मालीचक-सोहरैया गांव के बधार में करंट लगने से युवक ने तोड़ा दम

Jehanabad News - बिजली की लचर संचरण व्यवस्था से जिले में करंट से बेमौत मरने का सिलसिला जारी है। शनिवार को भी परसविगहा थाना के...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Ghosi News - maulikk sohraia village has started breaking down
बिजली की लचर संचरण व्यवस्था से जिले में करंट से बेमौत मरने का सिलसिला जारी है। शनिवार को भी परसविगहा थाना के मालीचक-सौहरैया गांव के बधार में ग्यारह हजार केवीए के करंट प्रवाहित तार की चपेट में आने से एक युवक की घटनास्थल पर ही दर्दनाक मौत हो गई। मृतक गप्पोचक गांव निवासी हरी यादव का पुत्र विमल चन्द्र बसाक बताया जाता है। ग्रामीणों से मिली जानकारी के अनुसार मृतक गांव स्थित बधार में अपना मवेशी चरा रहा था। इसी दौरान प्यास लगने पर पास में चल रहे पम्प सेट की आेर जा रहा था। इसी बीच वह रास्ते में स्थापित ग्यारह हजार केवीए के पोल मंे सट गया। पोल से सटते ही वह करंट की चपेट में आ गया क्योंकि पोल का इंसुलेटर टूटा था और उसमें करंट प्रवाहित हो रहा था। पोल के स्पर्श में आते ही युवक बुरी तरह झुलस गया और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बाद में बधार में रहे किसी व्यक्ति ने इसकी सूचना परिजनों को दी। लोगों के जुटने पर बिजली काटकर शव को वहां से हटाया गया। इसकी सूचना पाकर बीडीओ आशुतोष कुमार, सीओ इंद्रदेव पंडित व थानाध्यक्ष मंतोष कुमार घटना स्थल पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया तथा शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम हेतु सदर अस्पताल भेजा। साथ ही बीडीओ ने मृतक के विधवा सुनीता देवी को मुख्यमंत्री पारिवारिक लाभ योजना के तहत बीस हजार रुपये का चेक तथा स्थानीय मुखिया राजदेव यादव ने कबीर अंत्येष्टि योजना के तहत दाह संस्कार को परिजनों को तीन हजार रुपये प्रदान किया।

प्यास लगने पर पास में चल रहे पम्पसेट की आेर जा रहा था

हादसे के बाद रोते-बिलखते परिजन ।

पिछले एक सप्ताह में छह मवेशियों व सात लोगों की लचर बिजली व्यवस्था ने ली जान

पिछले एक सप्ताह में लचर बिजली संचरण व्यवस्था ने छह मवेशियों व सात लोगों की जान ले ली है। मालूम हो कि सबसे पहले मोदनगंज के सुरदासपुर में दो घोसी के गंधार व उबेर में चार मवेशियों की मौत हो गई थी। उसके अगले दिन रतनी के अजय बिगहा-धावा में एक पशुपालक और उसके दो मवेशियों पर घर के सामने ही बिजली प्रवाहित तार टूटकर गिरने से उनकी मौत हो गई थी। इसके अलावा मखदुमपुर के नेर में एक स्कूली छात्र व अमरपुर में एक महिला की मौत करंट से हो चुकी है। रतनी प्रखंड के करमपुर धावा में भी बधार जा रहे एक होमगार्ड के जवान की दर्दनाक मौत बिजली करंट से हो गई थी। करपी प्रखंड के रामपुर टोले में भी एक पशुपालक व उसके मवेशी की मौत लचर बिजली तार की वजह से हो चुकी है। शनिवार को भी एक युवक की लचर व्यवस्था ने जान ले ली। इस तरह से आज गांवों के बधार बिजली तारों की वजह से सुरक्षित नहीं रहे। कब, कहां, कौन बिजली करंट की चपेट में आ जाए, अनुमान लगाना मुश्किल है। इतना होने के बावजूद भी बिजली विभाग के पास ऐसे हालात से निबटने के लिए कोई रणनीति नहीं है।

घटनास्थल पर लगी लोगों की भीड़।

विभाग के पास ऐसे हालात से निबटने के लिए कोई रणनीति नहीं

मृतक की प|ी ने दर्ज कराया बिजली विभाग के अधिकारियों पर एफआईआर: बाद में मृतक की प|ी सुनीता देवी ने बिजली विभाग के खिलाफ लापरवाही का आरोप लगाते हुए थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। अपने आवेदन मे उसने उल्लेख किया है कि बिजली विभाग के लापरवाही के कारण ही उसके पति की जान गई है। विभाग ने लचर व्यवस्था पर ध्यान नहीं दिया जिससे उसके पति करंट की चपेट में आ गए। एफआईआर में उसने विभाग के जिम्मेदार कर्मियों पर कानूनी कार्रवाई की जाय। थानाध्यक्ष मंतोष कुमार ने बताया कि मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज की गई है। उचित कार्रवाई की जाएगी।

Ghosi News - maulikk sohraia village has started breaking down
X
Ghosi News - maulikk sohraia village has started breaking down
Ghosi News - maulikk sohraia village has started breaking down
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना