पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Motihari News So Far Only 551 Of The 5586 Anganwadi Centers In The District Have Their Own Building

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अब तक जिले में स्वीकृत 5586 आंगनबाड़ी केंद्रों में से मात्र 791 के पास है अपना भवन

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्वी चंपारण जिले में आईसीडीएस के अंतर्गत संचालित आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति काफी बुरा है। जिले में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों व निर्मित भवनों की संख्या पर गौर करें, तो आंकड़े बेहद चौकाने वाले हैं। जिले में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या 5586 है।

जबकि अपना भवन वाला आंगनबाड़ी महज आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या मात्र 791 है। निर्माणाधीन भवनों की संख्या की बात करें, इसकी संख्या जिले में मात्र 192 है। जबकि कुल उपलब्ध भूमि वाले केन्द्रों की संख्या 1611 है तथा बिना भूमि वाले केंद्रों की संख्या 2992 है। इसमें विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए भवनों की संख्या मात्र 694 है, जबकि आंगनबाड़ी केंद्रों को सुपुर्द करने के लिए तथा लंबित भवनों की संख्या 97 है। इससे सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है कि जिले में स्थापित आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति कितनी अच्छी है। बिना भूमि वाले केंद्रों की संख्या की बात तो छोड़ ही दें, भूमि उपलब्ध होने के बावजूद भी जिले के 1611 आंगनबाड़ी केंद्र नहीं बन पाए हैं।

जिले में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या
जिले में 28 परियोजनाओं के लिए 5586 आंगनबाड़ी केंद्र आईसीडीएस विभाग की ओर से स्वीकृत किए गए हैं। इसमें आदापुर परियोजना में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या 220 है। जबकि अरेराज परियोजना में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या 187, बंजरिया में 172, बनकटवा में 132, चकिया में 235, चिरैया में 302, ढाका में 346, घोड़ासहन में 199, हरसिद्धि में 245, कल्याणपुर में 329, केसरिया में 228, कोटवा में 190, मधुबन में 174, मेहसी में 199, मोतिहारी ग्रामीण में 263, मोतिहारी सदर में 95, नरकटिया में 181, पहाड़पुर में 205, पकड़ीदयाल में 158, पताही में 193, फेनहारा में 85, पीपराकोठी में 86, रामगढ़वा में 226, रक्सौल में 230, संग्रामपुर में 179, सुगौली में 216, तेतरिया में 111 तथा तुरकौलिया में 200 आंगनबाड़ी केंद्र स्वीकृत किए गए हैं।

निर्माणाधीन भवनों की संख्या है 192
जिले में अभी तक मात्र 192 आंगनबाड़ी केंद्र के भवन निर्माणाधीन हैं। यदि देखा जाए तो 5586 स्वीकृत केंद्रों की संख्या के सामने निर्माणाधीन भवनों की संख्या का अनुपात मात्र कोरम पूरा करने के बराबर है। इसमें आदापुर में स्वीकृत 220 आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या की बजाय 7, अरेराज में 187 के बजाय 0, बंजरिया में 172 के बजाय 7, बनकटवा में 132 के बजाय 2 आंगनबाड़ी केंद्रों के भवन निर्माणाधीन हैं। लगभग देखा जाए तो, जिले की सभी परियोजनाओं में स्वीकृत आंगनबाड़ी केंद्रों की संख्या की बदौलत निर्माणाधीन भवनों की संख्या बहुत ही कम है।

निर्मित भवनों की संख्या है 791
जिले अब तक 791 आंगनबाड़ी केंद्र बनाए गए हैं। इसमें आदापुर में 24 आंगनबाड़ी केंद्र, अरेराज में 46, बंजरिया में 20, बनकटवा में 23, चकिया में 29, चिरैया में 12, ढाका में 12, घोड़ासहन में 41, हरसिद्धि में 68, कल्याणपुर में 48, केसरिया में 30, कोटवा में 29, मधुबन में 22, मेहसी में 46, मोतिहारी ग्रामीण में 79, नरकटिया में 14, पहाड़पुर में 63, पकड़ीदयाल में 21, पताही में 18, फेनहारा में 7, पीपराकोठी में 18, रामगढ़वा में 16, रक्सौल में 34, संग्रामपुर में 11, सुगौली में 13, तेतरिया में 14 तथा तुरकौलिया में 33 केंद्रों बनाए गए हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें