अफसरों की जांच में हुआ खुलासा

Kaimur News - अनाथ अनुप्रिया की मौत के बाद जवाबदेही तय करने के लिए तत्काल होम मैनेजमेंट कमिटी की बैठक बुलाई गई। सहायक निदेशक ने...

Nov 11, 2019, 06:42 AM IST
अनाथ अनुप्रिया की मौत के बाद जवाबदेही तय करने के लिए तत्काल होम मैनेजमेंट कमिटी की बैठक बुलाई गई। सहायक निदेशक ने अपने स्तर से मामले की जांच पड़ताल की। उन्होंने बताया कि संस्थान को बेहतर तरीके से संचालित करने में प्रथम दृष्टया को-ऑर्डिनेटर की लापरवाही की बात सामने आ रही है। घटना वाले दिन एक आया साप्ताहिक छुट्टी पर थी। जबकि एक आया संस्थान की एक बीमार बच्ची को बनारस से दिखाकर एक बजे वापस लौटी। उसके बाद वह घर चली गई जिसकी सूचना वरीय अधिकारियों को नहीं दी गई। सभी बिंदुओं पर जांच पड़ताल करने के बाद कर्मियों पर कार्यवाही होगी। सभी से स्पष्टीकरण पूछा जा रहा है। घटना के बाद भी होम मैनेजमेंट की कमेटी की बैठक में प्रतिनियुक्त डॉक्टर शामिल नहीं हुए। उनके विरुद्ध कार्रवाई के लिए सिविल सर्जन को पत्र लिखा जाएगा। उधर, शेल्टर होम में अफसरों की जांच में खुलासा हुआ कि शेल्टर होम में पल रही अनाथ अनुप्रिया की मौत के दौरान विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में एक आया पर दस बच्चों की जिम्मेदारी थी। उस दौरान दत्तक ग्रहण संस्थान की कोऑर्डिनेटर अपनी ड्यूटी पूरी कर 5:30 बजे निकल गई थी। बच्चे की मौत में संस्थान के कोऑर्डिनेटर रेखा कुमारी और कर्मियों की लापरवाही की बात भी सामने आई है।

शेल्टर होम में बच्ची की मौत के वक्त एक आया पर थी 10 बच्चों की जिम्मेदारी

मौत की गुत्थी सुलझाने में जुटा प्रशासन, लापरवाह कर्मियों पर होगी कार्रवाई, दी गई श्रद्धांजलि

दत्तक ग्रहण संस्थान में अनुप्रिया की आत्मा शांति के लिए मौन रखे कर्मी।

घटना वाले दिन दत्तक संस्थान में सीसीटीवी कैमरे थे बंद

अनाथ बच्चों के लिए संचालित दत्तक ग्रहण संस्थान अक्सर सुर्खियों में रहता है। मुजफ्फरपुर कांड के बाद सरकार की शेल्टर होम पर विशेष नजर है। भभुआ में संचालित दत्तक ग्रहण संस्थान में घटना वाले दिन चौंकाने वाली बात यह रही कि दत्तक ग्रहण संस्थान में लगाए गए सीसीटीवी कैमरे बंद थे। अफसरों की जांच में यह भी मामला सामने आया कि अक्सर दत्तक ग्रहण संस्थान का सीसीटीवी कैमरा बंद रहता है।

बाल संरक्षण इकाई करती है विशिष्ट संस्थान का संचालन

संस्थान का संचालन बाल संरक्षण इकाई करती है। इससे पहले ज्ञान भारती नाम की संस्था विशिष्ट दत्तक संस्थान का संचालन कर रही थी। वित्तीय अनियमितता और कई गड़बड़ी के आरोप के बाद इस मामले की जांच सीबीआई कर रही है। एनजीओ ज्ञान भारती को संचालन की जिम्मेदारी से हटाने के बाद दत्तक ग्रहण संस्थान का संचालन बाल संरक्षण इकाई कर रही है। नए सिरे से कोऑर्डिनेटर सहित छह आया, एक चौकीदार,एक नर्स की बहाली की गई है।

मौत के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप

विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में पल रही अनाथ अनुप्रिया की मौत के बाद प्रशासन मौत की गुत्थी सुलझाने में जुट गया है। अनुप्रिया की मौत के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है। बच्चे की मौत के कारणों का खुलासा अब तक पूरी तरह नहीं हो पाया है। पोस्टमार्टम के बाद सहायक निदेशक बाल संरक्षण संतोष कुमार चौधरी के साथ दत्तक ग्रहण संस्थान के कर्मियों ने अनाथ अनुप्रिया का दाह संस्कार कराया। शेल्टर होम में पल रही अनुप्रिया की मौत बीते शनिवार को हो गई। घटना तकरीबन 6 बजे के आसपास की बताई जा रही है।आया के ड्यूटी बदलने के दौरान बच्ची की मौत का मामला सामने आया।

टाउन थाना इंस्पेक्टर ने भी संस्थान के कर्मियों से की पूछताछ

मामले की जांच करने पहुंचे अफसर।

एसडीओ ने कहा - नहीं आई अब तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट

इस घटना के बाद देर रात एसडीओ जन्मेजय शुक्ला और डीएसपी अजय प्रसाद भी जिलाधिकारी के निर्देश पर दत्तक ग्रहण संस्थान में जांच के लिए पहुंचे। उन्होंने कई बिंदुओं पर कर्मियों से पूछताछ की है। जिलाधिकारी ने एसडीओ को जांच की जिम्मेदारी सौंपी है। उन्होंने बताया कि अभी तक पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं मिली है। बच्ची के मौत के मामले की जांच पड़ताल की जा रही है।जिसकी रिपोर्ट जिलाधिकारी को सौंपी जाएगी।

नगर थाना अध्यक्ष रामानंद मंडल ने भी विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान पहुंचकर कोऑर्डिनेटर रेखा कुमारी के अलावा ड्यूटी के दौरान कार्यरत आया से बारी-बारी पूछताछ की। थानाध्यक्ष ने जिस बेड पर बच्ची की मौत हुई थी। उसके चादर को हटाकर धोने पर नाराजगी जताई। सहायक निदेशक की मौजूदगी में आया से पूछताछ की।

नम आंखों से लोगों ने दी अनुप्रिया को विदाई

बक्सर से लावारिस हालत में मिली अनुप्रिया की मौत के बाद दत्तक ग्रहण संस्थान में सन्नाटा छाया हुआ है। पोस्टमार्टम के बाद रविवार सुबह 10 बजे अनुप्रिया का दाह संस्कार सुवरन नदी के समीप किया गया। इसके बाद दत्तक ग्रहण संस्थान में सहायक निदेशक की मौजूदगी में सभी कर्मियों ने दो मिनट का मौन रख अनुप्रिया को नम आंखों से विदाई दी। कर्मियों को संस्था के बेहतर संचालन के लिए सख्त हिदायत दी गई है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना