फर्जी छात्र पर कार्रवाई नहीं होने से न्याय मिलने में हो रही देरी : प्रवीण

Munger News - जन्म तिथि तथा बोर्ड बदलकर दो बार मैट्रिक की परीक्षा में शामिल होने वाले फर्जी परीक्षार्थी प्रभात रंजन पिता प्रेम...

Nov 11, 2019, 07:41 AM IST
जन्म तिथि तथा बोर्ड बदलकर दो बार मैट्रिक की परीक्षा में शामिल होने वाले फर्जी परीक्षार्थी प्रभात रंजन पिता प्रेम शंकर मंडल पर बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने प्रमाण पत्र को रद्द करते हुए 8 अप्रैल 2019 को डीईओ मुंगेर को प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया था। डीईओ दिनेश चौधरी ने विगत सितंबर माह में जमालपुर बीईओ को जमालपुर के छात्र प्रभात रंजन पिता प्रेम शंकर मंडल पर प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया था।

बीईओ के आवेदन पर जमालपुर पुलिस ने संबंधित विद्यालय के धरहरा थाना क्षेत्र में स्थित होने की बात कह कर धरहरा थाना में प्राथमिकी दर्ज कराने को कहा था। इसके बाद डीईओ ने इस मामले में एसपी को पत्र लिखा। एसपी ने 17 अक्टूबर को घटनास्थल धरहरा में होने की बात कह धरहरा थाना में आरोपी के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया था। डीईओ ने विगत 19 अक्टूबर को इसके संबंध में धरहरा बीईओ को आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया। अब तक आरोपी पर प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई जा सकी है। आवेदक प्रवीण चौरसिया ने बताया कि मामले में अधिकारियों द्वारा त्वरित कार्रवाई नहीं किए जाने से न्याय मिलने में विलंब हो रहा है। विदित हो कि परीक्षा समिति ने उच्च विद्यालय फुलका जमालपुर के प्रधानाध्यापक प्रेम शंकर मंडल के पुत्र प्रभात रंजन को परीक्षा समिति को धोखा में रखते हुए दो अलग-अलग बोर्ड से जन्म तिथि बदलकर परीक्षा में शामिल होने का मामला प्रमाणित पाया था। परीक्षा समिति ने परीक्षा समिति की नियमावली के अनुसार प्रभात रंजन के वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2005 के परीक्षाफल को रद्द करने का निर्णय लिया था तथा जारी अंक पत्र एवं मूल प्रमाण पत्र के प्रयोग को अवैध घोषित करते हुए डीईओ को छात्र पर प्राथमिकी दर्ज कराने का निर्देश दिया था।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना