बीएनएमयू को इतिहास विषय में मिले 15 असिस्टेंट प्रोफेसर, होगी सहूलियत

Madhepura News - बीएन मंडल विश्वविद्यालय ने इतिहास विषय के लिए बीपीएससी से चयनित 15 असिस्टेंट प्रोफेसर को कॉलेज आवंटित कर दिया है।...

Dec 04, 2019, 09:42 AM IST
बीएन मंडल विश्वविद्यालय ने इतिहास विषय के लिए बीपीएससी से चयनित 15 असिस्टेंट प्रोफेसर को कॉलेज आवंटित कर दिया है। कुलसचिव कार्यालय से जारी अधिसूचना के मुताबिक विवेक कुमार को एमएलटी कॉलेज सहरसा, संतोष कुमार को पीएस कॉलेज मधेपुरा, अनिल कुमार को बीएनएमवी कॉलेज मधेपुरा, प्रीति कुमारी को एलएनएमएस कॉलेज वीरपुर सुपौल, मनीष कुमार को केपी कॉलेज मुरलीगंज, अर्चना चौधरी को पीजी सेंटर सहरसा मिला है।

प्रभाकर कुमार को बीएनएमवी मधेपुरा, स्वर्ण मणि को टीपी कॉलेज मधेपुरा, मधुलिका सिंहा को आरजेएम कॉलेज सहरसा, अमिश कुमार को आरएम कॉलेज सहरसा, अमरेन्द्र कुमार को केपी कॉलेज मुरलीगंज, संजीव कुमार को एमएचएम कॉलेज सोनबरसा सहरसा, मो. तौकीर हासिम को एचपीएस कॉलेज निर्मली सुपौल, दीपक कुमार को बीएसएस कॉलेज सुपौल, अरुण कुमार महतो को एचएस कॉलेज उदाकिशुनगंज पदभार ग्रहण करने को कहा गया है।

टीपी कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर स्वर्णमणि ने किया योगदान : टीपी कॉलेज में मंगलवार को प्राचार्य डॉ. केपी यादव के समक्ष असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर स्वर्णमणि ने अपना योगदान किया। इस अवसर पर प्राचार्य ने कहा कि टीपी कॉलेज से पढ़ाई करने वाली छात्रा इसी महाविद्यालय में असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर पर योगदान की हैं। यह बहुत खुशी की बात है। ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है।

उन्होंने कहा कि महाविद्यालय में इतिहास विषय में शिक्षकों की संख्या कम थी। अब इनके योगदान से पढ़ाई सुचारू रूप से चलेगी। इस अवसर पर स्वर्णमणि ने कहा कि शिक्षक का मुख्य कार्य का पढ़ना और पढ़ाना होता है। इसका वे सदा पालन करेंगे। मौके पर जिला परिषद अध्यक्ष मंजू देवी, नरेश यादव, इतिहास विभाग के विभागाध्यक्ष गजेन्द्र यादव, राजनीति विज्ञान के विभागाध्यक्ष सह सीनेट व सिंडिकेट सदस्य डॉ. जवाहर पासवान, अपूर्व कुमार मल्लिक, राजनीति विज्ञान विभाग के रिसर्च स्कॉलर सारंग तनय, शिक्षक सुशांत कुमार उर्फ बमबम यादव, खुशबू शुक्ला, प्रकृति कुमारी, डॉ. मिथिलेश कुमार, डॉ. मनोज कुमार, डॉ. वीणा कुमारी, डॉ. रोहणी कुमारी, डॉ. मुमताज आलम, डॉ. उपेन्द्र प्रसाद यादव, अरुण कुमार, कम्प्यूटर ऑपरेटर मनीष कुमार, हिमांशू राज, सुनील, सहित अन्य लोग मौजूद थे।

टीपी कॉलेज में प्राचार्य के समक्ष योगदान करते स्वर्णमणि व उपस्थित अन्य प्रोफेसर।

डॉ. प्रभाकर बने बीएनएमवी कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर

बीपीएससी से चयनित मुरलीगंज प्रखंड के परमानंदपुर निवासी डॉ. प्रभाकर कुमार ने मंगलवार को बीएनएमवी कॉलेज में असिस्टेंट प्रोफेसर के तौर योगदान दिया। शिक्षक माता-पिता सुलोचना देवी एवं कमलेश्वरी प्रसाद के तीसरे पुत्र के रूप में जन्मे प्रभाकर शुरू से ही पढ़ाई में मेहनत और लगन से पढ़ाई पूरी करने के बाद सहायक शिक्षक के रूप में प्राथमिक विद्यालय बेलोडीह में उन्होंने अपनी सेवा दिया। जिसके बाद बीपीएससी के माध्यम से उन्होंने प्राध्यापक बन ग्रामीणों का मान बढ़ाया है। डॉ. प्रभाकर के इस सफलता पर पूरे गांव में हर्ष का माहौल है।

