मायके जा रही थी महिला, खरकटवा के समीप बच्चा चाेर बता लोगों ने की पिटाई

Motihari News - बच्चा चोर का झूठा अफवाह फैला कर कतिपय लोग कानून को अपने हाथों में लेने लगे हैं। इनका ज्यादातर शिकार मानसिक रूप से...

Bhaskar News Network

Sep 14, 2019, 06:30 AM IST
Adapur News - woman was going to maiden people beat her up near kharkatwa
बच्चा चोर का झूठा अफवाह फैला कर कतिपय लोग कानून को अपने हाथों में लेने लगे हैं। इनका ज्यादातर शिकार मानसिक रूप से विक्षिप्त अथवा अर्ध विक्षिप्त महिलाएं हो रही हैं। कारण कि कुछ असामाजिक लोगों के द्वारा यह अफवाह फैलाया गया है कि बच्चा चोर गिरोह सक्रिय है। हालाकि यह कोरा अफवाह है। इस अफवाह में कोई दम भी नहीं है। फिर भी इस अफवाह की आड़ में कतिपय लोग अपने निजी विद्वेष को भी साधने में लग गए हैं। इस प्रकार की एकाध घटना सामने भी आ चुकी हैं। कोई अन्जान विक्षिप्त महिला किसी गांव से होकर गुजरती है तो कुछ लोग इसको बच्चा चोर गिरोह का सदस्य मानकर मारने पीटने लगने लगे हैं। कुछ लोग इसके आड़ में निजी विद्वेष को भी साध रहे हैं। ऐसे लोगों के मंसूबे इसलिए फल फूल रहे हैं क्योंकि इनके विरुद्ध अभी तक कोई ठोस कार्यवाही नहीं हो सकी है। गुरुवार की संध्या इसी प्रकार की एक घटना पलनवा थाना क्षेत्र के खरकटवा गांव के समीप घटित हुई। इसका शिकार लक्ष्मीना देवी नाम की एक महिला हो गई। वह आदापुर थाना के चिकनी ग्राम निवासी है जो रामगढ़वा थाना अंतर्गत बंधुबरवा गांव स्थित अपने मायके शंभू राम के घर आ रही थी। आने के क्रम में वह उक्त गांव के समीप एक पुल पर बैठकर अपने पास रखे सेब को खाने लगी। कुछ बच्चे भी उसके पास आ गए। उक्त महिला ने उन बच्चों को भी अपना जूठा सेब खाने को देने लगी। तभी यह मामला गांव तक पसर गया और लोग इकट्ठे होने लगे। उसके बाद बच्चा चोर मान कर उसकी पिटाई भी करने लगे। पलनवा पुलिस को इस घटना की जानकारी मिली तो वह घटनास्थल पर पहुंचकर उक्त महिला को अपने कब्जे में लिया।

विक्षिप्त महिला किसी गांव से होकर गुजरती है, लोग उड़ा देते अफवाह

लोगों के बीच विक्षिप्त महिला, जिसे बच्चा चोर कर पीटा।

अफवाह के आधार पर किसी को भी कानून को अपने हाथ में लेने का अधिकार नहीं, इसकी जानकारी पुलिस को दें : संजीव कुमार सिंह

इस संदर्भ में थानाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह ने बताया कि यह आपराधिक मामला है। अफवाह के आधार पर किसी को भी कानून को अपने हाथ मे लेने का अधिकार नहीं है।अर्ध विक्षिप्त महिला के साथ ग्रामीणों ने मारपीट की है परंतु उसके परिजनों द्वारा प्राथमिकी के लिए कोई आवेदन नहीं दिया गया है।अगर आवेदन प्राप्त होता है तो ऐसे असामाजिक लोगों पर कड़ी कार्यवाही की जाएगी। थानाध्यक्ष संजीव कुमार सिंह ने इस प्रकार की घटना को कोरा अफवाह बताया और कहा कि बच्चा चोरी का मामला बिल्कुल भी बुनियादी बातें हैं। कुछ असामाजिक तत्वों के द्वारा इस प्रकार का अफवाह फैला कर अपना निजी स्वार्थ साधने की कोशिश की जा रही है। हालांकि पुलिस सक्रिय है। थानाध्यक्ष ने आम लोगों से आह्वान किया कि अगर इस प्रकार की शंका किसी महिला अथवा पुरुष पर होती है तो इसकी सूचना पुलिस को देनी चाहिए। लोग कानून को अपने हाथ में नहीं लें वरना पुलिस इनके विरुद्ध आपराधिक मामला दर्ज कर कठोर कार्यवाही करेगी।

इधर, कुंडवा चैनपुर में बच्चा चोरी के आरोप में 30 वर्षीय युवक को पीटा

कुंडवा चैनपुर|खरूही गांव में मानसिक रूप से विक्षिप्त एक 30 वर्षीय युवक को ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ कर जमकर पीटा।शुक्रवार की सुबह शौच के लिए जा रहे ग्रामीणों ने एक युवक को रेलवे ट्रैक के पास बैठा देख उसे बच्चा चोर समझ उसकी पिटाई की। सूचना पर कुंडवा चैनपुर थानाध्यक्ष संजीव रंजन ने युवक को अपने कब्जे में ले लिया। जिससे उसकी जान बच गई। पूछताछ के दौरान युवक ने अपना नाम आदापुर थाना क्षेत्र के शेखवा टोला निवासी ललन कुमार बताया। परिजनों ने बताया कि ललन का मानसिक संतुलन बिगड़ गया है। वह पिछले तीन दिनों से घर से गायब है। जिसे वे लोग खोज रहे थे।

X
Adapur News - woman was going to maiden people beat her up near kharkatwa
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना