• Hindi News
  • Bihar
  • Kaimur
  • Durgawati News jdu and bsp leaders clash with you for showing supremacy in wrestling competition

कुश्ती प्रतियाेगिता में वर्चस्व दिखाने काे लेकर अापस में भिड़े जदयू व बासपा नेता

Kaimur News - दुर्गावती के गोरार गांव में आयोजित अंतरराज्यीय कुश्ती प्रतियोगिता का उद्घाटन डुमरांव विधायक जदयू के ददन यादव...

Feb 22, 2020, 07:26 AM IST
Durgawati News - jdu and bsp leaders clash with you for showing supremacy in wrestling competition

दुर्गावती के गोरार गांव में आयोजित अंतरराज्यीय कुश्ती प्रतियोगिता का उद्घाटन डुमरांव विधायक जदयू के ददन यादव ने किया। कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन संतोष पाल ने किया था। कार्यक्रम में मंच पर कई नामचीन चेहरे मौजूद थे। मंच पर रामगढ़ के पूर्व विधायक सह बसपा नेता अंबिका यादव, पूर्व प्रमुख यमुना यादव, वकील यादव, जीप अध्यक्ष वकील सिंह यादव, जमा खान व सुशील कुशवाहा आदि मौजूद थे। विद्यालय की इमारत के ऊपर से भी कई लोग देख रहे थे। दो पहलवानों को पूर्व विधायक अंबिका यादव ने 15 हजार रुपए का इनाम दिया। ददन यादव ने भी अपनी ओर से 15 हजार इनाम देने की घोषणा की। इसके बाद डाक बोली होने लगी। तभी रेफरी ने एक पहलवान का हाथ पकड़ कहा कि इनकी कुश्ती 2 लाख में होगी। देना है तो दीजिए। इस पर अंबिका यादव के समर्थक आक्रोशित हो उठे मामला इतना बिगड़ा कि खुद थानाध्यक्ष को बीच बचाव करना पड़ा। राजनीतिक वर्चस्व को लेकर जुबानी जंग एक दूसरे पर चलने लगी। नेताओं के निजी सुरक्षा कर्मी हाथ में असलहा लेकर अलर्ट हो गए। इसी बीच माहौल इतना खराब हुआ कि भीड़ मौके से भागने लगी। ददन यादव लोकसभा चुनाव में हुई खुद की हार का भड़ास निकालने लगे।

दुर्गावती के गोरार गांव में आयोजित अंतरराज्यीय कुश्ती प्रतियोगिता का उद्घाटन डुमरांव विधायक जदयू के ददन यादव ने किया। कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन संतोष पाल ने किया था। कार्यक्रम में मंच पर कई नामचीन चेहरे मौजूद थे। मंच पर रामगढ़ के पूर्व विधायक सह बसपा नेता अंबिका यादव, पूर्व प्रमुख यमुना यादव, वकील यादव, जीप अध्यक्ष वकील सिंह यादव, जमा खान व सुशील कुशवाहा आदि मौजूद थे। विद्यालय की इमारत के ऊपर से भी कई लोग देख रहे थे। दो पहलवानों को पूर्व विधायक अंबिका यादव ने 15 हजार रुपए का इनाम दिया। ददन यादव ने भी अपनी ओर से 15 हजार इनाम देने की घोषणा की। इसके बाद डाक बोली होने लगी। तभी रेफरी ने एक पहलवान का हाथ पकड़ कहा कि इनकी कुश्ती 2 लाख में होगी। देना है तो दीजिए। इस पर अंबिका यादव के समर्थक आक्रोशित हो उठे मामला इतना बिगड़ा कि खुद थानाध्यक्ष को बीच बचाव करना पड़ा। राजनीतिक वर्चस्व को लेकर जुबानी जंग एक दूसरे पर चलने लगी। नेताओं के निजी सुरक्षा कर्मी हाथ में असलहा लेकर अलर्ट हो गए। इसी बीच माहौल इतना खराब हुआ कि भीड़ मौके से भागने लगी। ददन यादव लोकसभा चुनाव में हुई खुद की हार का भड़ास निकालने लगे।

विजेताओं के लिए 2 अपाचे बाइक रखी की रखी रह गई :प्रतियोगिता में विजेताओं के लिए 2 अपाचे बाइक रखी हुई थी। लेकिन बाहर से आए पहलवान विपिन, अरविंद, अंगद, सुनील व अविनाश सिंह जैसे नामी-गिरामी पहलवानों से किसी ने हाथ ही नहीं मिलाया। जबकि वे अखाड़े में अपना हुनर दिखाने को बेताब थे। कानपुर से आए पहलवान अविनाश सिंह से भी किसी ने हाथ नहीं मिलाया। अंत में महज सांत्वना पुरस्कार देकर पहलवानों को सम्मानित किया गया। जबकि पहलवानों के लिए खरीद कर लाई गईं दोनों बाइके दर्शक दीर्घा में वैसे ही पड़ी रह गईं।

दुर्गावती में दंगल प्रतियोगिता में आपस में भिड़े बासपा व जदयू नेता।

X
Durgawati News - jdu and bsp leaders clash with you for showing supremacy in wrestling competition

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना