• Hindi News
  • Rajya
  • Bihar
  • Gopalganj
  • Gopalganj News market appears on the road in the festive season there is no vending zone in the city with a population of 75 thousand

त्योहारी सीजन में सड़क पर लगता है बाजार, 75 हजार की आबादी वाले शहर में वेंडिंग जोन नहीं

Gopalganj News - गोपालगंज शहर। आबादी 75 हजार। चलने के लिए फुटपाथ तक खाली नही। वेंडिंग जोन के लिए जगह नही है। बाजार लगता है सड़क पर। .......

Bhaskar News Network

Oct 22, 2019, 07:26 AM IST
Gopalganj News - market appears on the road in the festive season there is no vending zone in the city with a population of 75 thousand
गोपालगंज शहर। आबादी 75 हजार। चलने के लिए फुटपाथ तक खाली नही। वेंडिंग जोन के लिए जगह नही है। बाजार लगता है सड़क पर। .... और सपना, मॉडल टाउन का। जी हां, यह तस्वीर जिला मुख्यालय की है। विकास की ओर तेजी से बढ़ रहे शहर में ट्रैफिक को कंट्रोल करना एक बड़ी समस्या है। शहर में वेडिंग जाेन नहीं होने से त्योहारी सीजन में फुटकर दुकानदार सड़कों पर कब्जा कर दुकान लगा रहे हैं।

जिले का इकलौता बड़ा शहर होने के कारण त्योहारों की खरीददारी करने के लिए बाहर से हर रोज 2 से 3 लाख लोग शहर में आ रहे हैं। जिससे शहर की सड़कों पर लोड बढ़ने से जाम लग रहा है। नगर परिषद जाम से छुटकारा दिलाने के लिए अतिक्रमण के खिलाफ दिखावे का अभियान चलाता है। वर्ष 2011 से अप्रैल 2018 के बीच पांच बार बलपूर्वक अतिक्रमण हटाया गया, लेकिन हालात जस की तस है। इसका कारण वेंडिंग जोन का अभाव है। दुकानदारों को जगह देने के लिए नगर परिषद के पास जगह नहीं है और दुकानदारों के पास दूसरा कोई चारा नही है। नतीजतन नगर परिषद अभियान के नाम पर जहां दिखावा कर रहा है वहीं दुकानदार जुर्माना भरने के बाद भी अड़ियल बने हैं।

जिले का इकलौता शहर जहां हर रोज देहाती इलाके से 2 से 3 लाख लोग आते हैं खरीददारी करने

शहर के फुटपाथ पर सजी दुकान

ट्रैफिक व्यवस्था लचर है

शहर में ट्रैफिक व्यवस्था लचर है। ट्रैफिक कंट्रोल के लिए तैनात पुलिसकर्मी भी मौके पर तैनात नहीं रहते। इस कारण जाम की स्थिति और विकराल हो जाती है। स्कूल और ऑफिस जाने वाले लोगों को रोज इस परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। राहगीर घंटों जाम में फंसकर वाहनों से निकलने वाले धुएं से बीमारियों के शिकार हो रहे हैं।

फुटपाथी दुकानदारों से होती है मारपीट

शहर में जाम का कारण फुटपाथी दुकानदार बने हैं। सुबह होते ही सड़क के किनारे अपनी दुकानें सजा देते हैं। इस दुकानदारों प्रशासन का खौफ नहीं है। लोगों होने वाली परेशानियों से भी इन्हें कुछ लेना-देना नहीं है। जाम लगने पर उलटे राहगिरों से उलझ भी जाते हैं।

जल्द बनेगा वंेडिंग जोन

नगर परिषद के अध्यक्ष हरेन्द्र कुमार चाैधरी ने बताया कि वेडिंग जोन जल्द ही बनेगा। इसकी मंजूरी मिल गई है। शहर से लोड कर करने और जाम निजात पाने के लिए पहले वेंडरों को जगह मिलेगी तभी सड़क अस्तीत्व में आएगा। इसके लिए प्रयास किया जा रहा है।

इनका यहां है कब्जा

पोस्ट आॅफिस चौक से मौनियां चौक तक बुकसेलर और फुटपाथी कपड़े के दुकानदारों का कब्जा है। मौनिया चौक से नगर थाना तक सब्जी बिक्रेता और घरेलू आईटम के छोटे दुकानदारों का कब्जा है। पोस्ट ऑफिस चौक से आंबेडकर चौक तक फल और कपड़े के वेंडरों का कब्जा है। स्अेशन रोड में ठेला-खोमचा वाले और अस्पताल रोड में फूड वेंडर सड़क अतिक्रमित किए हुए हैँ। सभी सड़कों पर अस्थाई दुकानें सजी हुई हैं।

नगर परिषद कार्रवाई से पहले व्यवस्था करे

एग्रीमेंट पर स्थायी दुकान चला रहे कई व्यवसायियों ने बताया कि उनकी मजबूरी है कि वे अपनी दुकान के आगे से फुटपाथी दुकानदारों को हटा भी नहीं सकते हैं। व्यवसायी अर्जून प्रसाद, बिनोद कुशवाहा, कृष्णा प्रसाद ने बताया कि शहर में वेडिंग जोन नहीं है। जिसके कारण सब्जी बेचने वाले बड़ी संख्या में सड़क किनारे दुकान खोल कर बैठ जाते हैं। साल में एक-दो बार अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई होती है। कार्रवाई खत्म होने के बाद फिर से दुकानें लग जाती हैं।

आबादी बढ़ी, सुविधा नहीं

एक दशक में शहर की आबादी तेजी से बढ़ी है। वर्ष 2000 में 40 हजार की आबादी वाले इस शहर की जनसंख्या बढ़ कर 75 हजार हो गई है। आबादी बढ़ने से शहर पर लोड बढ़ा है लेकिन नगर परिषद का आय भी बढ़ा है। बावजूद शहर में सुविधाएं कम पड़ने लगी है। नगर परिषद की आमदनी आैर आबादी के अनुपात में शहर में संसाधनों का विकास नहीं हुआ है।

X
Gopalganj News - market appears on the road in the festive season there is no vending zone in the city with a population of 75 thousand
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना