कमला में कार्तिक पूर्णिमा पर डुबकी लगाने के लिए जुट रहे लोग

Madhubani News - एेतिहासिक कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर आस्था की डुबकी लगाने के लिये श्रद्धालुओं का पहुंचना शुरू हो गया है। कमला की...

Nov 11, 2019, 07:41 AM IST
एेतिहासिक कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर आस्था की डुबकी लगाने के लिये श्रद्धालुओं का पहुंचना शुरू हो गया है। कमला की ब्रिज घाट,पर्णकुटी घाट, कबीर घाट, काली घाट, डोरवार घाट समेत श्रद्घालुओं के लिए तैयार है। जयनगर बॉर्डर कार्तिक पूर्णिमा के रंगों रंग गए है। कही कलश यात्रा निकाली जा रही है तो कही भगवान की प्रतिमाओं का प्राण प्रतिष्ठा तो कही मेला तो कही सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन की जा रही है। चारो ओर भक्तिमय का वातावरण बना हुआ है। कमला ब्रिज स्थित पर्णकुटी परिसर में श्रद्घालुओं के ठहरने के लिए आयोजको के द्वारा सारी व्यवस्था पूरी कर ली है।

कलश यात्रा में शामिल महिलाएं।

एनएच के बगल में ऐतिहासिक मेला का आयोजन

मुख्यालय से करीब तीन किमी दूर एनएच के बगल स्थित शिलानाथ में तीन दिवसीय भव्य ऐतिहासिक मेला का आयोजन किया गया है। कई दशकों से यहाँ कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर भव्य मेला का आयोजन होता है। इस बार मेला स्थल के नजदीक आयोजक ने माँ लक्ष्मी एवं अन्य देवी देवताओं की प्रतिमाओ का विधि विधान के साथ प्राण प्रतिष्ठा किया गया। श्रद्घालु कमला में डुबकी लगाने के बाद शिलानाथ स्थित पौराणिक अंकुरित शिवलिंग का दर्शन एवं पूजा अर्चना कर भव्य मेला का आनन्द उठाते है।

सांस्कृतिक कार्यक्रम व मेला का आयोजन

कमला ब्रिज से करीब सात किमी दूर डोरवार तट पर ग्रामीणों ने आपसी सहयोग से कमला मइया, कोयरवीर, शिव दत्त,मां काली, मां दुर्गे एवं ब्रहाबाबा प्रतिमाओ का विधि विधान के साथ प्राण प्रतिष्ठा किया। प्रतिमाओ के प्राण प्रतिष्ठा करने वाले पंडितों में बीलटू मुखिया, बुधन मुखिया एवं देवकी देवी शामिल है। इससे से पहले कमिटी के सदस्य सुनील यादव, रामप्रीत यादव, सुन्नर मुखिया,देव नारायण यादव एवं रमेश यादव के नेतृत्व में 151 महिला श्रद्घालुओं ने कलश यात्रा निकाली। सिर पर कलश लिए महिला श्रद्घालुओं ने कमला तट पर अवस्थित गांवों में भ्रमण किया। डोरवार के वार्ड 17 एवं 18 के मध्य स्थित कमला तट पर उक्त प्रतिमाओ का प्राण प्रतिष्ठा किया गया है। पूर्व मुखिया राम बाबू यादव, बिहारी यादव समेत अन्य मौके पर मौजूद थे। आयोजक ने बताया की ऐतिहासिक कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर पांच दिवसीय सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं भव्य मेला का आयोजन किया गया है।

कहते हैं अधिकारी

एसडीओ शंकर शरण ओमी ने बताया कार्तिक पूर्णिमा के अवर पर श्रद्घालुओं की उमड़ने वाली भीड़ की देखते हुए सारी प्रशासनिक व्यवस्था पूरी कर ली गई है। सूचना तंत्र को और मजबूत कर हर गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा रही है। गड़बड़ी पैदा करने वालो को किसी भी सूरत में बक्सा नही जाएगा। प्रशासन पूरी तरह से अलर्ट है।

प्रशासन अलर्ट

कार्तिक पूर्णिमा को लेकर प्रशासन अलर्ट है। कमला ब्रिज घाट एवं एनएच के बगल में आयोजित ऐतिहासिक मेला स्थल पर मजिस्ट्रेट की प्रतिनियुक्ति की गई है। साथ ही पुलिस बल की भी प्रतिनियुक्ति की गई है। कमला ब्रिज घाट पर बेरिकेडिंग लगाए जायंगे। गोताखोर की व्यवस्था की गई है। विभिन्न घाटो एवं भीड़ भाड़ वाले जगहों पर एवं चौक चौराहे पर सादे लिवास में भी पुलिस भ्रमण करती रहेगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना