--Advertisement--

जाति, आवासीय-आय प्रमाण पत्र बनाने को अब प्रखंड कार्यालय नहीं होगा जाना

Lakhisarai News - अब लोगाें को जाति, आवासीय एवं आय प्रमाण पत्र बनाने के लिए प्रखंड कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। यह सुविधा...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 03:55 AM IST
Lakhisarai News - creating caste residential income certificate will no longer be a block office
अब लोगाें को जाति, आवासीय एवं आय प्रमाण पत्र बनाने के लिए प्रखंड कार्यालय का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। यह सुविधा लोगों को उनके पंचायत सरकार भवन में मिलेगी। इस संबंध में बिहार प्रशासनिक सुधार मिशन सोसाइटी सामान्य प्रशासन विभाग के अपर मुख्य सचिव सह मिशन निदेशक आमिर सुबहानी ने बिहार के सभी डीएम को पत्र भेजकर पंचायत स्तर पर निर्मित पंचायत सरकार भवनों में आरटीपीएस काउंटर स्थापित करने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पंचायती राज विभाग से प्राप्त प्रस्ताव के आलोक में बिहार लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत आच्छादित सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा दी जाने वाली सेवाएं जाति, आय, आवासीय प्रमाण पत्र (ऑनलाइन) सेवा दी जाएगी।

पहले चरण में 1055 पंचायत सरकार भवन में लोगों को दी जाएगी सुविधा

प्रथम चरण में 1055 पंचायत सरकार भवन में आरटीपीएस काउंटर खोल कर सुविधा दी जाएगी। पंचायत सरकार में चलने वाले आरटीपीएस काउंटर का संचालन पंचायती राज विभाग द्वारा किया जाएगा। काउंटर पर पंचायती राज विभाग द्वारा सृजित कार्यपालक सहायकों के संविदात्मक पद पर नियोजित कार्यपालक सहायक के द्वारा किया जाएगा। बिहार लोक सेवाओं का अधिकार अधिनियम के अंतर्गत सामान्य प्रशासन विभाग के द्वारा दी जाने वाली सेवाएं जाति, आय, आवासीय प्रमाण पत्र (मात्र ऑनलाइन) से संबंधित आवेदन पत्र को कार्यपालक सहायक द्वारा आरटीपीएस ऑनलाइन के निर्धारित लिंक से ऑनलाइन समर्पित किया जाएगा। समर्पित ऑनलाइन की पावती को प्रिंट कर नागरिकों को उपलब्ध कराया जाएगा। अंचलाधिकारी के द्वारा निर्गत डिजिटल हस्ताक्षरयुक्त जाति, आय, आवासीय प्रमाण पत्र आरटीपीएस ऑनलाइन बेवसाइट पर अपलोड किए जाते है। आवेदक के द्वारा मांग किए जाने पर इनको डाउनलोड कर प्रिंट कर निर्धारित पहचान पत्रों के आलोक में कार्यपालक सहायक द्वारा उपलब्ध कराया जाएगा। यह पूरी व्यवस्था नि:शुल्क होगी।

चिट्ठी आने के बाद आरटीपीएस काउंटर खोलने की होगी व्यवस्था


X
Lakhisarai News - creating caste residential income certificate will no longer be a block office
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..