• Hindi News
  • Bihar
  • Madhepura
  • Chausa News india39s first pm pandit jawaharlal nehru39s biggest contribution in establishing democracy in india sachindra paswan

भारत में लोकतंत्र को स्थापित करने में देश के पहले पीएम पंडित जवाहरलाल नेहरू का सबसे बड़ा योगदान: सचिंद्र पासवान

Madhepura News - पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती के अवसर पर गुरुवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित हादेव लाल मध्य विद्यालय में बाल दिवस का...

Nov 15, 2019, 07:11 AM IST
पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती के अवसर पर गुरुवार को प्रखंड मुख्यालय स्थित हादेव लाल मध्य विद्यालय में बाल दिवस का आयोजन किया गया। सर्वप्रथम प्रार्थना सभा के दौरान पंडित नेहरू के चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। एचएम सचिन्द्र पासवान ने बताया कि बाल दिवस के अवसर पर बच्चों के बीच 50, 100 और 200 मीटर दौड़, अक्षर दौड़, गणित दौड़, जलेबी दौड़, ऊंची कूद, लंबीकूद तथा निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया।

उन्होंने बताया कि वर्गवार आयोजित उक्त प्रतियोगिता में चयनित छात्र मो. जावेद, अमजद आलम, धीरज कुमार, भोलू आलम, शारीक, सुमित आदि को प्रथम। राजा कुमार, सद्दाम आलम, प्रिंस कुमार, सोनू कुमार, मोहम्मद जाहिर व अन्य को द्वितीय। जयदेव कुमार, सूरज कुमार, नयन कुमार, इस्तियाक, समीर, मन्नू को तृतीय पुरस्कार प्रदान किया गया। इससे पूर्व आयोजित कार्यक्रम में एचएम पासवान ने कहा कि संपूर्ण भारत पंडित नेहरू के व्यक्तित्व और कृतित्व के ऋणी हैं। उनके नेतृत्व में ही भारत में लोकतांत्रिक, शैक्षणिक और औद्योगिक सूर्य का उदय हुआ था। लिहाजा उन्हें आधुनिक भारत का शिल्पी भी कहा जा सकता है। उन्होंने कहा कि भारत में लोकतंत्र को स्थापित करने में पंडित नेहरू का बड़ा योगदान था। वरीय शिक्षक सत्यप्रकाश भारती और याहिया सिद्दीकी ने कहा कि पंडित नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे। इसलिए उन्हें चाचा नेहरू कहा जाता है। उन्होंने कहा कि वे बच्चों को देश का भविष्य मानते थे। लिहाजा वे बच्चों की उम्दा परवरिश पर जोर दिया करते थे। मौके पर शिक्षक प्रणव कुमार, राजेश कुमार, भालचंद्र मंडल, शमशाद नदाफ, फैयाज अहमद, शिक्षिका मंजू कुमारी, नुजहत परवीन, रीणा कुमारी व श्वेता कुमारी सहित अन्य भी उपस्थित थीं।


चौसा महादेव लाल मध्य विद्यालय : आयोजित खेलकूद प्रतियोगिता में शामिल विद्यार्थी।

सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में मनाया गया बाल दिवस

कुमारखंड |
प्रखंड के सरकारी एवं गैर सरकारी विद्यालयों में देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती के मौके पर बाल दिवस का आयोजन कर उन्हें याद किया गया। कार्यक्रम में छात्रों को उपहार स्वरूप बैलून का वितरण कर खेलकूद प्रतियोगिता भी आयोजित की गई। मध्य विद्यालय इसराइन कला सीआरसी स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय जोरावरगंज (हिंदी) में एचएम शंभु कुमार के नेतृत्व में 200 मीटर दौड़, 100 मीटर दौड़ एवं कुर्सी दौड़ का आयोजन किया गया। सभी विधा में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को संकुल समन्वयक अनंत कुमार ने पुरस्कृत किया। मौके पर सीआरसी समन्वयक कुमार ने कहा कि पंडित नेहरू का बच्चों के प्रति अपार स्नेह और प्यार को देखते हुए उनके जन्म दिवस को राष्ट्रीय बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है। मौके पर शिक्षक राजेंद्र मुखिया, सुरेश कुमार, कुमार अनुराग, इश्तियाक अहमद एवं राजकुमारी सहित अन्य भी थे। वहीं उत्क्रमित उर्दू मध्य विद्यालय जोरावरगंज में एचएम मो. जाबिर अली के नेतृत्व में बाल दिवस का आयोजन किया गया।

उत्क्रमित मध्य विद्यालय जोरावरगंज (हिंदी ) : बैलून पाकर खुशी का इजहार करते छात्र।

चौसा : पंडित नेहरू के योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है

चौसा | प्रखंड मुख्यालय के विभिन्न विद्यालयों में देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की जयंती बाल दिवस के रूप में धूमधाम से मनाई गई। इस दौरान बच्चों ने प्रभातफेरी निकाली। कन्या मध्य विद्यालय चौसा में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानाध्यापक विजय पासवान ने कहा कि आधुनिक भारत के निर्माण में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। शिक्षक हकीमउद्दीन ने कहा कि बच्चों में पंडित जवाहर लाल नेहरू खासे प्रिय थे। बच्चे भी उन्हें प्यार से चाचा नेहरू कहकर पुकारते थे। कार्यक्रम में चाचा नेहरू के चित्र पर माल्यार्पण करते हुए सभी शिक्षकों ने विद्यार्थियों के बीच उनके जीवन के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला। इसके पूर्व विद्यालय के बच्चों एवं शिक्षकों ने प्रधानाध्यापक विजय पासवान के नेतृत्व में प्रभात फेरी निकाली। वहीं उत्क्रमित मध्य विद्यालय बड़की बढ़ौना में एचएम गौतम कुमार गुप्त, शिक्षक मनीष कुमार, सोनी शर्मा, बुद्धदेव कुमार, साधना भारती, वकील रजक, कैलाश ऋषिदेव और बाल संसद के सदस्यों ने चाचा नेहरू के चित्र पर माल्यार्पण किया। इस अवसर पर प्रीति, मीनू, काजल प्रकाश, प्रवीण, अंशुप्रिया व मनोरंजन सहित अन्य भी थे। वहीं चौसा बाजार स्थित कंपटीशन जोन का उद्घाटन बाल दिवस के मौके पर किया गया। जिसका उद्घाटन 20 सूत्री के पूर्व अध्यक्ष अंबिका प्रसाद गुप्ता ने किया। कार्यक्रम का संचालन संजय कुमार सुमन ने किया। मौके पर थानाध्यक्ष महेश कुमार रजक, बाबा विशु राउत इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य प्रो. उत्तम कुमार, डॉ. सुरेश प्रसाद साह, निर्मल कुमार, सीओ चंद्रजीत प्रकाश, शिक्षक रमण कुमार राही, केशव कुमार, रंजीत कुमार, गौतम कुमार गुप्त व शंभु शरण चौसरिया सहित अन्य भी थे।


आरआर ग्रीनफिल्ड स्कूल : बाल दिवस पर आयोजित खेल में भाग लेते छात्र-छात्राएं।

धूमधाम से मनाया गया बाल दिवस

चंद्रिका पब्लिक स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में शामिल शिक्षक-शिक्षिकाएं व छात्र।

मधेपुरा | जिला मुख्यालय के आरआर ग्रीनफील्ड नेशनल स्कूल में गुरुवार को बाल दिवस का कार्यक्रम बड़े ही उत्साह के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ बच्चों को बाल दिवस की शुभकामनाओं के साथ किया गया। शिक्षकों ने बताया कि चाचा नेहरू के जन्म दिवस को ही बाल दिवस के रूप में मनाया जाने लगा। मौके पर स्कूल के प्रबंध निदेशक राजेश कुमार राजू ने कहा कि बाल दिवस बच्चों के लिए खास दिन होता है। उन्होंने कहा कि यहां के बच्चों में बहुत काबिलियत है बस जरूरत है उनकी प्रतिभा को पहचानने की। हर बच्चा अद्वितीय है, हम अपने बच्चे की तुलना किसी भी बच्चे से न करें। आरआर ग्रीनफील्ड इंटरनेशनल स्कूल में विभिन्न प्रकार की खेल प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमें मार्बल स्पून, दौड़, म्यूजिकल चेयर का आयोजन हुआ।

केक काटकर मनाया पंडित नेहरू का जन्मदिन

जिला मुख्यालय स्थित चंद्रिका पब्लिक स्कूल में गुरुवार को देश के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का जन्मदिन बाल दिवस के रूप में हर्षोल्लास पूर्वक मनाया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन स्कूल के संस्थापक चंद्रशेखर कुमार व प्रधानाचार्य हेम कुमार ने संयुक्त रूप से केक काटकर किया। इस अवसर पर हेम कुमार ने कहा कि चाचा नेहरू बच्चों से बहुत प्यार करते थे। वे अक्सर कहा करते थे कि बच्चे ही देश का भविष्य हैं। अगर बच्चे अच्छी शिक्षा और परवरिश में रखें।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना