आज से पितृपक्ष शुरू, महाविष्णु के रूप में करें पितरों की पूजा

Katihar News - 14 सितंबर से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार पितृपक्ष में पितरों को पिंडदान करने से...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 08:15 AM IST
Katihar News - pitrupaksha starts today worship ancestors as mahavishnu
14 सितंबर से पितृपक्ष की शुरुआत हो रही है। हिंदू धार्मिक मान्यता के अनुसार पितृपक्ष में पितरों को पिंडदान करने से पुत्रों को पितृऋण से मुक्ति मिलती है। कटिहार के पंडित ललन झा ने बताया कि भाद्रपद शुक्ल पक्ष पूर्णिमा दिनांक 14 सितंबर को पितृपक्ष आरंभ हो जाएगा। पितृपक्ष के प्रतिपदा तिथि का पहला श्राद्ध तर्पण 14 सितंबर शनिवार को मध्याह्न व्यापिनी तिथि में होगा।

सपैतृक अमावस्या पितृ विसर्जन 28 सितंबर शनिवार को होगा। उन्होंने बताया कि पितरों को महाविष्णु के रूप में मान कर उनकी प्रसन्नता के लिए ब्राह्मणों को भोजन कराकर वस्त्र आदि से उनका सम्मान करने से परिवार में सुख शांति एवं प्रसन्नता बनी रहती है। देवपूजा से पहले जातक को अपने पूर्वजों की पूजा करनी चाहिए। पितरों के प्रसन्न होने पर देवता भी प्रसन्न होते हैं। यही कारण है कि भारतीय संस्कृति में जीवित रहते हुए घर के बड़े-बुजुर्गों का सम्मान और मृत्यु के उपरांत श्राद्ध कर्म किया जाता है। इसके पीछे यह मान्यता भी है कि यदि विधि-विधान के अनुसार पितरों का तर्पण न किया जाए तो उन्हें मुक्ति नहीं मिलती और उनकी आत्मा मृत्युलोक में भटकती रहती है।

मृत्यु वाली तिथि पर श्राद्ध करने का रिवाज

आमतौर पर किसी व्यक्ति की मृत्यु जिस तिथि को होती है, पितृपक्ष में उसी तिथि पर श्राद्ध कर्म किए जाते हैं। उल्लेखनीय है कि हिंदू धर्म में अनेक रीति-रिवाज व परंपराएं हैं। गर्भधारण से लेकर मृत्यु के बाद तक कई संस्कार होते हैं। अंत्येष्टि को अंतिम संस्कार माना जाता है। लेकिन अंत्येष्टि के बाद भी श्राद्ध कर्म और पितृपक्ष में पिंडदान कुछ ऐसे संस्कार हैं, जिसे संतानों को करना होता है।

तिथियों के अनुसार होंगे श्राद्ध

पहला श्राद्ध 15 सितंबर प्रतिपदा श्राद्ध

दूसरा श्राद्ध 16 सितंबर द्वितीय श्राद्ध

तीसरा श्राद्ध 17 सितंबर तृतीय श्राद्ध

चौथा श्राद्ध 18 सितंबर चतुर्थी श्राद्ध

पांचवां श्राद्ध 19 सितंबर पंचमी श्राद्ध

छठा श्राद्ध 20 सितंबर षष्ठी श्राद्ध

सातवां श्राद्ध 21 सितंबर सप्तमी श्राद्ध

आठवां श्राद्ध 22 सितंबर अष्टमी श्राद्ध

नौवां श्राद्ध 23 सितंबर नवमी श्राद्ध

दसवां श्राद्ध 24 सितंबर दशमी श्राद्ध

ग्यारहवां श्राद्ध 25 सितंबर एकादशी श्राद्ध

तेरहवां श्राद्ध 26 सितंबर द्वादशी श्राद्ध

चौदहवां श्राद्ध 27 सितंबर त्रयोदशी श्राद्ध्र

X
Katihar News - pitrupaksha starts today worship ancestors as mahavishnu
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना