - the naxalite squad stopped the movement of the villagers while flying the school

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना