56 घंटे बाद पीर बाबा स्थान घोरघट में मिला गंगा में डूबे बालक का शव

Munger News - छठ पर्व पर उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के दौरान बंगाली टोला गंगा घाट में डूबे बंगाली टोला निवासी नंदलाल मंडल के 11...

Nov 06, 2019, 06:35 AM IST
Bariarpur News - after 56 hours the dead body of a boy immersed in the ganges was found in the place of pir baba
छठ पर्व पर उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के दौरान बंगाली टोला गंगा घाट में डूबे बंगाली टोला निवासी नंदलाल मंडल के 11 वर्षीय पुत्र निवास मंडल का शव 56 घंटे के बाद पीर बाबा स्थान घोरघट के समीप घाट किनारे निकला। पीर बाबा स्थान के समीप शव होने की सूचना मिलने पर परिजन वहां पहुंचे और शव की पहचान की। शव मिलने की सूचना के साथ ही परिजनों में कोहराम मच गया।

बता दें कि शव की तलाश के एसडीआरएफ की टीम रविवार व सोमवार को अथक प्रयास करती रही, लेकिन गंगा से शव को बाहर नहीं निकाला जा सका। स्थानीय ग्रामीणों के साथ परिजनों ने बताया कि काफी खोजबीन के बाद शव बरामद नहीं होने पर प्रशासन के अधिकारी असमंजस में थे कि बालक डूबा है या नहीं। इधर शव की बरामदगी के साथ ही बंगाली टोला के ग्रामीण घोरघट के समीप गंगा घाट पर उमड़ पड़े।

बच्चे का शव मिलने से पहले बालक की बरामदगी को लेकर पिता नंदलाल मंडल के साथ मां संगीता देवी, दादी सुनीता देवी व ग्रामीण महिला बीणा देवी, रिंकू देवी, गीता देवी ने बंगाली टोला गंगा घाट पर मां गंगा की पूजा की। गंगा में घंटों खड़े रहकर बालक के बरामद होने की कामना के साथ मां गंगा की पूजा-अाराधना की। मां गंगा मैया के पानी को छूकर अपने पुत्र के बरामद होने की आशीष मांग रही थी।

पारण के दिन डूबने से हुई थी 11 वर्षीय बालक की मौत

शव की शिनाख्त करते परिजन व ग्रामीण।

शव बरामदगी के लिए गंगा की अराधना करते लोग।

पूजा के कुछ ही देर बाद मिली सूचना

इस क्रम में बड़ी संख्या में स्थानीय महिलाएं भी गंगा किनारे मां गंगा पर आधारित गीत गा रही थी। गंगा पूजन के महज कुछ ही घंटों के बाद पीर बाबा स्थान घोरघट में गंगा घाट के किनारे एक शव होने की सूचना मिली। जिसकी पहचान परिजनों ने निवास मंडल के रूप में की।

प्रशासनिक अधिकारियों की खामियों के कारण हुई बालक की मौत: ग्रामीण

विदित हो कि प्रशासनिक उदासीनता के कारण बंगाली टोला के अतिसंवेदनशील गंगा घाट पर उदीयमान सूर्य को अर्घ्य के दौरान गहरे पानी में चले जाने के कारण बंगाली टोला निवासी नंदलाल मंडल के 11 वर्षीय पुत्र निवास कुमार गहरे पानी में डूब गया और उसकी मौत हो गई। जिस जगह बालक डूबा था उक्त स्थान पर कटावरोधी कार्य के तहत जियो बैग बिछाया गया था। कटावरोधी कार्य जहां तहां ध्वस्त होने के कारण घाट अतिसंवेदनशील हो गया था। घाट खतरनाक होने के बावजूद प्रखंड के अधिकारियों ने घाट पर बांस की बेरिकेडिंग करना या नेट लगाना उचित नहीं समझा। जिस कारण अर्घ्य के दौरान बालक गहरे पानी में चला गया और डूबने से उसकी मौत हो गई।

Bariarpur News - after 56 hours the dead body of a boy immersed in the ganges was found in the place of pir baba
X
Bariarpur News - after 56 hours the dead body of a boy immersed in the ganges was found in the place of pir baba
Bariarpur News - after 56 hours the dead body of a boy immersed in the ganges was found in the place of pir baba
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना