• Hindi News
  • Bihar
  • Gaya
  • Gaya News ward councilors under the leadership of the vice president expressed the opportunity to vote again in favor of trust

उपाध्यक्ष के नेतृत्व में वार्ड पार्षदों ने जताया भरोसा पक्ष में वोट कर दोबारा काम करने का दिया मौका

Gaya News - नगर पंचायत बोधगया के 19 वार्ड पार्षदों में 11 पार्षद अनुपस्थित रह कर उपाध्यक्ष के पद पर बने रहने का रास्ता आसान कर...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 07:42 AM IST
Gaya News - ward councilors under the leadership of the vice president expressed the opportunity to vote again in favor of trust
नगर पंचायत बोधगया के 19 वार्ड पार्षदों में 11 पार्षद अनुपस्थित रह कर उपाध्यक्ष के पद पर बने रहने का रास्ता आसान कर दिया। शुक्रवार को उपाध्यक्ष मनोरमा देवी के विरुद्ध अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के बाद मतदान होना था, लेकिन जिन 14 पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव को लाया था, उसमें से 11 बैठक से गायब रहकर रास्ता को आसान बना दिया। शुक्रवार को चर्चा के बाद नगर पंचायत बोधगया की उपाध्यक्ष मनोरमा देवी पर लगे अविश्वास प्रस्ताव के आलोक में नगर पंचायत के सभागार में मतदान करवाया गया। मनोरमा देवी के पक्ष में 7 वार्ड पार्षदों ने वोट डाले। एक वोट उपाध्यक्ष का खुद का था। इस तरह उपाध्यक्ष की कुर्सी बच गई। इसके पहले वार्ड पार्षदों ने कार्यपालक पदाधिकारी शशिभूषण प्रसाद की उपस्थिति में अपने-अपने पक्ष रखे। वार्ड पार्षदों ने नगर के विकास के लिए उपाध्यक्ष को एक मौका देने की बात को सही ठहराया और उन्हें विकास कार्य करने के लिए दूसरा मौका दिया। बैठक में कुमारी प्रिया, ललिता देवी, सुमीरा गुप्ता, मुन्नी यादव, रामसेवक सिंह व चंदेश्वर यादव उपस्थित थे। इस मौके पर दंडाधिकारी के रुप में मानपुर के बीडीओ अभय कुमार उपस्थित थे, जबकि सुरक्षा का कमान बोधगया थानाध्यक्ष मोहन प्रसाद सिंह ने संभाल रखा था। बैठक में वार्ड पार्षदों, अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष द्वारा बहस और अपने पक्ष में दिए गए दलीलों को बाद वोटिंग प्रक्रिया अपनाई गई। नपं के ईओ ने बताया कि उपाध्यक्ष के विरुद्ध 14 वार्ड पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव लाया था, जिसमें 19 वार्ड पार्षद में 8 वार्ड पार्षद बैठक में उपस्थित हुए। अविश्वास प्रस्ताव लाने के पहले चर्चा किया गया। चर्चा के दौरान उपाध्यक्षा के द्वारा अविश्वास प्रस्ताव पर सफाई दी गई, जिसके बाद उप मतदान किया गया।

नगर पंचायत में अविश्वास प्रस्ताव पर बैठक।

आठ पार्षदों ने विरोध में किया मदतान

इस दौरान आठ वार्ड पार्षदों ने अविश्वास प्रस्ताव के विरोध में अपना मत का प्रयोग किया। अविश्वास प्रस्ताव को पारित करने के लिए पूरे सदन के साधारण बहुमत के आधा से एक ज्यादा की आवश्यकता होती है, से कम थी। नियम के अनुसार एक साल के अंदर उपाध्यक्ष के विरुद्ध कोई अविश्वास प्रस्ताव नहीं आ सकता है।

X
Gaya News - ward councilors under the leadership of the vice president expressed the opportunity to vote again in favor of trust
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना