जयनगर के सीमावर्ती क्षेत्रों में 1000 से अधिक लोगों की स्क्रीनिंग की गई

Madhubani News - चीन के खतरनाक कोरोना नेपाल के रास्ते भारतीय क्षेत्र में न आ जाय को लेकर स्वस्थ्य विभाग एवं स्थानीय प्रशासन अलर्ट...

Feb 22, 2020, 07:46 AM IST
Jainagar News - over 1000 people were screened in the border areas of jayanagar

चीन के खतरनाक कोरोना नेपाल के रास्ते भारतीय क्षेत्र में न आ जाय को लेकर स्वस्थ्य विभाग एवं स्थानीय प्रशासन अलर्ट है। जयनगर के अकोन्हा, बेतोंहा, बलहा व देवधा बॉर्डर पर स्वस्थ्य कर्मी कैंप कर रहे हैं। नेपाल से आने वाले नागरिकों की स्क्रीनिंग की जा रही है। अभी तक करीब 1000 नागरिको की स्क्रीनिंग की गई है। हल्की सी सर्दी जुकाम होने पर लोग अस्पताल में या प्राइवेट डॉक्टर से जांच करवाना नहीं भूलते है। इससे साफ स्पष्ट होता है कि चीन के कोरोना वायरस का डर इंडो नेपाल बॉर्डर पर भी है। चीन के पर्यटक भारतीय क्षेत्र से करीब 30 किमी दूर जनकपुर स्थित विश्व प्रसिद्ध रामजानकी मंदिर भी पहुंचते है। लेकिन अब कोरोना की डर से नेपाल आने वाले पर्यटकों की संख्या में काफी कमी आ गई है। बॉर्डर क्षेत्रो में सैकड़ों लोगों ने कोरोना वायरस के डर से मांस-मछली को खाना छोड़ दिया है। वायरस जानवरों से इंसानों में पहुंचता है तो संक्रमण की दर बहुत कम होती है। मगर एक बार जब यह इंसानी शरीर में पहुंच जाता है तो म्यूटेट होकर ढलने की कोशिश करता है। मानव शरीर के हिसाब से अपने आपको ढाल लेने के बाद यह अपनी संख्या बढ़ाने लगता है। ऐसे में मानव से मानव में संक्रमण भी तेज होने लगता है। वही कोरोना वायरस में फ्लू में कफ शुरू होते ही सिर और पूरे शरीर मे दर्द होने लगता है। साथ ही सारा लक्षण एक साथ दिखने लगता है। गले मे दर्द की बजह से आवाज बैठ जाती है। तेज बुखार आने लगता है। डाॅ. अजित कुमार सिंह ने बताया की एक्स क्रोमोजोम एवं सेक्स हार्मोन की वजह से अधिक प्रतिरोधक क्षमता होने के कारण कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका महिलाओं में कम होती है।

लोगों की स्क्रीनिंग करती मेडिकल टीम।

X
Jainagar News - over 1000 people were screened in the border areas of jayanagar

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना