होमियोपैथी पद्धति से कुष्ठ उपचार का अभियान शुरू

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
रक्सौल | अब होमियोपैथिक पद्धति द्वारा कुष्ठ रोगियों को इस खतरनाक रोग से मुक्ति दिलाई जाएगी। सीमा जागरण मंच के अध्यक्ष महेश अग्रवाल व लौकरिया पीएचसी प्रभारी डॉ राजेन्द्र प्रसाद सिंह के द्वारा रामबाबू अग्रवाल की स्मृति में कुष्ठ रोगियों के निशुल्क उपचार के लिए इस अभियान का शुरुआत किया गया। गुरुवार को लिटिल फ्लावर लेप्रोसी हॉस्पिटल सुंदरपुर में कुष्ठ रोगियों के बीच होमियोपैथिक दवा के प्रभाव को जानने के लिए दस मरीजों पर दवा का प्रयोग शुरू हुआ। शेख अलियास, शंभू पंडित, रहमान मियां, वकील मिया, बागड़, लक्ष्मण रजक, रियाजुद्दीन मिया, राम अयोध्या, महेंद्र दास नामक कुष्ट रोगियों के घावों की ड्रेसिंग एवं खाने वाले दवा को देकर इस कार्यक्रम की शुरुआत की गई। मौके पर लिटिल फ्लावर लेप्रोसी वेलफेयर संस्था के सचिव कृष्णा प्रसाद, ड्रेसर लालबाबू प्रसाद यादव, वीरबहादुर यादव, रामबाबू प्रसाद व कांता तिवारी उपस्थित थे। इस बाबत डॉ. राजेन्द्र प्रसाद सिंह ने बताया कि होमियोपैथिक दवा का असर इन कुष्ठ रोगियों पर बहुत अच्छा पड़ेगा।

खबरें और भी हैं...