निजी स्वार्थ से ऊपर उठकर ही समाजसेवा सम्भव है : संतोष

Motihari News - संग्रामपुर| अपने निहित स्वार्थ से ऊपर उठकर जबतक समाज के भलाई के लिए नहीं सोचेंगे तब तक जनहित सम्भव नहीं है। उक्त...

Jan 16, 2020, 09:15 AM IST
Sangrampur News - social service is possible only after rising above personal selfishness satisfaction
संग्रामपुर| अपने निहित स्वार्थ से ऊपर उठकर जबतक समाज के भलाई के लिए नहीं सोचेंगे तब तक जनहित सम्भव नहीं है। उक्त बातें समाजसेवी मंगलापुर कठई निवासी संतोष ओझा ने मकर संक्रांति के अवसर पर ग्रामीणों को सं‍बोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि आज गांवों में अशिक्षा, बेरोजगारी आदि समस्याएं सुरसा की तरह मुहं बांए खड़ी हैं। युवा रोजगार के लिए भटक रहा है। यदि सरकारें सही नियत से कार्य करें तो हर साल जितनी राशि खर्च की जाती है उतने में कई समस्याओं का समाधान सम्भव है। उन्होंने आमजन से अपील भी किया कि स्वरोजगार की दिशा में स्वयं को आगे बढ़ाएं। गांव में उपलब्ध संसाधनों का उपयोग कर स्वरोजगार को विकसित किया जा सकता है। सरकार के द्वारा पशुपालन, मुर्गीपालन, मत्स्य पालन, समेकित खेती सहित कई तरह के योजनाओं को चलाया जा रहा है। मौके पर संतोष पांडेय, उमेश गिरी, मुकुल पांडेय, रंजित तिवारी, आनन्द पांडेय, कुंदन कुमार, राकेश द्विवेदी, आमोद ठाकुर, गुड्डू तिवारी, अजय तिवारी आदि उपस्थित रहे।

X
Sangrampur News - social service is possible only after rising above personal selfishness satisfaction
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना