भाई बहन के अटूट प्रेम का पर्व समा चकेवा संपन्न

Madhubani News - मिथिलांचल के भाई बहन के अटूट प्रेम का पर्व समा चकेवा का समापन हाेगया। कार्तिक महीने के षष्ठी तिथि खरना की रात से...

Nov 12, 2019, 08:10 AM IST
Madhawapur News - the festival of unwavering love of siblings concludes
मिथिलांचल के भाई बहन के अटूट प्रेम का पर्व समा चकेवा का समापन हाेगया। कार्तिक महीने के षष्ठी तिथि खरना की रात से प्रारंभ यह पर्व पूर्णिमा की रात समाप्त हो जाती है। समा व चकेवा को जोते हुए खेत में विसर्जित कर दिया जाता है। दस दिनों से मिथिलांचल के घर आंगन, गलियां एवं धार्मिक स्थल देर रात तक बहनों द्वारा गाए जा रहे समा चकेवा के मनमोहक गीत से गुलजार रहता था। समा, चकेवा, चुगला, बृंदावन, ढोल, नगाड़े, बांसुरी, पौती, पेटारी, भैया बटतकनी, सत भैया सहित बेटियों को विदा करने वक्त दी जाने वाली सभी सामग्रियों की आकृति बनाकर पूजा की जाती है। अंतिम दिन विदाई के समय समदाउन गाकर आकर्षक शोभायात्रा के साथ भाइयों को कुल देवता के समक्ष छठ पर्व में बने ठेकुआ, चुरा, गुर आदि देकर गांव के बाहर विसर्जित कर दिया जाता है।

सामा-चकेबा खेलती बहनें।

X
Madhawapur News - the festival of unwavering love of siblings concludes
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना