पीओ व रोजगार सेवक के बीच जमकर मारपीट, कार्यालय अखाड़ा में तब्दील

Jehanabad News - सदर प्रखंड का मनरेगा कार्यालय भवन सोमवार की दोपहर वहां के सबसे बड़े अधिकारी व एक कर्मी के बीच मारपीट के बाद अखाड़े...

Bhaskar News Network

Oct 22, 2019, 07:41 AM IST
Jehanabad News - heavy fighting between po and employment servant turned into an office arena
सदर प्रखंड का मनरेगा कार्यालय भवन सोमवार की दोपहर वहां के सबसे बड़े अधिकारी व एक कर्मी के बीच मारपीट के बाद अखाड़े में तब्दील होता दिखा। दरअसल प्रखंड मनरेगा के कार्यक्रम पदाधिकारी राजीव कुमार रंजन और मांदे विगहा के रोजगार सेवक रंजीत कुमार ने पहले किसी बात को लेकर तीखी बहस हुई। बात बढ़ी तो दोनों एक दूसरे पर पूरी टूट पड़े और फिर जमकर मारपीट हुई। जिसमें दोनों जख्मी हो गए। इस मारपीट में पीओ का सिर फूट गया तो रोजगार सेवक का हाथ टूट गया। आक्रोश ऐसा था कि दोनों एक दूसरे पर अपनी पेशे की गरिमा भूलकर ताबड़तोड़ हमला करते दिखे। बाद में कुछ लोगों के बीच- बचाव से दोनों को नियंत्रित किया गया। घटना में गंभीर रूप से घायल हुए दोनों कर्मियों का सदर अस्पताल में इलाज कराया गया। घटना के बाद दोनों एक दूसरे पर आरोपों की बौछार करने ले। स्थानीय थाने में दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ एफआईआर के लिए आवेदन दिया है। बहरहाल, सरकारी कार्यालय में तमाम मर्यादा को भूल जिस तरह से एक अधिकारी व कर्मी आपस में भिड़ गए, इससे उस सरकारी कार्यालय में व्याप्त निरंकुश व अनुशासनहीन वातावरण का पता चलता है। आम लोगों में दोनों मनरेगा कर्मियों के बीच हुए भिड़ंत व हिंसक वारदात की खबर पूरे जिले में चर्चा का विषय बना है। इधर शिकायत मिलने के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। इधर जिला प्रशासन के वरीय अधिकारी भी पूरे मामले की गहराई से छानबीन में जुटे हैं। सरकारी कार्यालय में हंगामा व अनुशासनहीन व्यवहार पर विभागीय अधिकारी गंभीर हो गए हैं। जांच के बाद विभागीय स्तर से दोनों पर कार्रवाई तय मानी जा रही है।

नगर थाने में दोनों ने एक दूसरे के खिलाफ केस के लिए दिया आवेदन

ऑडिट कराने का निर्देश दिया तो कुर्सी से मारकर फोड़ दिया सिर : पीओ

मनरेगा पीओ ने बताया कि वरीय पदाधिकारियों से प्राप्त पत्र के आलोक में संबंधित पंचायत रोजगार सेवक को गत वित्तीय वर्ष में हुए खर्च की गई राशि का ऑडिट कराने का निर्देश दिया। इसी पर ऑडिट कराने की बात से नाराज पंचायत रोजगार सेवक रंजीत ने पहले उनसे दुर्व्यवहार करने लगा और फिर जब उन्होंने उसे ऐसा करने से मना किया तो उसने बातों ही बातों में उनपर कुर्सी उठा कर हमला कर दिया। हमले में उनका सिर फूट गया और काफी खून बहने लगा। कर्मचारियों ने बीच बचाव कर उन्हें इलाज के लिए सदर अस्पताल लाया। उन्होंने बताया कि पूर्व में वह कुछ समय के लिए वह मांडिल पंचायत में रोजगार सेवक के रूप में कार्यरत था, जिसका अबतक ऑडिट नहीं कराया है। इसी संबंध में उसे निर्देश दे रहे थे। इस घटना की जानकारी वरीय अधिकारियों को देते हुए रोजगार सेवक को नामजद अभियुक्त बनाते हुए पीओ ने नगर थाने में एफआईआर के लिए आवेदन दिया है।

अस्पाल में इलाजरत पीओ राजीव कुमार रंजन।

घूसे देने से मना किया तो पीओ ने किया जानलेवा हमला : रोजगार सेवक

अपने अधिकारी से मारपीट का आरोपी रोजगार सेवक रंजीत ने बताया कि वह जैसे ही कार्यालय पहुंचा तो पीओ ने उसके साथ अभद्र व्यवहार एवं गली-गलौज करना शुरू कर दिया। जब उसने इसका कारण जानना चाहा तो पीओ ने पहले उसे कुर्सी उठाकर जोरदार प्रहार कर दिया जिससे उसके दोनों हाथों में गंभीर चोट लगी है। रोजगार सेवक ने बताया कि वह पिछले कुछ वर्षों से सदर प्रखंड के मांदे बिगहा में कार्यरत है। वहां कराए गए काम की मजदूरों की मजदूरी बकाया है। उसी के भुगतान के सिलसिले में वह कार्यालय आया था। भुगतान की बात करने पर पीओ ने उसे एक कमरे में बुलाकर इसके एवज में पचास हजार रुपए की मांग की। जब उसने रिश्वत देने से मना कर दिया तो वे हत्थे से उखड़ गए और उस पर जानलेवा हमला कर दिया। सिर को बचाने की कोशिश कर रहा था तो उनके द्वारा किया गया प्रहार उसके दोनों हाथों पर जा बैठा जिससे वह गंभीर रूप से चोटिल हो गया। इसके अलावा पीओ उससे मांदील पंचायत के मनरेगा योजना के असमायोजित राशि की जानकारी मांग रहे हैं, जहां उसने कार्य नहीं किया है।

Jehanabad News - heavy fighting between po and employment servant turned into an office arena
X
Jehanabad News - heavy fighting between po and employment servant turned into an office arena
Jehanabad News - heavy fighting between po and employment servant turned into an office arena
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना