• Hindi News
  • Bihar
  • Motihari
  • Motihari News 39shiva39s glory is different only through shiva it can be attained in the superiority of life39

‘शिव की महिमा निराली है, शिवत्व के माध्यम से ही प्राप्त हो सकती है जीवन में श्रेष्ठता’

Motihari News - 17 जुलाई से शुरू होगा भगवान शिव का प्रिय महीना सावन सिटी रिपोर्टर| मोतिहारी भगवान शिव का प्रिय महीना सावन 17...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:05 AM IST
Motihari News - 39shiva39s glory is different only through shiva it can be attained in the superiority of life39
17 जुलाई से शुरू होगा भगवान शिव का प्रिय महीना सावन

सिटी रिपोर्टर| मोतिहारी

भगवान शिव का प्रिय महीना सावन 17 जुलाई से प्रारंभ होगा। 15 अगस्त गुरुवार को श्रावणी पूर्णिमा व रक्षाबंधन पर्व के साथ सावन संपन्न हो जाएगा। हिन्दू पंचांग के अनुसार, चैत्र मास से आरंभ होने वाले वर्ष का पांचवां महीना श्रावण मास सबसे अधिक शुभकारी और पवित्र महीना माना गया है। श्रावण मास की पूर्णिमा पर आकाश मंडल में श्रवण नक्षत्र अपनी पूर्णता के साथ जगमगाता है। इसलिए इस माह को श्रावण मास कहा गया है। यह महीना भक्तों के लिए विशेष मुहूर्त से युक्त व मंगलकारी काल होता है।

वेद विद्यालय के प्राचार्य सुशील कुमार पांडेय ने बताया कि भगवान शिव की महिमा निराली है। प्रसन्न हुए तो कुबेर को देवताओं का कोषाध्यक्ष बना दिया, वहीं अश्विनी कुमारों को आयुर्वेद विद्या सौंप दी। वे महामृत्युंजय स्वरूप होकर भीषण रोग से मुक्ति दे देते हैं। जीवन में श्रेष्ठता शिवत्व के माध्यम से ही प्राप्त हो सकती है। मान्यता है कि इस माह में सम्पन्न किए जाने वाले सभी प्रयोग साधना सौभाग्य दायक होते हैं। पौराणिक मान्यता के अनुसार, मंदराचल पर्वत को धुरी बनाकर वासुकी नागों से बांधकर समुद्र मंथन श्रावण मास में ही सम्पन्न किया गया था। ऐसा माना जाता है कि श्रावण में शिव पृथ्वी पर भी विचरण करते हैं। इसलिए इन्हें प्रसन्न करने के लिए सभी शिवालयों या घरों में शिव पूजन व रुद्राभिषेक आदि अनुष्ठान सम्पन्न किए जाते हैं।

करते हैं मनोवांछित फल प्रदान| श्रावण मास में जो श्रद्धालु भगवान शिव का पूजन एवं रुद्राभिषेक आदि अनुष्ठान करते हैं,उनके लिए इस लोक और परलोक में कुछ भी दुर्लभ नहीं। इस मास में जो दान, व्रत, जप, होम आदि किया जाता है, उससे उमा-महेश्वर प्रसन्न होकर मनोवांछित फल प्रदान करते हैं।

X
Motihari News - 39shiva39s glory is different only through shiva it can be attained in the superiority of life39
COMMENT