श्रद्धाभाव से पूजे गए शिल्पी भगवान विश्वकर्मा

Kaimur News - सिटी रिपोर्टर | भभुआ/ रामगढ़ भगवान विश्वकर्मा की जयंती मंगलवार को पूरे जिले भर में धूमधाम से मनाई गई। शहर के गैरेज...

Bhaskar News Network

Sep 19, 2019, 09:56 AM IST
Kaimur News - shilpi lord vishwakarma worshiped with reverence
सिटी रिपोर्टर | भभुआ/ रामगढ़

भगवान विश्वकर्मा की जयंती मंगलवार को पूरे जिले भर में धूमधाम से मनाई गई। शहर के गैरेज इलेक्ट्रॉनिक दुकानदार, मशीनरी दुकानदार तथा गाड़ियों के शोरूम और कल कारखानों से जुड़े प्रतिष्ठानों द्वारा दुनिया के सबसे पहले इंजीनियर की पूजा विश्वकर्मा पूजा बड़े ही धूमधाम से मनाया गया। जयप्रकाश चौक, कैमूर स्तम्भ , पूरब पोखरा स्थित सहित अन्य जगहों पर भगवान विश्वकर्मा की मूर्ति स्थापित कर दिनभर हवन पूजन किया गया।

कहीं पूरे प्रतिष्ठान को भव्यतापूर्वक सजाया गया तो कहीं कागज की झंडियां लहराती दिखीं। भगवान विश्वकर्मा की छोटी-बड़ी प्रतिमाओं की विधानपूर्वक पूजा अर्चना की गई। पूजन का क्रम सुबह से ही शुरू हो गया था। प्रतिष्ठानों द्वारा लोगों में जमकर मिठाइयां बांटी गई। बिजली कॉलोनी से लेकर शहर के सभी विद्युत उपकेंद्रों में विश्वकर्मा पूजा का आयोजन किया गया। कारीगरों ने अपने औजारों व यंत्रों की भी पूजा की। रोली-अक्षत लगाकर पूजन किया गया। पूरे दिन औजारों का इस्तेमाल नहीं किया गया। नगर में भी विभिन्न सस्थानों में झांकी सजाई गयी। फैक्टरी, वर्कशॉप, ऑफिस, दुकान आदि स्थानों पर कलश स्थापना से पूजन की शुरुआत हुई। अक्षत, फूल, चंदन, धूप, अगरबत्ती, दही, रोली, सुपारी, रक्षा सूत्र, मिठाई, फल आदि उन्हें समर्पित किए गए। भगवान विश्वकर्मा की पूजा विधि-विधान से करके कामगारों से लेकर प्रतिष्ठान के मालिकों तक ने कारोबार में लाभ और उन्नति की कामना की।

पूजा के लिए भगवान विश्वकर्मा की स्थापित की गई मूर्ति

देवताओं के अभियंता हैं आदि शिल्पी

विश्वकर्मा को देवताओं का अभियंता, मशीन का देवता और देवताओं का शिल्पकार जैसे नामों से जाना जाता है। भगवान विश्वकर्मा ने ही देवताओं के लिए अनेक भव्य महलों, आलीशान भवनों, हथियारों और सिंघासनों का निर्माण किया। लोग छोटी सुई से लेकर हवाई जहाज तक का निर्माण कर लेते हैं। लेकिन भगवान विश्वकर्मा को देव शिल्पी कहा जाता है। उन्होंने सतयुग में स्वर्गलोक, त्रेतायुग में लंका, द्वापर में द्वारका और कलियुग में जगन्नाथ मंदिर की विशाल मूर्तियों का निर्माण किया है।

X
Kaimur News - shilpi lord vishwakarma worshiped with reverence
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना