• Hindi News
  • Bihar
  • Motihari
  • Raxaul News some kind of wrong intention cannot shore you up what is wrong in principle it cannot be right in practice also

किसी प्रकार की गलत मंशा आपको किनारे नहीं लगा सकतीं है जो बात सिद्धांत में गलत है, वह व्यवहार में भी सही नहीं हो सकती

Motihari News - राजकीय मध्य विद्यालय रेलवे में देस के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती मनाई गई। इस दौरान विद्यालय के...

Dec 04, 2019, 09:07 AM IST
राजकीय मध्य विद्यालय रेलवे में देस के पहले राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती मनाई गई। इस दौरान विद्यालय के छात्र- छात्राओं, शिक्षकों, सामाजिक संस्था के कार्यकर्ताओं व भाजपा कार्यकर्ताओं ने देशर| डॉ. राजेंद्र प्रसाद की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित किया। मौके पर बोलते हुए केसीटीसी महाविद्यालय के प्रोफेसर सह सरिसवा नदी बचाव संगठन के अध्यक्ष डाॅ अनिल सिन्हा ने कहा कि उनकी कई प्रेरणादायक बातें हैं। जैसे मंजिल को पाने की दिशा में आगे बढ़ते हुए याद रहे कि मंजिल की ओर बढ़ता रास्ता भी उतना ही नेक हो, किसी प्रकार की गलत मंशा आपको किनारे नहीं लगा सकतीं। जो बात सिद्धांत में गलत है, वह बात व्यवहार में भी सही नहीं हो सकती। हर किसी को अपनी उम्र के साथ सीखने के लिए खेलना चाहिए, जो करते हैं, उन सभी भूमिकाओं के बारे में सावधान रहना चाहिए। संभावना के अध्यक्ष भरत गुप्ता ने कहा कि डॉ. राजेन्द्र प्रसाद का व्यक्तित्व विनम्रता और विद्वता से भरा था। समारोह की अध्यक्षता युवा सहयोग दल के अध्यक्ष सुमित कुमार ने किया। धन्यवाद ज्ञापन महासचिव संतोष कुमार ने किया। मौके पर रक्सौल भाजपा के जिला इकाई के प्रवक्ता सह भाजयुमो के क्षेत्रीय प्रभारी गुड्डू सिंह, जिला अध्यक्ष प्रो मनीष दूबे, डॉ हजारी प्रसाद, प्रधानाध्यापक गोपाल प्रसाद, भारत विकास संस्था के रजनीश प्रियदर्शी, सांसद प्रतिनिधि राज किशोर राय, ई. दुर्गेश साह, भाजपा नगर अध्यक्ष कन्हैया सर्राफ, अवधेश कुमार, अभिजीत कुशवाहा, प्रमोद कुमार, सूरज गुप्ता, नीरज कुशवाहा, सुरेश बाबा, अभिषेक वर्णवाल, राम शर्मा, प्रमोद गुप्ता, राकेश वर्मा, प्रवीण सिंह, वार्ड पार्षद प्रेम कुशवाहा, आकाश कुमार, मनोरमा कुमारी, ममता मल्लिक, कुमारी इंदु, राज वर्मा, अरुण कुमार, अनमोल तिवारी, निशांत सिन्हा, मोनू तिवारी, मनीष कुमार, संजू कुमार, सूरज कुमार, प्रकाश श्रीवास्तव आदि बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। इस अवसर पर स्कूली बच्चों के बीच गुड्डू श्रीवास्तव, धीरज श्रीवास्तव, प्रकाश श्रीवास्तव ने टाॅफी वितरण किया गया।

मोतिहारी में राजेंद्र प्रसाद की मूर्ति पर माल्यार्पण करने के साथ जगह-जगह निकाली गई प्रभातफेरी

देश के प्रथम राष्ट्रपति डाॅ. राजेंद्र प्रसाद की 135वीं जयंती हर्ष के साथ मनाई गई

मोतिहारी | प्रथम राष्ट्रपति डा. राजेंद्र प्रसाद की गायत्री मंदिर स्थित स्मारक स्थल में मंगलवार को 135 वीं जयंती मनायी गई। इसके बाद दोपहर में गांधी संग्रहालय में राष्ट्रपति के जीवन चरित्र व देश के लिए उनके योगदान पर चर्चा की गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता राय सुुंदरदेव शर्मा ने की। अपने अध्यक्षीय भाषण में श्री शर्मा ने देशर| की उपेक्षा पर दुख व्यक्त किया तथा उन्हें देश का हितैषी बताते हुए विस्तार से उनके जीवन पर प्रकाश डाला। विशिष्ट अतिथि सह गांधीवादी ब्रजकिशोर सिंह ने देशर| के चंपारण में किए कार्यों की याद दिलाते हुए उनकी निर्भीकता पर चर्चा की तथा सोमनाथ मंदिर निर्माण में उनकी गौरवपूर्ण भूमिका का उल्लेख किया। इस दौरान सर्वसम्मति से देशर| की जयंती मेधा दिवस के रूप में भारत सरकार से मनाने की मांग की गई। सभा को पूर्व प्राचार्या शशिकला, अशोक वर्मा, हरिश्चंद्र शर्मा, साजिद रजा राजेश अस्थाना, मुन्ना जी, ओम वर्मा, अमन कुमार राज, आलोक कुमार, विनोद कुमार श्रीवास्तव आदि ने संबोधित किया। मौके पर आशा कुमारी, उषा वर्मा, प्रतिमा वर्मा, अंजनी श्रीवास्तव, देवाशीष मित्रा, अरबिन्द श्रीवास्तव, अरूण दूबे, प्रमोद कुमार, डा. उमेश आदि उपस्थित थे।

शिक्षण संस्थानों में याद किए गए देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेंद्र प्रसाद

मोतिहारी | शहर के विभिन्न शिक्षण संस्थानों व स्कूलों में देश के प्रथम राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती समारोहपूर्वक मनायी गयी। शहर के श्रीमहावीर मध्य विद्यालय लुअठहां में डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती मनायी गयी। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी समग्र शिक्षा राजकुमार शर्मा, जिला कार्यक्रम पदाधिकारी साक्षरता अश्विनी कुमार व प्राचार्य बलिराम सिंह ने डॉ राजेंद्र प्रसाद के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें याद किया। वही बरियारपुर स्थित वीके इंटरनेशनल पब्लिक स्कूल में डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती समारोहपूर्वक मनायी गयी। अध्यक्षता स्कूल के चेयरमैन विनय कुमार शर्मा ने की। उन्होंने कहा कि राजेंद्र बाबू सच्चे अर्थों में भारत माता के सपूत थे। उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन देश की सेवा में लगा दिया। स्कूल के प्राचार्य अंजनी अशेष ने कहा कि राजेंद्र बाबू सच्चाई, त्याग व सादगी के प्रतिपूर्ति थे। उनके जीवन से बच्चों को प्रेरणा ग्रहण करनी चाहिए। वही एबीसी एजुकेशनल इंस्टीट्यूट के बच्चों ने डॉ. राजेंद्र प्रसाद की जयंती पर प्रभातफेरी निकाली। इस दौरान बच्चे उनसे संबंधित नारे लगा रहे थे। बच्चों ने शिक्षकों के नेतृत्व में स्कूल से प्रभातफेरी निकाली।

जदयू के कार्यकर्ताओं ने मनाई राजेंद्र प्रसाद की जयंती

मोतिहारी | गायत्री नगर स्थित राजेंद्र बाल उद्यान में पूर्व राष्ट्रपति देश र| डॉ राजेंद्र प्रसाद की जयंती हर्षोल्लास के साथ मनाई गई। जदयू के साहेबगंज विधान सभा प्रभारी बबन कुशवाहा ने पुष्प अर्पित कियाञ मौके पर बबलू श्रीवास्तव, सहजाद, खान, प्रो दयानंद, साेना श्रीवास्तव, आलोक श्रीवास्तव, विनोद श्रीवास्तव, मंटू श्रीवास्तव, रंजीत सिंह, अशोक श्रीवास्तव, संगीता चिंत्राश, अरविंद कुमार, सुनीता कुमारी, जितेंद्र कुमार सिंह उर्फ बब्लू, वंदना कुमारी आदि मौजूद थे।

डाॅ. राजेंद्र प्रसाद के पद चिह्नों पर चलें : हिमकर

रक्सौल | मंगलवार को डॉ राजेंद्र प्रसाद की 135वीं जयंती पर प्रोफेसर कॉलोनी में स्थित साहित्यिक चेतना मंच के कार्यालय में विचार गोष्ठी हुआ। उक्त अवसर पर बोलते हुए मंच के केंद्रीय अध्यक्ष डॉक्टर हरींद्र हिमकर ने कहा कि यह दुख की बात है कि संविधान सभा को नेतृत्व देने वाले और अपने समय के अनन्य प्रतिभा के धनी प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी में से एक चंपारण सत्याग्रह के देशर| डॉ राजेंद्र प्रसाद को देश ने विस्मृत करना शुरू कर दिया है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना