सामाजिक विकृति पैदा कर रही पोर्न साइट, केंद्र सरकार अविलंब लगाए इस पर रोक

Madhepura News - देश में पोर्न साइट्स पर प्रतिबंध लगाने के लिए दैनिक भास्कर की ओर से चलाई जा रही मुहिम में बुद्धिजीवी वर्ग व...

Feb 22, 2020, 07:10 AM IST
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
देश में पोर्न साइट्स पर प्रतिबंध लगाने के लिए दैनिक भास्कर की ओर से चलाई जा रही मुहिम में बुद्धिजीवी वर्ग व विभिन्न राजनीतिक दलों के जनप्रतिनिधियों ने भी एक स्वर में इसे बंद करने की मांग की है। लोगों ने कहा कि देश में पोर्न वेबसाइट सामाजिक विकृति पैदा कर रही है। इस पर पूर्णत: प्रतिबंध लगना चाहिए। इससे सामाजिक व मानसिक दोनों तरह की परेशानी हो रही है। पोर्न साइट्स देखने से बच्चों व महिलाओं से लेकर युवाओं में भी सामाजिक कुरीतियों से लेकर कई आपराधिक घटनाएं बढ़ी हैं। पोर्न साइट्स को सरकार को हमेशा के लिए बंद कर देना चाहिए। देश के 95 प्रतिशत लोग इसके बंद करने के पक्ष में हैं। इससे समाज में रेप की घटनाएं बढ़ रही है। जिस उम्र में लोग गिल्ली डंडा खेलते थे उस उम्र में बच्चे पोर्न साइट्स देख रहे हैं।

दैनिक भास्कर की मुहिम में उदाकिशुनगंज अनुमंडल के बुद्धिजीवियों और जनप्रतिनिधियों ने रखे अपने-अपने विचार, सभी ने बताया सराहनीय प्रयास

छात्रों पर पड़ रहा पोर्नोग्राफी का असर, लगे रोक : पूर्व मंत्री डाॅ. रेणु

पूर्व मंत्री डॉ. रेणु कुमारी कुशवाहा ने भास्कर की मुहिम को सराहते हुए कहा कि पोर्नोग्राफी का सबसे बुरा असर विद्यालय के बच्चों और युवाओं पर होता है। इसमें अधिकतर उच्च और उच्चत्तर माध्यमिक विद्यालय के बच्चे व काॅलेज के युवा शामिल हैं। ज्यादातर बच्चों और युवाओं के पास स्मार्ट फोन है। जिसका गलत इस्तेमाल पोर्न वीडियो देखने में करते हैं। कम उम्र होने के कारण इन बच्चों में समझ की कमी होती है, बच्चे देश का भविष्य है और इस उम्र में बच्चों का पोर्न वीडियो देखना देश के भविष्य का बर्बादी है। केंद्र सरकार पोर्न वेबसाइट को पूर्णतः प्रतिबंधित करे।

अश्लीलता किसी भी तरीके से हो वह कानूनन अपराध हो : रमण

उदाकिशुनगंज राजद युवा प्रखंड अध्यक्ष रमण कुमार यादव ने पोर्न वेबसाइट्स पर रोक लगाने की मांग करते हुए कहा कि पोर्न वेबसाइट चलाए जाने को बढ़ावा केंद्र सरकार दे रही है। सरकार को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए और इसपर अविलंब रोक लगाना चाहिए। अश्लीलता किसी भी तरीके से हो, वह कानून के मुताबिक अपराध है। ऐसे में चाहे चाइल्ड पॉर्नोग्राफी हो या सिर्फ पॉर्नोग्राफी या कोई पोर्न वेबसाइट्स हो। इन्हें ब्लॉक करने और रोक लगाने की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की बनती है।

मस्तिष्क को प्रभावित करती है अश्लीलता : विजय कुमार

इंटरनेट पर उपलब्ध पोर्न वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगाने की मांग करते हुए मधेपुरा लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी रह चुके विजय कुमार सिंह कुशवाहा ने कहा कि पिछले कुछ समय से विभिन्न राज्यों में महिलाओं के साथ घटित सामूहिक दुष्कर्म की घटनाओं ने पूरे देश के जनमानस को उद्वेलित किया है। इंटरनेट पर लोगों की असीमित पहुंच के कारण बड़ी संख्या में बच्चे एवं युवा अश्लील, हिंसक एवं अनुचित वीडियो देख रहे हैं, जो अवांछनीय है।

महिलाओं के प्रति अपराध में हो रही वृद्धि, रोक जरूरी है : सुनीला

राजद महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश महासचिव सह पूर्व जिप अध्यक्ष सुनीला देवी ने कहा कि पोर्न वेबसाइट्स के दीर्घकालीन उपयोग से कुछ लोगों की मानसिकता पर नकारात्मक असर पड़ता है। जिससे अनेक सामाजिक समस्याएं उत्पन्न हो रही हैं। महिलाओं के प्रति अपराधों में वृद्धि हो रही है। इंटरनेट सेवा प्रदाताओं को भी कड़े निर्देश देने की आवश्यकता है। साथ ही विभिन्न संगठनों, अभिभावकों, शैक्षिक संस्थानों एवं गैर-सरकारी संस्थानों के सहयोग से व्यापक जागरूकता अभियान चलाना भी आवश्यक है।

भारतीय संस्कृति और सभ्यता के लिए अभिशाप : अनिकेत

चौसा पश्चिमी के जिप सदस्य अनिकेत कुमार मेहता ने पोर्न वेबसाइट्स पर रोक लगाने की मांग करते हुए कहा कि यह हमारे भारतीय संस्कृति और सभ्यता के लिए अभिशाप है। टेक्नोलॉजी के इस आधुनिक युग में आज हर हाथ में स्मार्टफोन और इंटरनेट की सुविधा है। इंटरनेट गलत इस्तेमाल कर आज अधिकांश युवा पोर्न साइट्स देखने काे आदी हो गए हैं। जिसके कारण युवा में मानसिक विकृति उत्पन्न हो रही है। इतना ही नहीं इससे बलात्कार जैसी घटनाएं भी बढ़ी है। देश के युवाओं अश्लील वीडियो देखकर भटकाव एवं अपराध की और तेजी से अग्रसर हो रहे हैं।

पोर्नोग्राफी के कारण बढ़ रहा है अपराध : सत्यनारायण

उदाकिशुनगंज उत्तरी भाजपा मंडल अध्यक्ष सत्यनारायण पोद्दार ने कहा कि पूर्व में महिला संबंधित अपराध जैसे छेड़खानी व दुष्कर्म, नशा के कारण होते थे। लेकिन अब पोर्नोग्राफी भी इसमें शामिल हो गया। जितने दुष्कर्म व छेड़खानी के मामले में आ रहे, उसमें पोर्नोग्राफी सबसे बड़ा कारण है। इस पर रोक लगाया जाना चाहिए। इंटरनेट से जिस तरह से फायदा हो रहा है, उसी तरह पोर्न वेबसाइट्स से नुकसान भी हो रहा है।

Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
X
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay
Chausa News - porn site causing social distortion central government prohibits it without delay

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना