पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

औराई में चेचक से 41 बच्चे बीमार, गांव में दहशत

3 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • आरएसजीवाई की टीम ने बीमार बच्चों का किया इलाज, दो दर्जन बच्चों में मिजिल्स के लक्षण भी मिले

मुजफ्फरपुर. औराई प्रखंड के सरहंचिया पंचायत अंतर्गत पटोरी महादलित टोला व करहट्टी गांव में चेचक के प्रकोप से 41 बच्चे अक्रांत हैं। एक माह से इस गांव में चेचक की बीमारी फैली हुई है। लेकिन स्वास्थ्य विभाग इससे अंजान बना हुआ है। इतनी बड़ी संख्या में बच्चों के बीमार होने से गांव में हड़कंप व्याप्त है। पीड़ित बच्चों के परिवार काफी दहशत में है। इधर, सूचना मिलने पर गुरुवार को आरएसजीवाई की टीम ने प्रभावित टोला व गांव का जायजा लिया। 

 

टीम में शामिल डॉ. प्रमोद कुमार ने बताया कि 15 से 20 बच्चे चेचक से पीड़ित हैं। इनका निजी तौर पर उपचार पहले से हुआ है। इनमें लगभग दो दर्जन बच्चों में मिजिल्स के लक्षण पाए गए हैं। इनका उपचार कर पीड़ित परिवार को साफ-सफाई रखने की सलाह दी गई है। टीम में अमर कुमार, एएनएम पूजा कुमारी शामिल थीं। 

 

ग्रामीणों ने बताया कि बुखार आने के बाद पूरे शरीर पर दाने आने लगते हैं। इसमें पिन्टू मांझी, किशन मांझी, रवि मांझी, सोनू मांझी, अनरजीत मांझी, लालो कुमारी सहित दर्जन भर से अधिक बच्चों में चेचक पाए गए। पटोरी महादलित टोला में अधिकांश निर्धन लोग हैं। बता दें कि, डीएम की पीएचसी की जांच में खस्ता हाल होने व हमेशा बंद रहने की बात सामने आई थी। वहीं, इसी गांव में पोलियो का टीका दिए जाने के बाद 4 बच्चों की मौत हो गई थी।