शराब की सप्लाई लाइन को कट ऑफ करें, दुरुस्त करें पेट्रोलिंग की व्यवस्था

Motihari News - मुख्यमंत्री की अपराध समीक्षा बैठक के बाद सूबे में अपराध नियंत्रण को लेकर अधिकारियों दौरे शुरू हो गए हैं। लगातार...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 08:10 AM IST
Motihari News - cut off the supply line of alcohol repair the petrol system
मुख्यमंत्री की अपराध समीक्षा बैठक के बाद सूबे में अपराध नियंत्रण को लेकर अधिकारियों दौरे शुरू हो गए हैं। लगातार आलाधिकारी सूबे के अलग-अलग जगहों पर कैंप कर रहे हैं। वे पुलिस की जांच को गुणवत्ता पूर्ण करने व सशक्त करने के लिए दिशा-निर्देश दे रहे हैं। इसी कड़ी में गुरुवार को सीआईडी के एडीजी विनय कुमार मोतिहारी पहुंचे थे। उन्होंने एसपी कार्यालय में अधिकारियों के साथ बैठक की व कई दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि हर हाल में सुपरविजन समय पर देना होगा। जो अधिकारी इसमे कोताही बरतेंगे, उनपर गाज गिरनी तय है। इसके अलावा न्यायालय से निर्गत कुर्की की कार्रवाई अविलंब करें। कुर्की की कार्रवाई के दौरान पर्याप्त संख्या में पुलिस बल की मौजूदगी होनी चाहिए। साथ हीं फरार चल रहे अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए अभियान चलाएं। सभी थानों को पेट्रॉलिंग के लिए पर्याप्त संख्या में गाड़ी उपलब्ध कराई गई है। इससे अपने-अपने क्षेत्र में पुलिस गश्त बढ़ाएं।

सुपरविजन समय पर देना होगा, जो लापरवाही बरतेंगे, उनपर कार्रवाई होगी

अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करते सीआईडी के एडीजी विनय कुमार।

हरियाणा व पंजाब से हो रही थी शराब की सप्लाई

एडीजी ने बताया कि सूबे में शराब की सप्लाई हरियाणा व पंजाब से हो रही थी। इसपर कार्रवाई की गई है। सप्लाई लाइन को कट ऑफ किया गया है। तस्करी करने वाले गैंग के विरुद्ध कार्रवाई की गई है। कई लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

बैठक में ये थे शामिल

एसपी कार्यालय में एडीजी की बैठक में प्रभारी एसपी अशोक कुमार सिंह, एएसपी मुख्यालय शैशव यादव, सदर एसडीपीओ मुरली मनोहर मांझी, चकिया एसडीपीओ शैलेंद्र कुमार, सिकरहना एसडीपीओ आलोक कुमार सिंह, पकड़ीदयाल एसडीपीओ दिनेश कुमार पांडेय सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

15 जिला के 27 अनुमंडलों में एक लाख से अधिक केस पेंडिग

एडीजी ने बताया कि सूबे के 15 जिला में भारी संख्या में केस पेंडिंग चल रहा है। इन जिलों के 27 अनुमंडलों में एक लाख से अधिक केस सुपरविजन के अभाव में पेंडिंग है। सुपरविजन समय पर नहीं करने के कारण अपराध नियंत्रण पर भी असर पड़ रहा है। इसके लिए दोषी अधिकारियों पर कार्रवाई के लिए मुख्यालय को लिखा गया है। उन्होंने बताया कि जिन जिलों में हाल के दिनों में अपराध बढ़ा है, वहां अपराध नियंत्रण व मार्गदर्शन के लिए अधिकारियों को कैंप करने के लिए भेजा जा रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव के कारण केस पेंडेंसी बढ़ गई थी।

अपराध बढ़ना पुलिस के लिए चिंता का विषय, इसे रोकना जरूरी

एडीजी ने बताया कि अपराध बढ़ना पुलिस के लिए चिंता का विषय है। पुलिस अपराध के नियंत्रण के लिए कार्रवाई कर रही है। हालांकि हत्या, लूट, डकैती के मामले में कमी आई है।

X
Motihari News - cut off the supply line of alcohol repair the petrol system
COMMENT