विवि में डिग्री पार्ट- टू की परीक्षा में शामिल होंगे 40 हजार परीक्षार्थी

मधेपुरा |
विश्वविद्यालय प्रशासन ने डिग्री पार्ट टू परीक्षा 2019 की तैयारी पूरी कर ली है। अविभाजित बीएनएमयू क्षेत्राधीन 33 परीक्षा केंद्रों पर छह दिसंबर से डिग्री पार्ट टू की परीक्षा आयोजित की जाएगी। विवि ने परीक्षा में शामिल होने वाले सभी छात्रों का प्रवेश पत्र कॉलेजों को भेज दिया है। कॉलेज से छात्र-छात्राएं अपना एडमिट कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। इस बार डिग्री पार्ट टू की परीक्षा में लगभग 40 हजार परीक्षार्थी शामिल होंगे। इसके लिए मधेपुरा, सहरसा, सुपौल, पूर्णिया, कटिहार व अररिया में कुल 33 परीक्षा केंद्र बनाया गया है। परीक्षा दोनों पालियों में आयोजित होगी। पहली पाली सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक और दूसरी पाली दोपहर दो से शाम पांच बजे तक होगी। प्रति कुलपति डॉ. फारुक अली ने बताया कि परीक्षा के दौरान किसी तरह की गड़बड़ी नहीं हो इसके लिए सभी केंद्रों पर विशेष तैयारी होगी। परीक्षा के दौरान विधि- व्यवस्था बनाए रखने के लिए केंद्रों पर सुरक्षा का कड़े इंतजाम किए गए हैं। विवि द्वारा आयोजित होने वाली विभिन्न परीक्षाओं के लिए जिन छात्रों के एडमिट कार्ड में कुछ त्रुटि रह गई हो, वे संबंधित महाविद्यालय में आवेदन व साक्ष्य प्रस्तुत कर परीक्षा से पूर्व अपने एडमिट कार्ड में सुधार करवा सकते हैं। विवि की ओर से सभी प्राचार्यों को निर्देश दिया है कि एडमिट कार्ड के त्रुटि में सुधार कर उसकी एक प्रति विवि के एडमिट कार्ड सेक्शन में जमा करवा दें, ताकि आगे छात्रों को कोई परेशानी न हो।

‘सदन में भूपेंद्र नारायण मंडल’ नामक पुस्तक का किया जाएगा लोकार्पण

मंगलवार को आयोजित बैठक में मौजूद विचार मंच के सदस्य।

मधेपुरा | भूपेंद्र नारायण मंडल विचार मंच के कार्यकारिणी की बैठक मंगलवार को स्थानीय श्याम प्रिया सदन में मंच के अध्यक्ष प्रो. श्यामल किशोर यादव की अध्यक्षता में हुई। बैठक में आगामी एक फरवरी को भूपेंद्र नारायण मंडल की जयंती को भव्य रूप से मनाने पर विचार-विमर्श किया गया। प्रो. श्यामल किशोर यादव ने कहा कि आगामी जयंती समारोह व्यापक होने के साथ-साथ कई मायनों में खास भी होगा। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर बीएन मंडल स्मृति ग्रन्थ खंड दो के अन्तर्गत सदन में भूपेंद्र नारायण मंडल का भव्य लोकार्पण किया जाएगा। बैठक का संचालन करते हुए मंच के सचिव प्रो. आलोक कुमार ने कहा कि प्रकाशन से पहले की सारी तैयारी पूरी कर ली गई है। कई दौर में संपादक मंडल द्वारा प्रूफ रीडिंग को अंजाम दे हर स्तर पर पुस्तक को श्रेष्ठ रूप देने का प्रयास किया गया है। लोकार्पण के लिए प्रखर समाजवादी नेता शरद यादव और प्रख्यात राजनीतिक विचारक योगेंद्र यादव को आमंत्रित करने पर सहमति बनी। इसके साथ ही समाजवादी विचारधारा से जुड़े लोगों को आमंत्रित करने का निर्णय लिया गया। उन्होंने कहा कि जयंती समारोह को यादगार बनाने के लिए अभी से ही तैयारी शुरू कर दी गई है। इस अवसर पर सचिव द्वारा पुस्तक की फाइनल प्रति उपस्थित सदस्यों के बीच अवलोकन के लिए प्रस्तुत की गई।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना