--Advertisement--

4 दिवसीय महापर्व आज से; अधिकतर घाट तैयार लेकिन पहुंच पथों पर कचरा व कंकड़-पत्थर-रेत

सूर्योपासना का 4 दिवसीय महापर्व रविवार से शुरू हो जाएगा। घाटों पर तैयारी काफी हद तक पूरी हो गई है। सीढ़ी घाट समेत कई...

Dainik Bhaskar

Nov 11, 2018, 04:00 AM IST
Muzaffarpur - 4 day majors today most ferries are ready but garbage and pebbles and sandstone on the access path
सूर्योपासना का 4 दिवसीय महापर्व रविवार से शुरू हो जाएगा। घाटों पर तैयारी काफी हद तक पूरी हो गई है। सीढ़ी घाट समेत कई घाट चकाचक हो चुके हैं। लेकिन, पहुंच पथों पर कूड़ा-कचरा, कंकड़-पत्थर और रेत हैं। यदि दो दिनों में इनका निराकरण नहीं किया गया तो व्रती व श्रद्धालुओं को इन्हीं से होकर आस्था के महापर्व के लिए घाटों पर जाना पड़ेगा।

अखाड़ाघाट पुल पर गंदगी का अंबार लगा है। यूं तो घाट जाने के रास्ते को जेसीबी से समतल कर दिया गया है। मगर, घाट के रास्तों समेत शहर में चौतरफा गंदगी फैली हुई है। उधर, सिकंदरपुर घाट के आसपास भी शनिवार को नदी किनारे कचरा फैला दिखा। अखाड़ाघाट निवासी आशुतोष पंडित ने कहा कि नदी के उत्तर घाट तो साफ हैं, पर लाइटिंग की सुविधा पर्याप्त नहीं होने व पहुंच पथ के सही नहीं होने से व्रतियों समेत श्रद्धालुओं को परेशानी होगी। इधर, पोखरों को संवारने का काम शनिवार को युद्ध स्तर पर होता रहा। साहू पोखर की सीढ़ियों के रंग-रोगन के साथ रंग-बिरंगी लड़ियां लगाई जा रही हैं। पड़ाव पोखर पर घाट की साफ-सफाई हो चुकी है। आमगोला रोड से पोखर तक दूधिया रोशनी से जगमगाने की तैयारी है। घाट पर रंगीन बल्ब लगेंगे। ओवरब्रिज के आगे भव्य द्वार बना है। हालांकि, पोखर में पानी काफी कम है और सफाई के बाद भी कुछ लोग कचरा फेंकने से बाज नहीं आ रहे।

कमेटी के सदस्यों का कहना है कि पोखर से नीम चौक की आेर जाने वाली सड़क जर्जर होने के कारण श्रद्धालुओं को काफी परेशानी होगी। इस मार्ग में जगह-जगह नाले का स्लैब टूटा है। ऐसे में दुर्घटना की भी आशंका बनी रहेगी। मार्ग में कचरे का भी अंबार है। गंदगी से होकर ही लोगों को जाना होगा। विश्वविद्यालय आवास स्थित पोखर घाट जाने के रास्ते को भी अच्छी तरह से समतल नहीं किए जाने से आक्रोश है।

साफ-सफाई के बाद चकाचक सीढ़ीघाट, इधर पहुंच पथों का ये है हाल

सुरक्षा के लिए तैनात किए गए 446 दंडाधिकारी व पुलिस अधिकारी

मुजफ्फरपुर | महापर्व को लेकर सुरक्षा के भी व्यापक इंतजाम हैं। 223 जगह 446 दंडाधिकारी व पुलिस अधिकारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। घाटों पर पटाखे नहीं जलाने देने व निजी नावों के परिचालन पर रोक के सख्त आदेश हैं। पर्व में शहर के सभी प्रमुख छठ घाटों पर 17 स्थानों पर बनाए मिनी नियंत्रण कक्ष की स्थापना कर विशेष निगरानी की जाएगी। पर्व में सुरक्षा के दृष्टिकोण से जिला दंडाधिकारी मो. सोहैल ने घाटों पर पटाखा छोड़ने व बेचने पर प्रतिबंध लगाया है। 13 व 14 नवंबर को सभी महत्वपूर्ण स्थानों के साथ छठ घाटों पर दंडाधिकारी व पुलिस पदाधिकारियों के साथ सशस्त्र बल की तैनाती की गई है। शहर के प्रमुख छठ घाटों पर मिनी नियंत्रण कक्ष स्थापित कर प्रशासन ने होर्डिंग व बैनरों के माध्यम से भी लोगों को सुरक्षा से संबंधित जानकारी देने के निर्देश दिए हैं। घाटों पर व्रतियों के साथ ही आम लोगों को परेशानियों से बचाने के लिए अधिक दलदल वाले घाटों पर छठ पर्व नहीं मनाने को कहा गया है। गहरे घाटों की बैरिकेडिंग करने के निर्देश नगर निगम को दिए गए हैं।

किसी तरह की परेशानी होने पर इन नंबरों पर करें फोन

मुजफ्फरपुर | प्रशासन ने जिले के पूर्वी अनुमंडल क्षेत्र में 104 स्थानों पर तो पश्चिमी अनुमंडल के 119 स्थानों पर दंडाधिकारी और पुलिस बल की तैनाती की है। लोगों से किसी प्रकार की कठिनाई होने पर जिला नियंत्रण कक्ष के साथ ही स्थापित किए गए नियंत्रण कक्ष को सूचना देने के लिए कहा गया है। यह सूचना जिला नियंत्रण कक्ष के दूरभाष 0621-2212377 एवं 2216275 पर दी जा सकती है। छठ के दौरान विधि व्यवस्था पर नियंत्रण के लिए वरीय प्रभार में अपर समाहर्ता डाॅ. रंगनाथ चौधरी व पुलिस अधीक्षक राकेश कुमार प्रभार में रहेंगे।

जारी नंबर्स : 0621-2212377, 2216275

छठ के दौरान सभी प्रमुख घाटों पर तैनात रहेगी मेडिकल टीम

मुजफ्फरपुर | सभी प्रमुख घाटों पर मेडिकल टीम रहेगी, ताकि जरूरत पर फौरन चिकित्सा सुविधा दी जा सके। टीम संग एंबुलेंस व पर्याप्त दवाएं रहेंगी। शहरी क्षेत्र के 5 प्रमुख घाटों सिकंदरपुर सीढ़ीघाट, आश्रम घाट, लकड़ीढाही घाट, साहू पोखर घाट व अखाड़ाघाट पर चिकित्सकों व पारा मेडिकल स्टॉफ की प्रतिनियुक्ति शनिवार को की गई। टीमें 12 नवंबर 14 नवंबर तक प्रतिनियुक्त रहेंगी। सिविल सर्जन डॉ. शिवचंद्र भगत ने सभी पीएचसी प्रभारी और सदर अस्पताल के अधीक्षक को निर्देश जारी किया है।

प्रभारियों को अलर्ट जारी : जिले के सभी पीएचसी, अनुमंडलीय, रेफरल व सदर अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी से लेकर उपाधीक्षकों को अलर्ट जारी किया गया है। सिविल सर्जन ने निर्देश जारी कर कहा है कि छठ के दौरान हमेशा सजग रहें। मेडिकल टीमों पर नजर रखें। अस्पताल के ओटी को भी व्यवस्थित रखेंगे।

सभी सेक्शन में 3-3 टीम में बिजलीकर्मियों की तैनाती

मुजफ्फरपुर | छठ में बेहतर बिजली आपूर्ति को लेकर सभी सेक्शन में तीन-तीन टीमों का गठन करने का निर्देश दिया गया है। एक टीम के साथ जूनियर इंजीनियर खुद पावर सबस्टेशन में तैनात रहेंगे। जबकि, दूसरी टीम महत्वपूर्ण छठ घाट व तीसरी टीम भ्रमणशील रहेगी। 24 घंटे कंट्रोल रूम चालू रहेगा। विभागीय अधिकारी के मुताबिक सभी बिजली सेक्शन में लाइनमैन की पहले से तैनाती है। उसी को तीन अलग-अलग सेक्शन में बांट दिया गया है। जूनियर इंजीनियर उसकी मॉनिटरिंग करेंगे। पर्याप्त बिजली दी जाएगी। घाटों पर बिजली अधिकारी स्वयं तैनात रहेंगे। आपात स्थिति से निपटने के लिए विशेष टीम घाट पर रहेगी।

Muzaffarpur - 4 day majors today most ferries are ready but garbage and pebbles and sandstone on the access path
X
Muzaffarpur - 4 day majors today most ferries are ready but garbage and pebbles and sandstone on the access path
Muzaffarpur - 4 day majors today most ferries are ready but garbage and pebbles and sandstone on the access path
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..