पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Lakhisarai News No Trains On Kiul Jamalpur Bhagalpur Route From 10 Am To 4 Pm

किऊल-जमालपुर-भागलपुर रूट पर 10 से शाम चार बजे तक ट्रेन नहीं

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
{किऊल में आरआरआई कार्य को लेकर भागलपुर रूट की आधा दर्जन ट्रेनों का परिचालन है बंद

किऊल- जमालपुर- भागलपुर दिशा में यात्रा करना इन दिनों मुश्किल भरा काम है। रेलवे की व्यवस्था यात्रियों को रूला रही है। यात्रियों को स्टेशन छह से आठ घंटे तक ट्रेनों की प्रतीक्षा करनी पड़ रही है। किऊल से जमालपुर का 46 किलोमीटर का सफर भी दूर होता जा रहा है। इस रूट की ज्यादातर पैसेंजर ट्रेनें फिलहाल किऊल नहीं आ रही है।

किऊल से एक स्टेशन पहले धनौरी से ही ट्रेनों को लौटाया जा रहा है। जो भी एक्सप्रेस ट्रेनें चल रही है, उन ट्रेनों का छोटे स्टेशनों पर ठहराव नहीं हैं। दिन में 9.55 में किऊल से रवाना होने वाली विक्रमशिला एक्सप्रेस के बाद जमालपुर- भागलपुर जाने के लिए दूसरी कोई ट्रेनें नहीं हैं। इस दिशा में जाने वाले यात्रियों को शाम चार बजे तक इंतजार करना पड़ रहा है। सुबह और दोपहर में किऊल- जमालपुर सेक्शन में चलने वाली छह जोड़ी पैसेंजर ट्रेनों के अलावा रोजाना चलने वाली हावड़ा- गया एक्सप्रेस 26 फरवरी से ही किऊल के रास्ते परिचालन बंद कर दिया गया है। 19 मार्च से आनंद विहार से भागलपुर को जाने वाली ट्रेनें भी किऊल होकर नहीं चलेगी। हालांकि 4 मार्च को किऊल पंहुचे ईसीआर के जीएम ललित चंद्र त्रिवेदी ने यात्रियों की सुविधा के लिए 19 अप्रैल से किऊल-जमालपुर सेक्शन की ट्रेनों का परिचालन सुनिश्चत करने की बात कही है। किऊल में 23 मार्च से शुरू हो रहे आरआरआई के चलते ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हो रहा है। अन्य दूसरी ट्रेनों में यात्रियों की बढ़ती भीड़ के कारण सफर करना मुश्किल हो रहा है।

दिन में विक्रमशिला छूटी तो ट्रेन की आफत

इन दिनों किऊल में आरआरआई को लेकर किऊल में युद्ध स्तर पर काम चल रहा है। इस कार्य के चलते ही इस रूट की आधा दर्जन से ज्यादा ट्रेनें प्रभावित है। सुबह 10 बजे भागलपुर जाने वाली विक्रमशिला छूटी तो यात्री शात सात से पहले भागलपुर नहीं पहुंच पाएंगे। दूसरी कोई भी ट्रेन छह घंटे के बाद ही मिलेगी। सप्ताह में चार दिन चलने वाली लोकमान्य तिलक एवं दो दिन चलने वाली सुरत- भागलपुर एक्सप्रेस शाम चार के बाद किऊल आती है।

होली पर बढ़ रही यात्रियों की संख्या

होली पर यात्रियों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। विभिन्न रूट से किऊल पहुंचने वाले यात्री ट्रेनें बदलकर दूसरी रूट की ओर जाते हैं। एक ओर जहां यात्रियों की संख्या सामान्य दिनों से दोगुनी हो गई है वहीं ट्रेनों की संख्या कम हो गई है। यात्री तुलना में ट्रेनों की संख्या कम होने से दूसरी ट्रेनों में यात्रियों का बोझ काफी बढ़ गया है। उमड़ रही भीड़ में ट्रेनों पर चढ़ना एवं उतरना मुश्किल हो गया है।

किऊल से भागलपुर सफर आसान नहीं

किऊल से जमालपुर 46 एवं भागलपुर तक का 99 किलोमीटर का सफर आसान नहीं है। भागलपुर की ओर जाने के लिए सुबह 3 बजे जनसेवा एक्सप्रेस है। सुबह 4.30 बजे जयनगर-हावड़ा फास्ट पैसेंजर है। इसके बाद की तीन डेमू ट्रेनों का किऊल से परिचालन फिलहाल बंद कर दिया गया है। इसके पांच घंटे के बाद भागलपुर जाने के लिए विक्रमशिला एक्सप्रेस ही है। गया-जमालपुर एवं किऊल-जमालपुर डेमू का परिचालन बंद है।

23 मार्च से शुरू हो रहे आरआरआई कार्य के कारण ट्रेनों का परिचालन हो रहा प्रभावित

19 मार्च से किऊल होकर नहीं चलेगी विक्रमशिला

किऊल स्टेशन पर गलत दिशा में ट्रेनों का इंतजार करतंे यात्री।
खबरें और भी हैं...