पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

युवाओं के मोबाइल पर जाएगा बेरोजगारी भत्ता का मैसेज

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता योजना में इंटर पास बेरोजगार युवक व युवती को मिलने वाले बेरोजगारी भत्ता के मैसेज करने के लिए विभाग ने एक नई पहल की है। जिससे लाभुक आसानी से री कन्फर्मेशन मैसेज भेज सकेगें। इसके लिए विभाग ने पूरी तरह प्रकिया को सरल बना दिया हैं। जिससे लाभुकों को प्रत्येक माह मैसेज भेजने में सहुलियत होगी। वही लाभुकों को अब मैसेज में रजिस्ट्रेशन आईडी लिखने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जबकि पहले सात अंको का रजिस्ट्रेशन नंबर लिखने पड़ते थे। जिससे लाभुकों को प्रतिमाह मैसेज करने में काफी परेशानी होती है। वहीं नई नियम में लाभुकों को मुख्यमंत्री निश्चय स्वयं सहायता भत्ता योजना के पोर्टल पर नंबर को रजिस्टर्ड कराना होगा।

डीआरसीसी कार्यालय आवेदन करते युवक व युवती।

लाभ लेने के लिए मोबाइल नंबर व बैंक खाता को आधार से रजिस्टर्ड करना है अनिवार्य

डीआरसीसी प्रबंधक रौशन आरा ने बताया कि अब तक जिला में 16 हजार 223 लाभुकों ने फर्म अप्लाई किया है। जिसमें अब तक 13 करोड़ 57 लाख 51 हजार रुपए बेरोजगारी भत्ता के रूप में दिया गया है। वहीं विभाग के राज्य सचिव ने आदेश जारी कर री कन्फर्मेशन मैसेज नहीं भेजने वाले लाभार्थियों का भौतिक सत्यापन की सूची प्रतिमाह उपलब्ध कराने का आदेश मिला है।

बेरोजगार का मैसेज भेजने पर ही मिलेगा अगला भत्ता

बेरोजगारी भत्ता योजना का लाभ लेने के लिए पूर्व जटिल प्रक्रिया से निजात दिलाने को लेकर विभाग ने नई प्रकिया शुरू की है। बता दें कि लाभुकों को प्रत्येक माह यह मैसेज करना होता है कि अभी वह बेरोजगार है तभी दूसरे माह का भत्ता मिलता है। जिसके लाभुक अब आसानी से मैसेज भेज सकेंगे। इसके लिए लाभुक को रजिस्टर्ड मोबाइल नम्बर से 9223166166 पर री कन्फर्मेशन मैसेज भेज सकते है। इसके लिए बीएच स्पेस एसएचए स्पेस वाई या बंद कराने के लिए एन का मैसेज भेज सकते है।

इंटर पास 20-25 वर्षीय बेरोजगारों को ही मिलेगा लाभ

मुख्यमंत्री स्वयं सहायता भत्ता योजना के लाभ इंटर पास बेरोजगार 20 से 25 वर्षीय लाभुकों को दिया जाना है। जिसके लिए डीआरसीसी को व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार अभियान चलाने का निर्देश दिया गया है। साथ ही भत्ता लेने वाले लाभार्थियों की मोबाइल नंबर रजिस्‍टर्ड कराना एवं प्रतिमाह री कन्फर्मेशन मैसेज भेजना अनिवार्य किया गया है। मैसेज नहीं भेजने वाले लाभुकों को अगले माह का भत्ता नहीं दिया जाएगा। राजीव रौशन डीएम वैशाली।

खबरें और भी हैं...