पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

माध्यमिक शिक्षकों को 20% की बढ़ोतरी मंजूर नहीं: नवीन

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

माध्यमिक शिक्षकों की हड़ताल शनिवार को 12 वें दिन भी जारी रहा। संघ कार्यालय में धरना में सोनो, बरहट व जमुई के शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भाग लिया। धरना की अध्यक्षता सोनो प्रखंड सचिव नवीन कुमार ने की। उन्होंने कहा कि मैट्रिक का मूल्यांकन का कार्य प्रभावित है। सभी शिक्षक एकजूट होकर अपनी चट्टानी एकता को बनाए हैं। सरकार जब तक हमारी मांगों को मान नहीं लेती है, तब तक मैट्रिक के साथ-साथ इंटर का मूल्यांकन का कार्य प्रभावित रखेंगे। इसके लिए सरकार पूरी तरह से जबावदेही है।

बरहट प्रखंड सचिव सलीम अंसारी ने कहा कि सरकार शिक्षकों को 20 प्रतिशत बढ़ोतरी की बात कर रही है। उन्होंने कहा कि यह हमें कतई मंजूर नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार यथाशीघ्र सातवें वेतनमान के अनुसार लेवल-7 और लेवल-8 का वेतन दे अन्यथा यह आंदोलन अनवरत जारी रहेगा। संयुक्त सचिव मदन ने कहा कि यह हड़ताल शिक्षकों के मान-सम्मान व अस्मिता की लड़ाई है। समाज में शिक्षकों की प्रतिष्ठा वापस लाने के लिए हड़ताल किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार को चाहिए कि शीघ्र शिक्षक संघ से वार्ता कर शिक्षकों की समस्याओं को दूर करे। मौके पर मुकेश कुमार, विनय झा, रविकांत, संजीत, प्रिय प्रभास, मीणा कुमारी, विवेकानंद, अल्का भारती, वरुण, मनीष पांडेय आदि
मौजूद थे।

हड़ताल के 20 वें दिन भी बीआरसी पर डटे रहे नियोजित शिक्षक


चकाई | बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के तत्वावधान में पूरे राज्य में जारी शिक्षकों के हड़ताल के 20वें दिन शनिवार को बीआरसी में उपाध्यक्ष सुरेश चंद्र यादव की अध्यक्षता में शिक्षक धरना पर डटे रहे। धरना प्रदर्शन को सं‍बोधित करते हुए जिला महासचिव जय प्रकाश पासवान ने कहा कि शिक्षकों के वेतन में 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी नहीं बल्कि समान वेतन और समान सेवाशर्त की घोषणा की आवश्यकता है।अगर सरकार अविलंब शिक्षकों के वाज़िब मांग पूर्ण वेतनमान की घोषणा नहीं करती है तो आंदोलन को तेज करते हुए इस होली के होलिकादहन के दिन आगामी 9 मार्च को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, शिक्षा मंत्री कृष्णनंदन वर्मा और शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन का पुतला दहन प्रत्येक प्रखंड मुख्यालय में किया जाएगा। हड़ताली शिक्षकों का समर्थन करते हुए भाकपा माले के प्रखंड सचिव मनोज कुमार पांडेय ने कहा कि सरकार को अविलंब शिक्षकों के वाजिब मांग को पूरा करना चाहिए।मौके पर कासिम अंसारी,दामोदर यादव, नरेश यादव,इम्तियाज़ आलम, मो.सिराजुद्दीन, तुलसी पासवान, मो. मोहसिन रजा, महेश मिश्रा,महेंद्र राय, कौशल राय, वासुदेव ठाकुर, सुधीर ठाकुर, वारिक अंसारी,दिलीप कुमार, सुमन, रिंकी कुमारी,नगमा रानी,अंशु कुमारी,पवन पाठक,राधेश्याम साह,सुष्मिता स्वाति ,पिंकू रावत,मीरा कुमारी,पूनम कुमारी,अंजनी कुमारी,सहित सैकड़ो शिक्षक उपस्थित थे।

माध्यमिक शिक्षकों की हड़ताल 12वें दिन भी जारी रही

चकाई बीआरसी पर धरना देते शिक्षक।
खबरें और भी हैं...