मॉडल के तौर पर विकसित किया जाएगा ऐतिहासिक परमारथ गिरि तालाब

Kaimur News - दुर्गावती प्रखंड मुख्यालय से सटे पूरब दिशा में स्थित परमारथ गिरी पोखरे के सर्वांगीण विकास के लिए बुधवार को...

Bhaskar News Network

Sep 19, 2019, 09:25 AM IST
Durgawati News - historical parmarat giri pond will be developed as a model
दुर्गावती प्रखंड मुख्यालय से सटे पूरब दिशा में स्थित परमारथ गिरी पोखरे के सर्वांगीण विकास के लिए बुधवार को निदेशक डीआरडीए कैमूर ने स्थल का जायजा लिया। कहा कि इसके लिए जिला प्रशासन पूरी तरीके से प्रतिबद्ध है। बुधवार को निदेशक डीआरडीए कैमूर के इस ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व वाले परमारथ गिरी पोखरे का निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने देखा कि यह पोखरा काफी विशाल है साथ ही दुर्गावती रेलवे स्टेशन से बिल्कुल सटा हुआ है। ऐसे में सरकार जब जल जीवन और हरियाली योजना चला रही है ताकि नेस्तनाबूद हो रहे सार्वजनिक तालाबों का उद्धार किया जाए और वहां पौधरोपण किया जाए, तो ऐसे में पहली प्राथमिकता के तौर पर जिला प्रशासन परमारथ गिरी पोखरे का सर्वांगीण विकास करेगा। स्थानीय समाजसेवी और भाजपा नेता दारा सिंह ने डीआरडीए निदेशक को बताया कि इस पोखरे में जल संचय के लिए एक डीप बोरवेल की जरूरत है ताकि पानी कम पड़ने पर पंप चला कर तालाब को पानी से भरा जा सके।

पोखर का जायजा लेते निदेशक।

निदेशक डीआरडीए ने किया स्थल निरीक्षण, दुर्गावती रेलवे स्टेशन से सटा हुआ है यह तालाब




पौधरोपण से बढ़ जाएगी तालाब की सुंदरता

निदेशक ने बताया कि परमारथ गिरी पोखरे के सर्वांगीण विकास के लिए डीएम कैमूर से भी बात की थी। इसके बाद डीएम कैमूर ने इस तालाब के विकास के लिए निदेशक डीआरडीए कैमूर को स्थल जायजा लेने कहा था। इसी के तहत बारिश के बीच डीआरडीए निदेशक यहां पहुंचे। उनको स्थानीय लोगों ने बताया कि तालाब के किनारे संत परमारथ गिरी की समाधि स्थल है। जहां दूर-दूर के लोग दर्शन करने आते हैं। ऐसी मान्यता है कि उनके आशीर्वाद से लाइलाज बीमारी भी ठीक हो जाती है। विभिन्न रोग से ग्रसित मरीज जब इस पोखरे में स्नान करने के बाद अपना वस्त्र यहीं छोड़ देते हैं। ग्रामीणों की बातें सुनने के बाद डीआरडीए निदेशक ने स्पष्ट तौर पर कहा कि मैंने इस तालाब को देख लिया है और तालाब की तस्वीरें भी ले ली है। जिसे वे जिलाधिकारी को प्रेषित करें देंगे। तालाब के सर्वांगीण विकास का एक रोडमैप तैयार कर जल्द ही इस तालाब को एक रोल मॉडल के तौर पर विकसित किया जाएगा। इस मौके पर भाजपा नेता दारा सिंह ने बताया कि तालाब के सर्वांगीण विकास पर यदि 1 करोड़ रुपए खर्च किए जांय तो निश्चित तौर पर यह ऐतिहासिक तालाब अपने आप में एक रोल मॉडल बन सकेगा।

निदेशक ने इंटर विद्यालय कर्णपुरा का भी जायजा

निदेशक ने इंटर विद्यालय कर्णपुरा का भी जायजा लिया और यहां स्मार्ट क्लास और प्रैक्टिकल लैब रूम से रूबरू हुए। कहा कि इंटर स्तरीय विद्यालय की आधारभूत संरचना बहुत बेहतर है। शिक्षक भी योग्य हैं। विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों का भविष्य निश्चित रूप से उज्जवल होगा।

X
Durgawati News - historical parmarat giri pond will be developed as a model
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना