पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एनीमिया मुक्त कार्यक्रम को लेकर प्रशिक्षण आज

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
एनीमिया मुक्त कार्यक्रम के तहत सोमवार को मध्य विद्यालय रामपुर मननपुर स्थित बीआरसी कार्यालय में प्रखण्ड के सभी विद्यालयों के शिक्षक एवं शिक्षिकाओं का प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इस संदर्भ में सभी विद्यालयों के प्रधानाध्यापक को निर्देश दिया गया है कि अपने अपने विद्यालय से एक शिक्षक व एक शिक्षिका को प्रशिक्षण के लिए नामित करेंगे।साथ विद्यालय में नामांकित वर्गवार व कोटिवार छात्र छात्राओं का विहित प्रपत्र के अनुसार बनाकर अपने सीआरसीसी के पास जमा करने का निर्देश दिया गया।

आस्था अाषाढ़ पूर्णिमा को देवघर में बाबा का करेंगे अभिषेक, किऊल मेंं दावाें के अनुसार व्यवस्था नहीं

कांवरियाें का जत्था पहुंचा किऊल, सुल्तानगंज हुए रवाना

भास्कर न्यूज| लखीसराय

दूर-दराज के कांवरिया जत्थों का किऊल पहुंचने लगा है। किऊल से रेल एवं सड़क मार्ग से कांवरिए सुल्तानगंज जाते हैं। स्टेशन पर ट्रेन की सुविधा तो बाहर सड़क मार्ग से सुल्तानगंज पहुंचने की सुविधा है।

हालांकि किऊल स्टेशन पर रेलवे की ओर से कांवरिए की सुविधा के लिए कोई ्यवस्था नहीं की गई है। प्रभारी डीआरएम के आदेश पर एक नंबर प्लेटफॉर्म पर पहुंचने का रास्ता भी बदहाल है। हालांकि बिजली विभाग स्टेशन पर रोशनी की व्यवस्थाकर रहा है। प्लेटफॉर्म पर बने गड्ढों को भरा गया है। प्रत्येक साल श्रावणी मेले के दौरान किऊल के रास्ते बड़ी संख्या में कांवरिए सुल्तानगंज जाते हैं। सुल्तानगंज के लिए स्पेशल ट्रेन की सुविधा नहीं होने से कांवरिए को सुल्तानगंज जाने के लिए काफी देर तक ट्रेनों की प्रतीक्षा करनी होती है। इस साल रेलवे ने रांची से भागलपुर सप्ताह में दो दिन चलेने वाली श्रावणी मेला ट्रेन चलाने की घोषणा की है। यह ट्रेन आज से चलेगी। किऊल-जमालपुर के बीच चलने वाली ट्रेन का विस्तार भी सुल्तानगंज तक करने से किऊल से सुल्तानगंज जाने वाले कांवरिए को सुविधा मिलेगी। भीड़ भी नियंत्रित की जा सकेगी।

बायपास में फेल हुआ गिट्टी लदा ट्रक का स्टेयरिंग, दो घंटे जाम में फंसे लोग

भास्कर न्यूज | बड़हिया

रविवार को बड़हिया के बायपास मोड़ नगर पंचायत के पास गिट्टी लदा का स्टेयरिंग टूटने से कई घंटे तक सड़क जाम रहा। इससे वाहनों के आवागमन मे काफी परेशानी हुई। छोटे-छोटे वाहनों को जाे पटना एवं लखीसराय की अाेर जाने वाले थे उन्हें किसी तरह मेन लाइन के रास्ते से निकाला गया।

रविवार को साढ़े 3 बजे नगर पंचायत मोड़ पास गिट्टी लोड ट्रक का स्टेयरिंग टूट जाने से जाम की समस्या बनी रही। साइकिल एवं बाइक छोड़कर अन्य किसी भी वाहन का आवागमन सड़क में नहीं हो सका। सड़क जाम रहने के कारण ट्रकों का लंबा काफिला लगा रहा। जाम के दौरान छोटे वाहन चालकों के मनमानी रवैये के कारण जल्द निकलने की अफरा-तफरी में मुख्य सड़क मार्ग भी जाम हो जाता था। जाम शाम साढ़े 3 बजे से पांच बजे तक लगा रहा।

बड़हिया बायपास मोड़ के पास जाम में फंसे वाहन।

सुल्तानगंज जाने के लिए किऊल स्टेशन पर कांवरियों का जत्था।

रेलवे ट्रैक जाम करने का आरोपी गिरफ्तार

लखीसराय| लखीसराय पुलिस ने शनिवार की रात छापेमारी कर रेलवे ट्रैक जाम करने के आरोपी रामनगर निवासी मनोज मंडल को गिरफ्तार किया। लखीसराय थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि मनकट्‌ठा के पास रेलवे ट्रैक को जाम करने के मामले में मनोज मंडल के विरूद्ध एफआईआर दर्ज किया गया था।

अवैध बालू का उठाव करने के दौरान ट्रैक्टर जब्त

लखीसराय| तेतरहाट पुलिस ने रविवार को नोनगढ़ बालू घाट से अवैध तरीके से बालू उठाव कर रहे एक ट्रैक्टर को जब्त कर लिया है। हालांकि चालक फरार हो गया है।

बोल बम के जयकारे से गूंजा किऊल स्टेशन

किऊल स्टेशन परिसर बोल बम की नारों से गूंजने लगा है। रविवार को कांवरियों का जत्था विक्रमशिला एक्सप्रेस से सुल्तानगंज रवाना हुआ। इसके पहले जयनगर हावड़ा-पैसेंजर एवं दानापुर- साहिबगंज इंटरसिटी एक्सप्रेस से कांवरिए सुल्तानगंज गए। कांवरियों ने बताया कि आषाढ़ की पूर्णिमा को देवघर में भोले बाबा का जलाभिषेक करेेंगे। एक महीने तक कांवरिए के किऊल के रास्ते सुल्तानगंज जाने एवं देवघर से लौटने का सिलसिला चलता रहेगा।

अपराधियों की धरपकड़ के लिए 12 घंटे तक चलाया अभियान, कई अपराधी गिरफ्तार

भास्कर न्यूज| लखीसराय

ट्रेनों में बढ़ते अपराध को रोकने के लिए शनिवार को आरपीएफ एवं जीआरपी द्वारा संयुक्त अभियान चलाया गया। देर रात चले अभियान में पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। अभियान में किऊल, मोकामा एवं बरौनी आरपीएफ एवं जीआरपी शामिल थे। जानकारी के अनुसार लगभग 12 घंटे तक चले अभियान में कई बड़े अपराधी गिरोह के सदस्यों को पकड़ने में पुलिस सफलता मिली र्है। किऊल- झाझा एवं मोकामा रेल सेक्शन में ज्यादा अपराध होते हैं।

नशाखुरानी गिरोह से लेकर यात्रियों की सामान उड़ाने वाले एवं ट्रेन लूटेरा गिरोह सक्रिय है। हाल के दिनों में ट्रेनों के एसी बोगी से यात्रियों सामान चाेरी होने की घटनाओं के बाद रेल पुलिस ने घटना को रोकने के लिए रणनीति बनाई थी। शनिवार को पुलिस ने बनाए रणनीति के तहत कार्रवाई की तो सफलता मिली। ट्रेनों में बढ़ते अपराध को रोकने के लिए चले अभियान में कर्इ अपराधियाें काे पकड़ने में सफलता मिली। पकड़े गए अपराधियों का रेलवे क्षेत्र में अपराध का पुराना इतिहास रहा है। हालांकि पुलिस ने अपराधियों का नाम तो नहीं बताया लेकिन कहा कि इन सभी अपराधियों के पुराने इतिहास को खंगाल रही है। ट्रेनों में लूट का मामला हो या फिर छिनतई व यात्रियों के समान उड़ाने का, ऐसे गिरोह झाझा से लेकर मोकामा एवं बरौनी में सक्रिय है। झाझा, किऊल, मोकामा एवं बरौनी का रेल सेक्शन अपराध के लिए सबसे सुरक्षित माना जाता है। रेलवे के इन क्षेत्रों में ज्यादा आपराधिक वारदातें होती रही है।

किऊल, मोकामा, बरौनी आरपीएफ एवं जीआरपी के जवानों ने संयुक्त रूप से की छापेमारी

150 पाऊच देशी मसालेदार शराब बरामद, भेजा जेल

लखीसराय | लखीसराय थाना की पुलिस ने शनिवार की रात विद्यापीठ चौक के पास से थैला में रखा 150 पाऊच देसी मसालेदार शराब की खेप को बरामद किया है। हालांकि पुलिस की कार्रवाई के दौरान धंधेबाज फरार होने में सफल रहा। थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि गुप्त सूचना मिली थी कि विद्यापीठ चौक के पास धंधेबाज किसी व्यक्ति को शराब की डिलेवरी देने वाला है। इस सूचना पर पुलिस अपना जाल बिछा कर नजर रखे हुए थे। इसी दौरान ठेला के पास से एक थैला से 150 पाऊच देसी मसालेदार शराब बरामद किया गया। इस मामले में अज्ञात के विरूद्ध एफआईआर दर्ज किया गया है।

16 जुलाई तक होगा दस्तावेज सत्यापन और शुल्क भुगतान

पार्ट-1 में नामांकन के लिए विवि ने दोबारा बढ़ाई तिथि

भास्कर न्यूज| मुंगेर। लखीसराय

मुंगेर विश्वविद्यालय द्वारा सत्र 2019-22 स्नातक पार्ट वन में नामांकन को लेकर निकाले गए प्रथम एवं द्वितीय मेरिट लिस्ट में चयनित अभ्यर्थियों के दस्तावेज सत्यापन एवं ऑनलाइन फीस जमा करने की तिथि दोबारा 16 जुलाई तक बढ़ा गया है। नोडल पदाधिकारी डॉ अमर कुमार ने बताया कि प्रथम एवं द्वितीय मेरिट लिस्ट में काफी अभ्यर्थी दस्तावेज सत्यापन और ऑनलाइन फीस जमा नहीं कर पाए थे। इसलिए विवि प्रशासन द्वारा उन अभ्यर्थियों के लिए दस्तावेज सत्यापन कराने और ऑनलाइन फीस जमा करने के लिए एडमिशन पोर्टल 15 से 16 जुलाई 2019 तक खुला रहेगा। इसके बाद उनका नाम पोर्टल पर से हटा दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि 15 एवं 16 जुलाई तक भी जो अभ्यर्थी अपना दस्तावेज सत्यापन और मैरिट लिस्ट के आधार पर दिए गए कॉलेजों में नामांकन के लिए ऑनलाइन फीस जमा नहीं करते हैं तो विश्वविद्यालय द्वारा माना जाएगा कि वे मुंगेर यूनिवर्सिटी में नामांकन के लिए इच्छुक नहीं हैं।

खबरें और भी हैं...