आज होगी अमृत की वर्षा, सीताकुंड में पहली बार फल्गु महाआरती

Gaya News - शरद पूर्णिमा आज “रविवार’ को है। इस दिन आसमान से अमृत की वर्षा होगी। पूरे साल में केवल इसी दिन चंद्रमा 16 कलाओं से...

Oct 13, 2019, 07:30 AM IST
शरद पूर्णिमा आज “रविवार’ को है। इस दिन आसमान से अमृत की वर्षा होगी। पूरे साल में केवल इसी दिन चंद्रमा 16 कलाओं से परिपूर्ण होता है। आचार्य नवीन चंद्र मिश्र वैदिक ने बताया कि पूर्णिमा का चंद्रमा 13 अक्टूबर को ही होगा। स्नान-दान व व्रत की प्रक्रिया भी इसी दिन होगी। उन्होंने बताया कि खाजा-दूध के साथ सफेद वस्तु श्रद्धालु भगवान श्रीकृष्ण को अर्पण कर उसे ग्रहण करें। रात में माता लक्ष्मी के साथ इन्द्र व कुबेर की आराधना करना सर्वोत्तम होगा। उन्होंने बताया कि शरद पूर्णिमा को ही भगवान श्रीकृष्ण ने रास रचाकर कामदेव पर विजय प्राप्त कर मान बढ़ाया था। इधर, 13 अक्टूबर से कार्तिक स्नान नियम शुरू हो जाएगा। इधर, शरद पूर्णिमा को लेकर रमना रोड, कोईरीबारी व टिकारी रोड की दुकानें खाजा से सज गई है। दुकानदार की माने तो इस बार चीनी मिश्रित खाजा 160 रुपए और सादा व नमकीन खाजा 180 रुपए किलो बिक रहा है। ऐसी मान्यता है कि शरद पूर्णिमा की रात में चन्द्रमा से अमृत की वर्षा होती है। लोग इस दिन बर्तनों में दूध और खाजा चन्द्रमा की रोशनी में रखते है और अगले या उसी दिन प्रसाद के रूप में ग्रहण करते है।

शरद पूर्णिमा को लेकर सजा खाजा का बाजार, चीनी मिश्रित 160 तो सादा व नमकीन खाजा 180 रुपए प्रति किलो बिक रहा बाजार में

शरद पूर्णिमा को लेकर सज गया खाजा बाजार।

शरद पूर्णिमा पर सीताकुंड में फल्गु महाआरती : शरद पूर्णिमा पर रविवार की शाम फल्गु महाआरती का आयोजन किया जाएगा। पहली बार सीताकुंड घाट में महाआरती का आनंद श्रद्धालु उठाएगें। प्रतिज्ञा के संस्थापक बृजनंदन पाठक ने बताया कि पांच निपुण पंडितों द्वारा कलात्मक रूप से फल्गु महाआरती की जाएगी। संध्या 06:30 बजे से महाआरती शुरू होगी। उन्होंने बताया कि अब पर्यटन के दृष्टिकोण से सीताकुंड की महिमा बढ़ गई है। महाआरती को लेकर विशेष साफ-सफाई भी की गई है।

श्रीसालासर बालाजी मंदिर में अखंड कीर्तन

शहीद रोड स्थित श्री सालासर बालाजी मंदिर में शरद पूर्णिमा पर अखंड रामायण पाठ का आयोजन किया जाएगा। इसकी जानकारी श्री सालासर बालाजी मंदिर के महेन्द्र मोर व प्रवीण मोर ने दी। उन्होंने बताया कि संध्या में श्रीसालासर बालाजी का विशेष शृंगार व पूजा अर्चना होगा, साथ ही श्रद्धालुओं के बीच खाजा और दूध का वितरण किया जाएगा।

20वां कौमुदी महोत्सव आज, लोकनृत्य की होगी प्रस्तुति

शहर के आजाद पार्क में रविवार की शाम 07:00 बजे 20 वां कौमुदी महोत्सव का आयोजन होगा। उत्सव संयोजक सुरेन्द्र सिंह “सुरेन्द्र” व सहयोगी अरुण हरलीवाल ने बताया कि इस दिन रात भर लोककला व लोकनृत्य की प्रस्तुति कलाकार देंगे। चंद्रमा गीत से इसका उद्घाटन होगा, साथ ही रंगकर्मी पद्मा मिश्र को दशरथ मांझी लोक सम्मान से नवाजा जाएगा। इन्होंने बताया कि पंडित गोवर्धन मिश्र की स्मृति में मंच समर्पित होगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना