‘भिखारी ठाकुर ने भोजपुरी संस्कृति काे नया जीवन दिया’

Muzaffarpur News - भाेजपुरी के वरिष्ठ प्राे. जयकांत सिंह जय ने कहा कि भिखारी ठाकुर ने भोजपुरी संस्कृति काे नया जीवन दिया। उन्होंने...

Jul 14, 2019, 08:10 AM IST
भाेजपुरी के वरिष्ठ प्राे. जयकांत सिंह जय ने कहा कि भिखारी ठाकुर ने भोजपुरी संस्कृति काे नया जीवन दिया। उन्होंने अकेले अपने प्रयास से इस विमुख हाेती भाषा काे खास बना कर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान बनायी। प्राे. सिंह एलएस काॅलेज के इतिहास एवं भोजपुरी विभाग की अाेर से भिखारी ठाकुर पर केंद्रित संगोष्ठी में बाेल रहे थे। उन्होंने जीवन के विभिन्न पहलुओं एवं उनकी रचनाओं की प्रासंगिकता पर चर्चा करते हुए कहा कि उनकी कृति के चलते ही उन्हें भोजपुरी का शेक्सपीयर कहा जाता है। वह भोजपुरी के समर्थ लोक कलाकार होने के साथ ही रंगकर्मी, लोक जागरण के संदेश वाहक, नारी विमर्श और दलित विमर्श के उद्घोषक, लोक गीत तथा भजन कीर्तन के अनन्य साधक भी रहे हैं। उन्होंने भिखारी ठाकुर के गीतों का सुमधुर गायन भी किया। इतिहासकार डाॅ. गजेंद्र कुमार की अध्यक्षता में डाॅ. मंजरी वर्मा, डाॅ. शिव दीपक शर्मा, डाॅ. विजय कुमार, डाॅ. राजीव कुमार, डाॅ. जफर सुल्तान, डाॅ. अालाेक, ललित किशाेर, अजय कुमार अादि ने विचार रखे। मंच संचालन डाॅ. पुष्पा कुमारी एवं धन्यवाद ज्ञापन डाॅ. राजीव कुमार ने किया।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना