‘491 वर्ष के युद्ध का समापन हाे गया और धार्मिक सद्भाव का भी उद्घाटन हाे गया...’

Muzaffarpur News - अयाेध्या प्रसाद खत्री साहित्यिक सेवा संस्थान की अाेर से मासिक गाेष्ठी सिटी रिपाेर्टर|मुजफ्फरपुर अयाेध्या...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 09:06 AM IST
Muzaffarpur News - 39the 491 year war has ended and religious harmony has also been inaugurated 39
अयाेध्या प्रसाद खत्री साहित्यिक सेवा संस्थान की अाेर से मासिक गाेष्ठी

सिटी रिपाेर्टर|मुजफ्फरपुर

अयाेध्या प्रसाद खत्री साहित्यिक सेवा संस्थान की अाेर से गांधी पुस्तकालय में मासिक गाेष्ठी का अायाेजन किया गया। इस दाैरान कवि, शायराें ने रचनाअाें का पाठ कर लाेगाें का दिल जीत लिया। रामउचित पासवान ने अपनी रचना जुस्तजू में ताे चला शहर बहाराें का... से गाेष्ठी की शुरुअात की। अालाेक कुमार अभिषेक ने हिंदू, मुस्लिम काेई भी हाे, सबसे पहले इंसान है...का पाठ किया। हरिनारायण गुप्ता ने अयाेध्या मामले पर सुप्रीम काेर्ट के फैसले पर कविता से सबका मन माेह लिया। उन्हाेंने कहा कि- 491 वर्षाें के युद्ध का अब समापन हाे गया, धार्मिक सद्भाव का भी उद्घाटन हाे गया...। ठाकुर विनय कुमार शर्मा ने जाएं अब अाैर कहां काैन सी अदालत में, यार ने छाेड़ी नहीं इस असर अदावत में..., उमेश राज ने हम बिहारी हैं हां हम बिहारी हैं..., जगदीश शर्मा ने या अल्ला एे क्या गजब हाे गया, रक्खा खाली अाला, रामलला हाे गया... रचनाअाें से प्रभावित किया। इस माैके पर सुमन कुमार मिश्र, अाचार्य चंद्रकिशाेर पाराशर, नागेंद्र नाथ अाेझा, अंजनी कुमार पाठक, सत्यनारायण मिश्र, सत्येन्द्र कुमार सत्येन्द्र, अनिल कुमार अादि माैजूद थे।

X
Muzaffarpur News - 39the 491 year war has ended and religious harmony has also been inaugurated 39
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना