उपलब्धियाें पर एसपी ने पुलिस की थपथपाई पीठ कहा-यहां क्राइम हुआ कम

Jan 04, 2020, 08:15 AM IST


भास्कर न्यूज | किशनगंज

जिले में अापराधिक घटनाअाें का लेखा-जाेखा देते एसपी ने उपलब्धियाें पर पुलिस की पीठ थपथपाई अाैर कहा अन्य जिलाें की अपेक्षा यहां अपराध कम हुए हैं। 2018 की तुलना वर्ष 2019 में अपराध का ग्राफ घटा है। एसपी कुमार आशीष ने प्रेसवार्ता में कहा कि गत वर्ष इंट्री माफियाअाें पर पुलिस भारी रहा, जबकि अपहरण, हत्या, दुष्कर्म, चोरी, गृहभेदन, लूट, डकैती, महिला उत्प्रीड़न जैसे संगीन अपराधों में कमी आई है। वहीं एनडीपीएस एक्ट व उत्पाद अधिनियम के मामले में वृद्धि हुई है। उपलब्ध आकड़ों के अनुसार 2018 की तुलना में 2019 में बिहार के अन्य जिलों की अपेक्षा किशनगंज में अपराध का ग्राफ कम रहा है। एनडीपीएस एक्ट मामले में 66.6 प्रतिशत वृद्धि हुई है। हत्या के मामले में 8.3 अाैर डकैती मामले में 75 प्रतिशत कमी आई है। उन्होंने कहा 2018 में डकैती के 4 मामले, 2019 में एक मामले, लूट के 4 मामले, गृहभेदन में 4.7 प्रतिशत कमी आई। दुष्कर्म के मामले में 54.8 प्रतिशत कमी आई। 2018 में दुष्कर्म के 31 मामले दर्ज हुए, जबकि इस वर्ष 14 मामले दर्ज किए गए। अपहरण के मामलों में 43.8 प्रतिशत कमी दर्ज की गई है।

चोरी के मामलाें में 34 प्रतिशत हुई कमी

एसपी ने कहा कि पिछले वर्ष चोरी के 226 मामले दर्ज हुए, जबकि इस वर्ष 148 मामले दर्ज हुए। 2018 में एनडीपीएस एक्ट के 6 मामले दर्ज हुए वहीं इस वर्ष 10 मामले दर्ज हुए हैं। उत्पाद अधिनियम के मामलाें में 42.9 प्रतिशत वृद्धि हुई। एससी-एसटी के मामले में 58.3 प्रतिशत और साधारण दंगा में 76 प्रतिशत, गृहभेदन में 4.7 प्रतिशत वृद्धि हुई, जबकि फिरौती के एक भी मामले दर्ज नहीं हुए। 2327 कांडाें का निष्पादन कर 2045 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। 24 हजार 564 लीटर शराब जब्त की गई, जिसमें 22 हजार 499 लीटर विदेशी शराब, 2071.490 लीटर देशी शराब हैं। वहीं 295.23 ग्राम स्मैक, 18.917 किलो ग्राम गांजा जब्त किया गया। वहीं 12 अवैध हथियार, 28 कारतूस जब्त किया गया। वाहन चेकिंग में 98 लाख 86 हजार 5 सौ रूपये जुर्माना वसूले गए। लड़कियों व महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर पिंक पेट्रोलिंग दस्ते की शुरूआत की गई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना