सत्य को धारण करना धर्म: यही सत्य व शाश्वत है

Jehanabad News - सदर प्रखंड के कल्पा-खुर्द गांव में आयोजित हो रहे श्री रूद्र महाप्रतिष्ठापन यज्ञ के दौरान गुरुवार को शिव परिवार व...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:40 AM IST
Jehanabad News - religion holding truth that is the truth and the sustainable
सदर प्रखंड के कल्पा-खुर्द गांव में आयोजित हो रहे श्री रूद्र महाप्रतिष्ठापन यज्ञ के दौरान गुरुवार को शिव परिवार व बजरंगबली का विधानपूर्वक समाधिवास कराया गया। इधर इस्काॅन से आए आचार्य राधे श्याम ने अपने प्रवचन के दौरान कहा कि सत्य को धारण करना ही धर्म है। धर्म सत्य है, शाश्वत है, उसे कोई चुनौती नहीं दे सकता। किसी व्यक्ति विशेष के द्वारा चलाया गया, कोई भी चीज धर्म नहीं हो सकता, वो दरअसल पंथ होता है, जिसे अज्ञानतावश लोग धर्म मान लेते हैं। इससे पहले बुधवार को स्नान संपन्न कराकर नगर भ्रमण कराया गया। वहीं यज्ञ के दौरान फेरी के लिए भी भारी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं। प्रतिष्ठा पूर्णाहुति एवं भंडारे के साथ कल यानी 14 जून को यज्ञ का समापन हो जाएगा। रात्रि में भागवत कथा का आयोजन किया जा रहा है। इस दौरान संतों का प्रवचन होगा जिसमें हजारों श्रद्धालु माैजूद रहेंगे। सुबह में यज्ञ मंडप की फेरी देने के लिए महिलाओं की भीड़ लगी रही जो दोपहर तक जारी रहा। संतों के प्रवचन से पूरा वातावरण भक्ति रस से सराबोर है। गुरुवार की शाम रामलीला के जीवंत मंचन से माहौल राममय हुआ था। मौके पर देर रात तक श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगी रही।

यज्ञ आयोजन को लेकर लोगों का उत्साह चरम पर

महायज्ञ आयोजन को ले गांव व इलाके लोगों का उत्साह चरम पर दिख रहा है। पूरे इलाके में भारी उत्साह का वातावरण कायम है। 14 जून को मंदिर में शंकर भगवान एवं बजरंगबली की वैदिक मंत्रोच्चारण के साथ विधि-विधान से प्राण प्रतिष्ठा का कार्यक्रम होगा उसके बाद पूर्णाहुति एवं भंडारा होगा। यज्ञ के सफल संचालन में सुरेन्द्र प्रसाद सिंह, रंजन कुमार विमल, तारकेश्वर सिंह, कुंदन कुमार विमल, रामाधार सिंह, राजीव विमल सरीखे कार्यकर्ताओं के साथ आस पास के गांवों के सैकड़ों लोग अपनी सक्रिय भागीदारी निभाकर आयोजन को सफल करने में जुटे हैं। आयोजन समिति यज्ञ के सफल आयोजन के लिए यज्ञ परिसर में बेहतरीन व्यवस्था कर श्रद्धालुओं की सुविधा का पूरा ख्याल रख रही है।

X
Jehanabad News - religion holding truth that is the truth and the sustainable
COMMENT