भाद्र महीना के शुक्ल पक्ष की सभी 15 तिथियां पितृ पक्ष के लिए माना जाता है

Madhubani News - शनिवार को लोगों ने तालाबों व नदियों में स्नान कर पितरों की प्रसन्नता व अपने जीवन में खुशहाली के लिए तर्पण किया।...

Bhaskar News Network

Sep 15, 2019, 08:38 AM IST
Madhubani News - all 15 dates of shukla paksha of bhadra month are considered for pitru paksha
शनिवार को लोगों ने तालाबों व नदियों में स्नान कर पितरों की प्रसन्नता व अपने जीवन में खुशहाली के लिए तर्पण किया। साथ ही, पितरों की संतुष्टि को देते हुए पितरों के मृत्यु तिथि के दिन भूखे को भोजन कराने की शुरुआत हो गई। पितृ तर्पण व पितर पक्ष जैसा की नाम से स्पष्ट है तर्पण अर्थात अर्पित करना। सनातन धर्म व शास्त्रपुराणों के अनुसार भाद्र महीना के शुक्ल पक्ष के इन सभी पन्द्रह तिथियों को पितृ पक्ष के नाम से जाना जाता है। इस पन्द्रह दिनों काे पितृ कर्म के लिए काफी महत्वपूर्ण माना गया है। पंडित संतोष चन्द्र झा प्रभाकर ने बताया कि पितर के पिंड के लिए सबसे उपयुक्त जगह गया को माना गया है। यहां आकर पिंडदान करने से पितर अति प्रसन्न होते है। साथ ही, उन्होंने यह भी बताया कि यदि पिता जीवित है तो पुत्र को अपने मां को पिंड देने का अधिकार नहीं है। लेकिन यदि पिता मर गए है और मां जीवित है तो इस स्थिति में पुत्र को यह अधिकार है कि वह अपने पिता को किसी तालाब व सरोबर में जाकर जल से तर्पण कर तृप्त कर सकते है। लेकिन वर्तमान में यह देख जा रहा है कि तलाब की दयनीय हालत के कारण लोग चापाकल पर भी अपने पितर को जल अर्पण कर तृप्त कर रहे है। तिथि के हेर फेर के कारण कही लोग अगस्त मुनि को शुक्रवार को ही तृप्त कर दिए, लेकिन अधिकांश जगहों पर शनिवार की ही सुबह तलाब में लोगों को अगस्त मुनि व पितर दोनों को तृप्त करते देखा गया है।

X
Madhubani News - all 15 dates of shukla paksha of bhadra month are considered for pitru paksha
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना