विश्व हाईपरटेंशन दिवस आज,”नो योर नम्बर्स’ होगी थीम,तनावमुक्त जीवन शैली है मददगार

Gopalganj News - तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से इजाफ़ा हुआ है। हाइपरटेंशन यानि उच्च...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:41 AM IST
Gopalganj News - world hypertension day today quotno your numbersquot will be theme stress free lifestyle is helpful
तेजी से बदलते जीवनशैली से हाइपरटेंशन से ग्रसित होने वाले लोगों में तेजी से इजाफ़ा हुआ है। हाइपरटेंशन यानि उच्च रक्तचाप से बचाव के लिए प्रत्येक वर्ष 17 मई को विश्व हाइपरटेंशन दिवस मनाया जाता है। इसे सामान्य भाषा में उच्च रक्तचाप भी कहा जाता है। यह दो प्रकार का होता है। पहला एस्सेनशिअल हाइपरटेंशन जो मूलतः अनुवांशिक, अधिक उम्र होने पर,अत्यधिक नमक का सेवन तथा लचर एवं लापरवाह जीवनशैली के कारण होता है। दूसरा सेकेंडरी हाइपरटेंशन जो उच्च रक्तचाप का सीधा कारण चिन्हित हो जाये उस स्थिति को सेकेंडरी हाइपरटेंशन कहते हैं। यह गुर्दा रोग के मरीजों तथा गर्भ निरोधक गोलियों का सेवन करने वाली महिलाओं में अधिक देखा जाता है।

हाईपरटेंशन के क्या हंै कारण|जिले के सिविल सर्जन डाॅ.नन्द किशोर प्रसाद सिंह बताते हैं कि नियमपूर्वक व्यायाम करना,चिकित्सक द्वारा बताई गयी दवाओं का नियमित सेवन तथा तनाव घटाने हेतु योग क्रिया हाइपरटेंशन को दूर करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करते हैं। विशेषज्ञों का मानना है की अधिकतर हाइपरटेंशन के रोगियों को मालूम भी नहीं रहता की वो इससे ग्रसित हैं तथा इसके लक्षणों को नजरंदाज करते हैंद्धइसे अनदेखा करने वाले मरीजों को गंभीर बीमारियों जैसे हृदयघात,मस्तिष्कघात, लकवा,ह्रदय रोग,किडनी का काम करना बंद हो जाना जैसी स्थिति का सामना करना पड़ता है। तनावग्रस्त जीवनशैली हाइपरटेंशन के प्रमुख कारणों में से एक है. इसके अलावा धूम्रपान करना, मोटापा,अत्यधिक शराब का सेवन,अच्छी नींद का ना लेना,चिंता,अवसाद,भोजन में नमक का अधिक प्रयोग,गंभीर गुर्दा रोग,परिवार में उच्च रक्तचाप का इतिहास एवं थायराइड की समस्या हाइपरटेंशन का कारण हो सकता है।

यह लक्ष्ण दिखाई दंे तो हो जाएं सावधान








क्या कहते हैं आंकड़े

राष्ट्रीय परिवार स्वास्थ्य सर्वेक्षण 4 के अनुसार जिले में 1.9 प्रतिशत पुरुष गंभीर हाइपरटेंशन से ग्रसित हैं। 4.0 प्रतिशत पुरुष सामान्य हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं. महिलाओं में यह प्रतिशत कम है। जिले की 1.2 फीसदी महिलाएं गंभीर हाइपरटेंशन से एवं 0.9 प्रतिशत महिलाएं सामान्य हाइपरटेंशन से पीड़ित हैं।

X
Gopalganj News - world hypertension day today quotno your numbersquot will be theme stress free lifestyle is helpful
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना