कुछ लोग सत्ता को सेवा की जगह मेवा पाने का समझते हैं साधन, गरीबों के नाम कर रहे राजनीति

Jehanabad News - मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंद्रह साल पहले के जातीय हिंसा व नरसंहारों के डरावनी माहौल को याद दिलाते हुए लोगों से...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:21 AM IST
Makhdumpur News - some people think of getting power in place of service the means the politics of the name of the poor
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पंद्रह साल पहले के जातीय हिंसा व नरसंहारों के डरावनी माहौल को याद दिलाते हुए लोगों से अपने कार्यकाल में हुए विकास व शांतिपूर्ण माहौल की तुलना करके वोट देने का अनुरोध किया। वे शुक्रवार को लोकसभा चुनाव में प्रचार के अंतिम दिन प्रभात नगर मैदान में एनडीए प्रत्याशी चंद्रेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी के समर्थन में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित कर रहे थे। सीएम ने कहा कि उन्होंने अपने कार्यकाल के प्रारंभ से ही बिहार को अंधेरगर्दी से निकालने का काम शुरू किया। सबसे पहले कानून व्यवस्था को ठीक कर यहां विकास का माहौल खड़ा किया। पहले लोग ढिबरी और लालटेन जलाते थे लेकिन उन्होंने आज हर गांव और टोले में बिजली पहुंचाकर वहां के लोगों की जिंदगी रोशन कर दी। हर गांव और टोले को सड़क से जोड़ा दिया गया है। सरकारी स्कूलों की स्थिति भी काफी बेहतर हुई है। पहले स्कूल में शिक्षक नहीं थे। उन्होंने शिक्षकों की बहाली कर स्कूलों में शिक्षकों की कमी को दूर कर दिया। लड़कियों के लिए साइकिल का इंतजाम किया। जब लड़कियों को साइकिल दिया तो लड़के भी इसकी मांग करने लगे। मैंने उन्हें भी साइकिल दी। गरीबों के बच्चों के उच्च व तकनीकी शिक्षा के लिए एकमुश्त आर्थिक सहायता का प्रावधान किया ताकि पैसे के अभाव में कोई गरीब की प्रतिभा दब नहीं सके। नारी सशक्तीकरण पर चर्चा करते हुए नीतीश ने कहा कि उन्होंने पंचायती राज के अलावा सरकारी सेवा में आरक्षण दिया। आज महिलाएं पंचायत प्रतिनिधि बन समाज को आगे बढ़ा रही हैं। सीएम ने कहा कि उन्होंने बिहार को अपना परिवार समझकर पूरी ईमानदारी से समाज के सभी वर्गों के विकास के लिए गंभीरता से काम किया।

बिहार को अपना परिवार समझकर सभी वर्गों के विकास के लिए किया है काम: मुख्यमंत्री

मखदुमपुर के प्रभातनगर मैदान में चुनावी जनसभा में सीएम नीतीश कुमार।

पीएम नरेन्द्र मोदी के कार्यों की जमकर की सराहना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यों की प्रशंसा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने आयुष्मान योजना, उज्ज्वला योजना के तहत गरीब तबके के लोगों का जीवन स्तर ऊपर उठाया। पहले गरीब लोग गंभीर बीमारी के कारण समय से पहले ही दुनिया छोड़ देते थे। लेकिन आयुष्मान योजना लागू होने से उनलोगों को काफी सहुलियत मिल रही है। किसानों को किसान सम्मान योजना से छह हजार हर साल मिलेंगे ,हमारी सरकार ने कृषि रोड मैप तैयार कर विकास कर रहा है। सीएम ने देश के सुरक्षा और आतंकवाद पर चर्चा करते हुए कहा अाज पीएम की मजबूत नीति से पूरे विश्व में देश की मजबूत पहचान बनाई है। इसकी चर्चा पूरे दुनिया में हो रही है। आज मोदी के नेतृत्व में भारत का सिर गर्व से ऊंचा हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने बिहार के विकास के लिए 50 हजार करोड़ रुपये दिए। इसके कारण इस प्रदेश के विकास का रफ्तार तेज हुआ। दिल्ली और पटना में एक तरह की सरकार होने के कारण विकास की गाड़ी तेज गति से बढ़ रही है। सिचाई के लिए किसानों के खेतों तक बिजली पहुंचाई जा रही है। सीएम ने कहा कि डीजल की जगह बिजली से सिचाई करने में किसानों को काफी कम खर्च पड़ेगा।

कांग्रेस के शासन में सबको छला गया, भागलपुर दंगा के दोषियों को सजा दिलाई : उन्होंने कहा कि जब वे मुख्यमंत्री बना तो उन्हें यह जानकारी मिली कि बड़ी संख्या में गरीब परिवार के बच्चे स्कूल जाने से वंचित रह जाते हैं। उन्होंने तालीमी मरकज तथा टोला सेवक की बहाली की। आज वे सभी बच्चे स्कूल जा रहे हैं और शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के शासन काल में भागलपुर दंगा हुआ। पीड़ित परिवार को न तो सहायता मिली थी और न ही न्याय। जब उनकी सरकार बनी तो उन्होंने पीड़ितों को सहायता भी उपलब्ध कराई और दोषी लोगों को सजा भी दिलाई। मदरसा शिक्षकों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि पहले उनका सिर्फ उपयोग किया जाता था। लेकिन उन्होंने सामान्य शिक्षकों की तरह उनके वेतन का भी प्रावधान किया है।

कार्यक्रम के दौरान ये लोग भी रहे शामिल

कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष पूनम सिन्हा ने किया जबकि मंच का संचालन जदयू प्रखंड अध्यक्ष प्रेम कुमार पप्पू ने किया। जनसभा में शिक्षामंत्री मंत्री कृष्णनंदन प्रसाद वर्मा, टेकारी विधायक अभय कुशवाहा ,पूर्व एमएलसी सुरेंद्र प्रसाद, कुमोद वर्मा ,संजय झा, वीरेंद्र दांगी ,जदयू जिलाध्यक्ष राजीव नयन उर्फ राजू सिंह,लोजपा जिलाध्यक्ष हेमन्त शरण उर्फ कुंदन कुमार ने भी अपने अपने विचार व्यक्त किए।

इशारों में लालू परिवार पर साधा निशाना : सीएम ने कहा कि वे पूरे समाज के लिए काम करते रहे तो आज विकास गांव-गांव दिख रहा है। लेकिन कुछ लोग गरीबों के नाम की राजनीति कर अपने विकास पर ही ध्यान देते रहे। उन्होंने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद पर तंज कसते हुए कहा कि कुछ लोग सत्ता को सेवा की जगह मेवा पाने का साधन समझते हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के समय जाती याद आती है लेकिन उनका तो सेवा ही धर्म है। सीएम ने कहा कि लालू प्रसाद कहते हैं कि उन्हें फंसाया गया है। उन्होंने उपस्थित भीड़ की ओर इशारा करते हुए कहा कि भला आप ही बताएं कि जब वे कोर्ट के निर्देश पर जुर्म प्रमाणित होने के बाद जेल गए तो उन्हें फंसाया कैसे गया। उन्हें तो अपनी करनी का फल मिल रहा है।

X
Makhdumpur News - some people think of getting power in place of service the means the politics of the name of the poor
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना