विद्यापति जी ने शास्त्रीय भाषा के स्थान पर लोक भाषा को स्थापित किया

Madhubani News - मैथिली साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समिति के तत्वावधान मे प्राथमिक विद्यालय आदर्शनगर परिसर मे महाकवि विद्यापति का...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 08:20 AM IST
Madhubani News - vidyapati ji replaced folk language with classical language
मैथिली साहित्यिक एवं सांस्कृतिक समिति के तत्वावधान मे प्राथमिक विद्यालय आदर्शनगर परिसर मे महाकवि विद्यापति का स्मृति दिवस कार्यक्रम रविवार को आयोजित किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत सर्वप्रथम समवेत स्वर में विद्यापति रचित जय जय भैरवि गीत का गायन उपस्थित लोगों की ओर से प्रस्तुत करने के साथ हुआ। फिर आगत अतिथियों ने महाकवि के तैलचित्र पर पुष्पांजलि अर्पित किया‌। तत्पश्चात जीबछ ठाकुर की अध्यक्षता में विद्यापतिक कवित्व प्रतिभा पर संगोष्ठी हुआ। संगोष्ठी को सं‍बोधित करते हुए वरिष्ठ साहित्यकार दिलीप कुमार झा ने कहा, विद्यापति अपने समय के क्रान्तिकारी कवि थे जिन्होंने शास्त्रीय भाषा के स्थान पर ल़ोक भाषा को स्थापित किया। विद्यापति के पदाबली आज भी लोककंठ मे सुरक्षित है। संगोष्ठी को प्रो कुलधारी सिंह, गोपाल झा अभिषेक,अशोक कुमार झा,सतीशचन्द्र मिश्र,आशीष कुमार मिश्र,सुशील झा चुन्नू, झौली पासवान, मनोज दत्त,ज्योति रमण झा बाबा, सुभाष झा सिनेही,प्रभाष कुमार दमन,डा. श्रीदेव लाल कर्ण, आदि ने सं‍बोधित किया। जबकि इस का संचालन सचिव प्रजापति ठाकुर ने किया।

संगोष्ठी में उपस्थित साहित्यकार व अन्य।

X
Madhubani News - vidyapati ji replaced folk language with classical language
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना