सर हमलोगों को बताएं कि 9 माह बिना वेतन के काम कराने के बाद क्यों बिना जानकारी के ही हटाया गया

Madhubani News - जिले के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत 77 अतिथि शिक्षकों ने जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय पर जमकर हंगामा...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 08:16 AM IST
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
जिले के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत 77 अतिथि शिक्षकों ने जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय पर जमकर हंगामा किया। इन शिक्षकों का कहना है कि इन लोगों को विभाग ने सेवामुक्त करने का आदेश कर हम सभी 77 अतिथि शिक्षकों व उनके परिवार को भूखमरी के कगार पर लाकर खड़ा कर दिया है। इस दौरान शिक्षकों ने प्रभारी डीईओ विद्यानंद ठाकुर के पैरों में गिरकर कहा कि सर कृपया हमलोगों को इस संबंध में जानकारी दें कि हमलोगों को 9 माह तक बिना वेतन के काम करवाने के बाद हम लोगों को सेवा से मुक्त क्यों कर दिया गया। अतिथि शिक्षकों ने यह भी कहा कि हमलोगों को मामले की जानकारी भी नहीं दी गई थी। हमलोगों को दैनिक भास्कर समाचार पत्र के माध्यम से इस संबंध में जानकारी प्राप्त हुई। इसके बाद जब हमलोग विद्यालय पहुंचे तो प्रधानाध्यापकों ने हमें हाजिरी बनाने से मना कर दिया। सुबह 9 बजे से ही अतिथि शिक्षक डीईओ कार्यालय पहुंचना शुरू हेा गए थे। अतिथि शिक्षकों का कहना था कि हमलोग सुबह से बिना कुछ खाए इस उम्मीद में हैं कि कहीं कोई सुनवाई हो जाए। साथ ही इनलोगों ने निर्णय वापस नहीं लेने पर आंदोलन की भी धमकी दी।

डीईओ के नाम दिया आवेदन

इस मौके पर डीईओ के नाम से द्वितीय लिस्ट में चयनित 77 शिक्षकों जिनकी सेवा समाप्त कर दी गई है ने आवेदन भी दिया।

जिले के उच्च माध्यमिक विद्यालयों में कार्यरत 77 अतिथि शिक्षकों ने डीईओ कार्यालय पर जमकर हंगामा किया, प्रभारी डीईओ विद्यानंद ठाकुर से की बात

रोते हुए शिक्षकों ने कहा: दैनिक भास्कर से मिली जानकारी, एचएम ने नहीं करने दिया साइन

प्रभारी डीईओ के पैरों में गिरकर मिन्नत करते अतिथि शिक्षक

लिखा जाएगा अनुरोध पत्र

प्रभारी डीईओ विद्यानंद ठाकुर ने मौके पर अतिथि शिक्षकों को शांत कराते हुए कहा कि डीईओ के आने के बाद इस संबंध में विभाग को अनुरोध पत्र भेजा जाएगा।



यह था मामला, इसलिए हंगामा

मालूम हो कि निदेशक माध्यमिक शिक्षा गिरिवर दयाल सिंह ने डीईओ को भेजे गए आदेश मंे कहा था कि 8 सितंबर के बाद जिन अतिथि शिक्षकों की सेवा लेने के संबंध में की गई समस्त कार्रवाई को निरस्त किया जाता है। साथ ही निदेशक ने यह भी कहा कि विभाग के निर्देशानुसार अतिथि शिक्षकों की सेवा लेने संबंधी समस्त कार्रवाई पांच अगस्त 2018 तक कर लेना था। जिसके आलोक में सभी विषयों को मिलाकर 150 अतिथि शिक्षकों के कार्यरत होने की सूचना डीईओ कार्यालय मधुबनी द्वारा 8 सितंबर को दी गई। जिसके आधार पर 8 सितंबर को जिले में कार्यरत 150 अतिथि शिक्षकों के पारिश्रमिक भुगतान के लिए विभाग द्वारा आवंटन उपल्बध कराया गया था। निदेशक ने लिखा है कि फिर जिला शिक्षा पदाधिकारी कार्यालय से 27 मार्च 2019 को मधुबनी जिले में 223 अतिथि शिक्षकों की कार्यरत होने की सूचना देते हुए 77 अतिरिक्त अतिथि शिक्षकों के पारिश्रमिक भुगतान के लिए आवंटन उपलब्ध कराने के लिए अनुरोध किया गया।


Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
X
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
Madhubani News - sir let us know why after 9 months without any salary why it was removed without information
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना