13 साल के बाद भी एपीएचसी छजना में एक भी प्रसव नहीं

Madhubani News - मरीजों व गर्भवती महिलाओं को बेहतर सुविधाएं देने के लिए यूं तो केंद्र व राज्य सरकार कई दावे कर रही है। लेकिन...

Bhaskar News Network

Apr 17, 2019, 08:45 AM IST
Phulpras News - even after 13 years there is not even a single delivery in aphc chasana
मरीजों व गर्भवती महिलाओं को बेहतर सुविधाएं देने के लिए यूं तो केंद्र व राज्य सरकार कई दावे कर रही है। लेकिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र घोघरडीहा अंतर्गत संचालित अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र छजना आम लोगों तक चिकित्सीय सुविधा पहुंचाने में सफल नहीं हो पा रहा है। अस्पताल का सरकारी बिल्डिंग व संसाधन उपलब्ध रहने के बावजूद दशकों बाद भी अब तक अस्पताल में एक भी प्रसव नहीं कराया जा सका है। जिसके चलते महिलाएं निजी अस्पताल में या दूरस्थ स्थित सरकारी अस्पतालों में जाती है। ग्रामीणों का कहना है कि स्वास्थ्य सेवा बहाल करने के लिए कई बार उच्चाधिकारियों से गुहार व शिकायत भी की गई। बावजूद अब तक कोई पहल नहीं हो सकी। ऐसे में एपीएचसी सिर्फ शोभा की वस्तु बन कर रह गई है। 2006 में गांव के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराने के लिए छजना में एपीएचसी खोला गया था।हालांकि जनहित में कार्यपालक निदेशक सह विशेष सचिव लोकेश कुमार सिंह राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की एक अति महत्वकांक्षी योजना उक्त एपीएचसी छजना को हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर के रूप में विकसित कर आरंभ करने का निर्देश दिया है।

ग्रामीणों के मुताबिक अस्पताल में चोरी की घटना आम बात

ग्रामीणों की माने तो अस्पताल में चोरी की घटना आम हो गई है। 4 अप्रैल को ताला व खिड़की काट कर चार पंखा, पानी मोटर चोरी हो चुका है लेकिन बारह दिन बीतने के बाद भी वहां के कर्मियों द्वारा स्थानीय थाना में आवेदन नहीं दिया गया है। एपीएचसी छजना के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. कपिलेश्वर साहू ने बताया कि इसका मुख्य कारण है, अस्पताल में डॉक्टर, स्टाफ व संसाधनों का अभाव।

X
Phulpras News - even after 13 years there is not even a single delivery in aphc chasana
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना