पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कांग्रेस नेताओं की टीम ने अस्पताल का लिया जायजा

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश कांग्रेस के निर्देश पर स्थानीय कांग्रेस के जिलाध्यक्ष हरिनारायण द्ववेदी के नेतृत्व कांग्रेस नेताओं का दल शनिवार को सदर अस्पताल का जायजा लिया। इस दौरान नेताओं ने अस्पताल के वार्ड से लेकर ओपीडी एवं इमरजेंसी एवं दवा काउंटर पर जाकर जायजा लिया। अस्पताल का भवन जर्जर मिला। वार्ड में सफाई व्यवस्था समुचित नहीं थी,पर्याप्त दवा उपलब्ध नहीं रहने से मरीजों को बाहर से दवा लाना पड़ रहा था। चिकित्सक एवं नर्सिंग स्टाफ की कमी की बात भी सामने आई। साधारण बीमार मरीजों को इलाज के बजाय रेफर किये जाने एवं अवैध नर्सिंग होम में पहुंचाने की भी जानकारी मिली। जिसपर नेताओं के दल ने व्यवस्था पर गहरी नाराजगी जताई। बाद में नेताओं का प्रतिनिधिमंडल सीएस से मिलकर वस्तु स्थिति से अवगत करा व्यवस्था सुदृढ़ किये जाने की मांग की। सीएस विजय कुमार सिन्हा ने नेताओं को बताया कि सदर अस्पताल तीन सौ बेड का है किंतु भवन के कमी के कारण फिलहाल सौ बेड का चल रहा है। वह भी जर्जर भवन में है। खतरा की आशंका बनी रहती है।चिकित्सक एवं नर्सिंग स्टाफ भी आधे अधूरा है। इसके लिए वे बराबर उच्चाधिकारियों को पत्राचार करते रहते हैं। दवा की उपलब्धता के लिए भी मुख्यालय को डिमांड भेजा जाता है। उन्होंने बताया कि सीमित साधन एवं हैंड में चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध कराने में जुटे हैं। व्यवस्था सुधार के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिया जाता है। जिला मुख्यालय के शहर से लेकर अन्य कस्बाई बाजारों में अवैध नर्सिंग होम को सील करने के लिए पीएचसी के प्रभारी को निर्देशित किया गया है।

खबरें और भी हैं...