मस्तिष्क ज्वर / मुजफ्फरपुर में 12 और बच्चों ने दम ताेड़ा; 41 नए भर्ती, 8वीं तक के स्कूल 22 जून तक बंद



एसकेएमसीएच में मरीजों का हाल जानते स्वा स्थ्य मंत्री मंगल पांडेय। एसकेएमसीएच में मरीजों का हाल जानते स्वा स्थ्य मंत्री मंगल पांडेय।
एसकेएमसीएच में मस्तिष्क ज्वर रोगी। एसकेएमसीएच में मस्तिष्क ज्वर रोगी।
रेफर मरीज इस तरह ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ पहुंचे एसकेएमसीएच। रेफर मरीज इस तरह ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ पहुंचे एसकेएमसीएच।
एसकेएमसीएच में इलाज के बाद ठीक हो रही संतान को दुलारती मां। एसकेएमसीएच में इलाज के बाद ठीक हो रही संतान को दुलारती मां।
गायघाट में पीएचसी में बच्चे का इलाज करते चिकित्सक। गायघाट में पीएचसी में बच्चे का इलाज करते चिकित्सक।
सीएचसी साहेबगंज में बच्चा। सीएचसी साहेबगंज में बच्चा।
X
एसकेएमसीएच में मरीजों का हाल जानते स्वा स्थ्य मंत्री मंगल पांडेय।एसकेएमसीएच में मरीजों का हाल जानते स्वा स्थ्य मंत्री मंगल पांडेय।
एसकेएमसीएच में मस्तिष्क ज्वर रोगी।एसकेएमसीएच में मस्तिष्क ज्वर रोगी।
रेफर मरीज इस तरह ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ पहुंचे एसकेएमसीएच।रेफर मरीज इस तरह ऑक्सीजन सिलिंडर के साथ पहुंचे एसकेएमसीएच।
एसकेएमसीएच में इलाज के बाद ठीक हो रही संतान को दुलारती मां।एसकेएमसीएच में इलाज के बाद ठीक हो रही संतान को दुलारती मां।
गायघाट में पीएचसी में बच्चे का इलाज करते चिकित्सक।गायघाट में पीएचसी में बच्चे का इलाज करते चिकित्सक।
सीएचसी साहेबगंज में बच्चा।सीएचसी साहेबगंज में बच्चा।

  • एसकेएमसीएच में 9 व केजरीवाल अस्पताल में 3 बच्चाें की हुई माैत 
  • स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने अस्पताल में भर्ती बच्चाें का हाल जाना

Dainik Bhaskar

Jun 15, 2019, 04:51 AM IST

मुजफ्फरपुर. मस्तिष्क ज्वर (एईएस) का कहर जारी है। शुक्रवार काे इलाज के दाैरान 12 और बच्चाें ने दम ताेड़ दिया। शाम छह बजे तक एसकेएमसीएच में 9 व केजरीवाल अस्पताल में 3 बच्चाें की माैत हुई। इसके साथ ही एसकेएमसीएच में 35 व केजरीवाल अस्पताल में बीमारी से ग्रसित 6 नए बच्चे भर्ती हुए। कुल 41 नए बच्चाें का इलाज चल रहा है।

 

स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ाें के अनुसार एसकेएमसीएच व केजरीवाल अस्पताल काे मिला कर अब तक 250 बच्चे भर्ती हुए हैं। बीमारी काे लेकर राज्य से लेकर राष्ट्रीय स्तर पर हलचल मची हुई है। शुक्रवार काे स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने विभाग के अधिकारियाें के साथ एसकेएमसीएच में चल रही इलाज की व्यवस्था व भर्ती बच्चाें का जायजा लिया। 


27 बच्चों के स्वास्थ्य में सुधार

एसकेएमसीएच मेें 9 बच्चे व केजरीवाल अस्पातल में 5 बच्चाें की हालत गंभीर बनी हुई है। एसकेएमसीएच में 27 ऐसे बच्चे हैं, जिन्हें स्वास्थ्य में सुधार हाेने पर आइसीयू से बाहर जेनरल वॉर्ड में रखा गया। 9 सीनियर रेजिडेंट व 15 जूनियर रेजिडेंट के साथ एक पूरी टीम इलाज में जुटी है। सीएस डाॅक्टर शैलेश प्रसाद सिंह ने बताया कि सदर अस्पताल में 8 बेड तैयार हैं। वहीं, केजरीवाल अस्पताल में पहले से 27 बेड हैं।

 
स्वास्थ्य मंत्री ने इलाज की व्यवस्था काे बेहतर बताया

शुक्रवार काे बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने एसकेएमसीएच पहुंच कर पीड़ित बच्चाें का जायजा लिया। आईसीयू में इलाज की व्यवस्था काे देखने के साथ अभिभावकों से बात की। प्रेस वार्ता के दौरान मंत्री ने बताया कि प्राेटाेकाॅल के तहत बेहतर इलाज हाे रहा है। डॉक्टरों की जाे केंद्रीय टीम आई थी, उन्हाेंने भी संताेषजनक रिपाेर्ट की है। उन्होंने बताया कि अभी तक एसकेएमसीएच में 178 बच्चे भर्ती हुए, जिसमें 52 की माैत हाे चुकी है। वहीं, केजरीवाल अस्पातल में 11 बच्चाें की माैत हुई है। लेकिन, रिसर्च के बाद जाे एडवायजरी जारी की जा रही है, उसकाे फाॅलाे किया जाए ताे काफी हद तक इस बीमारी पर काबू पाया जा सकता है। मुजफ्फरपुर के साथ 12 जिले अलर्ट पर हैं।

 

मुजफ्फरपुर में 8वीं तक के सभी स्कूल 22 जून तक बंद 
भीषण गर्मी, लू के साथ ही बच्चों में एईएस के कहर काे देखते हुए अब 22 जून तक जिले के सभी सरकारी व निजी स्कूलों में कक्षा आठ तक की पढ़ाई नहीं हाेगी। कक्षा नौ व दस के बच्चों की क्लास भी सुबह 6.30 बजे से 10.30 बजे तक ही हाेगी। डीएम के आदेश के बाद डीईओ ने सभी स्कूलों के प्राचार्यों काे यह सूचना दी है। मुजफ्फरपुर जिले में 15 जून तक गर्मी की छुट्टी थी। 17 जून से स्कूल खुलने वाले थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना