• Hindi News
  • Bihar
  • Jamui
  • Jamui News encroachment in the city leads to traffic one hour jam 15 feet road becomes only 8 feet

शहर में अतिक्रमण से राेज-राेज लगता है एक घंटे जाम, 15 फीट की सड़क हो जाती है मात्र 8 फीट

Jamui News - महराजगंज बाजार में जनक सिंह मार्केट के सामने लगी जाम। प्रशासन की ठोस पहल नहीं होने से लोग है परेशान भास्कर...

Nov 11, 2019, 07:46 AM IST
महराजगंज बाजार में जनक सिंह मार्केट के सामने लगी जाम।

प्रशासन की ठोस पहल नहीं होने से लोग है परेशान

भास्कर न्यूज| जमुई

जमुई शहर में अतिक्रमण लगातार बढ़ते जा रहा है। जिससे राेज-राेज जाम लग रहा है। जिससे अाॅफिस से स्कूल जाने में लाेगाें काे समय पर पहुंचने के लिए जद्दाेजहद करना पड़ता है। सबसे चिंताजनक स्थिति तब हाेती है जब जाम में घंटाें एंबुलेंस फंस जाते हैं।

शहर के कचहरी चौक से महाराजगंज बाजार, महाराजगंज से महिसौड़ी बाजार, महिसौड़ी चौक, गांधी पुस्तकालय के पास, खैरा मोड़ के पास, बोधवन तालाब चौक पर हर करीब एक घंटे जाम लगता है। कचहरी चौक से महाराजगंज बाजार जाने के क्रम में यदि आमने-सामने से छोटी कार भी प्रवेश कर गई तो घंटाें का जाम लग जाता है। जाम से पैदल चलने वालों का भी निकल पाना मुश्किल हो जाता है। 9 बजते ही लोग सड़कों पर कब्जा कर लेते हैं जिससे 25 फीट की सड़क 8 फीट संकरी हो जाती है।

ऑटो चालकों की मनमानी से जाम: जमुई शहर पूरी तरह अतिक्रमण की चपेट में है। कचहरी चौक पर ऑटो चालकों का अतिक्रमण। जबकि कचहरी चौक से महाराजगंज बाजार जाने के रास्ते में सड़क किनारे फुटपाथी दुकानदार व ठेला चालकों का आतिक्रमण, इन सब के बीच बाजार में चारपहिया वाहनों का प्रवेश जाम का कारण बन रहा है। फुटकर दुकानदारों की दुकानें सड़क किनारे सजे रहने के कारण बाईक या चारपहिया वाहन से बाजार आने वाले लोग दुकान में खरीदारी करने जाते हैं तो उनकी गाड़ियां मजबूरन सड़क किनारे ही खड़ी रहती है। बाजार में कहीं भी वाहन पार्किंग की व्यवस्था नहीं है। ऐसी परिस्थिति में संकरी सड़क सिकुड़ कर आधी ही रह जाती है। वहीं सामने से यदि यहां कोई दूसरा वाहन आ जाए तो दोनों वाहनों को निकलने में लम्बा समय लग जाता है।

सड़क किनारे लगी दुकानों से संकरी हुई बाजार की सड़कें

दिन के 12 बजे

वन वे ट्रैफिक की व्यवस्था नहीं होने के कारण हो रहा भारी वाहनों का प्रवेश

सुदूर इलाके से शहर में आने वाले लोगों को जाम से निजात दिलाने के लिए करीब एक वर्ष पूर्व तत्कालीन नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी अरविंद कुमार पासवान एवं तत्कालीन डीएम डॉ. कौशल किशोर ने मुख्य बाजार में चारपहिया वाहन के प्रवेश पर रोक लगाई गई थी। लेकिन समुचित व्यवस्था के बिना इस नियम को महज एक नो इंट्री का बोर्ड लगाकर चालू कर दिया गया जिस कारण शहर में वन-वे-ट्रैफिक व्यवस्था नहीं लागू हो सकी। वहीं शहर से हटाया गया अतिक्रमण भी कार्रवाई के दो से तीन दिन बाद दोबारा अपने स्थान पर लग गई। जिस कारण शहर में हर रोज लोगों काे जाम की समस्याओं से जूझना पड़ रहा है।

शाम होते ही सड़क खाली होकर चौड़ी हो जाती है

शाम 7 बजे

रविवार की शाम 7 बजे महराजगंज स्थित जनक सिंह मार्केट के समीप का नजारा।

दुर्गा पूजा खत्म होते ही अतिक्रमण हटाए जाने की कही थी बात, पर कार्रवाई नहीं हुई

शहर को जाम से निजात दिलाने के लिए दुर्गा पूजा खत्म होते ही अभियान चलाकर शहर से अतिक्रमण हटाए जाने की बात डीएम धर्मेंद्र कुमार एवं नगर परिषद के कार्यपालक पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद वर्मा ने कहा था कि जाम से निजात दिलाने के लिए एक बार फिर से अतिक्रमण हटाने का कार्य शुरू किया जाएगा। पिछले दिनों अतिक्रमण हटाने के बाद दोबारा जिन दुकानदारों ने अतिक्रमण किया है उनसे जुर्माना भी वसूला जाएगा। लेकिन दुर्गा पूजा के बाद दीपावली और छठ पर्व भी खत्म हो गया लेकिन शहर को अतिक्रमण की चपेट से मुक्त नहीं कराया जा सका है।

बदलनी होगी मानसिकता: कार्यपालक पदाधिकारी

कार्यपालक पदाधिकारी जनार्दन प्रसाद वर्मा बताते हैं कि वरीय अधिकारी से बात कर शहर से अतिक्रमण हटाने का शिड्यूल तैयार किया जाएगा और अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया जाएगा। लेकिन इन सब से बड़ी बात है कि लोगों को अपनी मानसिकता बदलनी होगी। दुकानदारों को समझना चाहिए कि उनके इस कार्य से सड़क पर चलने वाले लोगों को कितनी परेशानी होती है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना