चकाचक होंगे रसोईघर, बच्चों को मिलेगा ताजा खाना

Motihari News - एजुकेशन रिपोर्टर | मोतिहारी जिले के सभी सरकारी प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में रसोईघर व भंडारगृह को चकाचक बनाया...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 08:05 AM IST
Motihari News - gourmet kitchen kids get fresh food
एजुकेशन रिपोर्टर | मोतिहारी

जिले के सभी सरकारी प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में रसोईघर व भंडारगृह को चकाचक बनाया जाएगा। आवश्यकता के अनुरूप रसोईघरों के लिए बर्तन भी खरीदा जाएगा। बारिश व बाढ़ में बच्चों की अच्छी सेहत बनी रहे, इसे देखते हुए मध्याह्न भोजन पर विशेष फोकस किया जा रहा है। इस बीच बच्चों को स्कूल में मिलनेवाले मध्याह्न भोजन पर अधिकारियों की विशेष नजर रहेगी। इसके लिए 15 जुलाई से 31 अगस्त तक निरीक्षण अभियान चलेगा। इस संबंध में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव आरके महाजन ने जिला पदाधिकारी रमण कुमार को पत्र जारी किया है।

बरसात में बच्चों को गर्म व ताजा भोजन उपलब्ध कराना उद्देश्य | पत्र में लिखा है कि जिले के सभी प्राथमिक व मध्य विद्यालयों में मध्याह्न भोजन योजना संचालित है। यह योजना मुख्यत: विद्यालय शिक्षा समिति के द्वारा विद्यालय स्तर पर लागू है। इसके अंतर्गत विद्यालय में ही बच्चों को गर्म ताजा पका हुआ भोजन उपलब्ध कराया जाता है। विद्यालय स्तर पर साफ-सफाई के अभाव में अप्रिय घटनाओं की संभावना बनी रहती है। इससे बचाव अत्यंत आवश्यक है। बरसात व बाढ़ के समय यह और भी चुनौती भरा कार्य हो जाता है। इसी उद्देश्य से बरसात में 15 जुलाई से 31 अगस्त तक विशेष अभियान चलाकर रसोईघरों व भंडारगृहों का निरीक्षण किया जाएगा। इस अभियान के अंतर्गत प्रत्येक विद्यालय में साफ-सफाई व सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए आपकी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। इस अभियान को सफल बनाने के लिए जिला पदाधिकारी को यथोचित संसाधनों का उपयोग अपने स्तर से करने का निर्देश दिया गया है।

अभियान में शिक्षा विभाग के अधिकारियों की होगी भागीदारी

इस अभियान को सफल बनाने के लिए शिक्षा विभाग के सभी पदाधिकारियों व कर्मचारियों की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी। जिले के अन्य पदाधिकारी को भी जिला पदाधिकारी इस अभियान में शामिल कर सकते हैं। इसके लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी ललित नारायण रजक के सहयोग से विस्तृत योजना तैयार की जाएगी। इसमें जिला कार्यक्रम पदाधिकारी, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी, प्रखंड साधनसेवी, मध्याह्न भोजन योजना के समन्वयक, जिला कार्यक्रम प्रबंधक, जिला सधानसेवी की सेवाएं ली जा सकती हैं।

स्कूल में गंदगी पाई गई तो तत्काल सफाई कराएंगे निरीक्षी पदाधिकारी

निरीक्षण के दौरान यदि किसी विद्यालय में गंदगी पायी जाती है तो अधिकारी तत्काल साफ-सफाई कराएंगे। विद्यालय में सफाई कराने के बाद ही निरीक्षण कार्य पूर्ण माना जाएगा। साथ इस अभियान के तहत प्रत्येक विद्यालय का एक बार निरीक्षण अनिवार्य रूप से करना है। इस कार्य के लिए मध्याह्न भोजन योजना से संबधित कर्मियों व अधिकारियों को पहले से ही निरीक्षण कार्य के लिए टेबलेट उपलब्ध कराया जा चुका है। ये अधिकारी या कर्मचारी निरीक्षण के दौरान किचन शेड व भंडारगृह की फोटो एमआईएस की वेबसाइट पर अपलाेड करेंगे। इस अभियान की सफलता व गंभीरता को देखते हुए मध्याह्न भोजन योजना के निदेशालय में एक सेल का गठन किया गया है। डाटा ऑफिसर दिग्विजय कुमार को इसका प्रभारी बनाया गया है। इस अभियान का साप्ताहिक प्रतिवेदन जिला पदाधिकारी के माध्यम से निदेशालय को भेजा जाएगा। नियोजित शिक्षक संयुक्त संघर्ष मोर्चा पूर्वी चंपारण के सदस्य ओम प्रकाश सिंह ने सरकार के इस कदम की सराहना की है।

बर्तन खरीदने के लिए स्कूलों को मिलेंगे पांच से 25 हजार रुपए

मोतिहारी| मध्याह्न भोजन योजना के निदेशक विनोद कुमार सिंह ने डीपीओ एमडीएम राजकुमार शर्मा को पत्र भेजा है। वित्तीय वर्ष 2019-20 में मध्याह्न भोजन योजना के तहत किचन डिवाइस का रिप्लेसमेंट करने के लिए विद्यालयों को राशि उपलब्ध करायी जाएगी। संबंधित स्कूलों को बच्चों की संख्या के आधार पर राशि दी जाएगी। इसमें शून्य से 50 बच्चों की संख्या वाले स्कूलों को 10,000, 51 से 150 बच्चों की संख्या वाले विद्यालयों को 15,000 रुपए, 151 से 250 बच्चों की संख्या वाले विद्यालयों को 20,000 व 251 या अधिक बच्चों की संख्या वाले विद्यालयों को 25,000 रुपए देने का प्रावधान है।

X
Motihari News - gourmet kitchen kids get fresh food
COMMENT