गंडक पर पुल नहीं होने से एक लाख से अधिक की आबादी होती है प्रभावित

Khagaria News - जलकौरा एवं खरगी तीरासी के बीच गंडक नदी पर पुल बनाने की मांग को लेकर गुरुवार को युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष...

Nov 22, 2019, 08:15 AM IST
Khagaria News - due to lack of bridges on gandak more than one lakh population is affected
जलकौरा एवं खरगी तीरासी के बीच गंडक नदी पर पुल बनाने की मांग को लेकर गुरुवार को युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष नागेंद्र सिंह त्यागी के नेतृत्व में दर्जनों पंचायत प्रतिनिधियों ने जिलाधिकारी से मिलकर आवेदन सौंपा। दिए गए आवेदन में कहा गया है कि खगड़िया एवं बेगूसराय जिले के चार प्रखंड खगड़िया, अलौली, साहेबपुर कमाल एवं डंडारी प्रखंड के एक लाख से अधिक जनता प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से जलकौड़ा खड़गी तीरासी के बीच गंडक नदी पर पुल नहीं होने से प्रभावित रहती है। वर्षों से इस क्षेत्र की जनता स्थानीय विधायक एवं सांसद को आवेदन के माध्यम से गुहार लगाते आ रही है। अलौली विधायक चंदन कुमार द्वारा तारांकित प्रश्न के माध्यम से सदन में ग्रामीण कार्य विभाग के मंत्री महोदय से सवाल उठाया था। सरकार द्वारा इस बिंदु पर आश्वासन भी दिया गया था।

2017 में ग्रामीण कार्य विभाग के कनीय अभियंता द्वारा निर्माण कार्य स्थल का मिट्टी जांच की प्रक्रिया भी पूरी की गई। तत्पश्चात विभाग द्वारा पुल पहुंच पथ हेतु जमीन अधिग्रहण की बात की गई तो वहां के स्थानीय कर्मचारी द्वारा विभाग को आश्वस्त किया गया कि पुल तक पहुंच पथ के लिए जमीन अधिग्रहण की कोई आवश्यकता नहीं है। कर्मचारी ने स्पष्ट रूप से बताया कि पुल एवं पहुंच पथ के लिए जो रूट तय किया गया है उसमें कहीं भी रैयती जमीन नहीं आता है। बीना जमीन अधिग्रहण किए सरकारी जमीन पर पुल एवं पहुंच पथ को बनाया जा सकता है। इतना के बावजूद आज तक कोई सार्थक पहल नहीं हो पाया है। एक तरफ विभाग के पदाधिकारी से जब संपर्क किया जाता है तो यही कहा जाता है कि यह पुल बिहार पुल निगम विभाग को सौंप दिया गया है। इसका सारा फाइल निगम के टेबल पर रखा हुआ है।

मुख्यमंत्री के स्वीकृति के साथ ही निर्माण कार्य प्रारंभ कर दिया जाएगा। स्थानीय विधायक के द्वारा कहा जाता है कि विपक्ष में रहने के कारण सरकार हमारी बातों को गंभीरता पूर्वक नहीं सुनती है। दूसरी तरफ स्थानीय सांसद महोदय से जब भी इस संबंध में बात की जाती है तो कहते हैं पुल निर्माण हेतु सारा प्रक्रिया पूरा हो चुका है। जल्द ही निर्माण कार्य हेतु समुचित राशि उपलब्ध कराया दिया जाएगा और निर्माण कार्य प्रारंभ हो जाएगा। संसद द्वारा उक्त बातें बीते 4 वर्षों से कहा जा रहा है । क्षेत्र की जनता के धैर्य का बांध अब टूट चुका है और जनता अब आंदोलन का रास्ता अख्तियार कर लिया है। शीघ्र पुल बनाने का काम शुरू नहीं किया गया तो चरणबद्ध आंदोलन किया जाएगा। दिए गए आवेदन में जिलाधिकारी से आग्रह किया गया है कि जनता की दर्द एवं भावनाओं को समझते हुए यथाशीघ्र सरकार द्वारा निर्माण कार्यक्रम करवाने की कृपा करें। मौके पर युवा शक्ति के जिला उपाध्यक्ष मनीष कुमार, तेताराबाद के मुखिया अमरनाथ चौधरी, रामचंद्र चौधरी, रामकुमार गांधी, सरपंच मुंशी सिंह, सुधीर कुमार, अमित कुमार, नागेश्वर सिंह, रामबालक सिंह, निलेश कुमार यादव, समेत दर्जनों लोग शामिल थे।

विधायक व सांसद से आवेदन के माध्यम से कर चुके हैं गुहार

डीएम से मिलकर लौटते जनप्रतिनिधि।

X
Khagaria News - due to lack of bridges on gandak more than one lakh population is affected
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना